रोहित शर्मा और विराट कोहली को T20 वर्ल्ड कप 2024 क्यों खेलना चाहिए? सुरेश रैना ने बताई बड़ी वजह 

रोहित शर्मा और विराट कोहली का वनडे वर्ल्ड कप में जबरदस्त प्रदर्शन रहा था
रोहित शर्मा और विराट कोहली का वनडे वर्ल्ड कप में जबरदस्त प्रदर्शन रहा था

भारत के टी20 सेट-अप में सीनियर खिलाड़ी रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और विराट कोहली (Virat Kohli) को होना चाहिए या नहीं, इसको लेकर काफी चर्चा हो रही है। कुछ लोग नए खिलाड़ियों को मौका देने की बात कह रहे हैं, जबकि कुछ ने इन दिग्गजों को एक और मौका देने की बात कही है। अब इस चर्चा में सुरेश रैना (Suresh Raina) ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है और उन्होंने रोहित और विराट की सबसे छोटे फॉर्मेट में वापसी का समर्थन किया है और इन दोनों को ही टी20 वर्ल्ड कप 2024 (T20 World Cup 2024) के लिए अहम बताया है।

रोहित शर्मा और विराट कोहली टी20 वर्ल्ड कप 2022 के बाद से ही भारत के लिए सबसे छोटे फॉर्मेट में खेलते नहीं दिखे हैं। हालाँकि, दक्षिण अफ्रीका दौरे के बाद इन दोनों ने खुद को टी20 फॉर्मेट के लिए उपलब्ध बताया था और चयनकर्ताओं ने दोनों को अफगानिस्तान के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के लिए शामिल किया। हालाँकि, कोहली निजी कारणों की वजह से पहले मैच के लिए उपलब्ध नहीं हैं।

सुरेश रैना का मानना है कि इन दोनों को वापस लाना बीसीसीआई का समझदारी भरा फैसला है जिससे पता चलता है कि वहां की परिस्थितियों का अनुभव भारतीय टीम के लिए कितना महत्वपूर्ण हो सकता है। उनका मानना है कि भारत को रोहित और कोहली के अनुभव और गुणवत्ता का फायदा ही मिलेगा। पीटीआई के हवाले से रैना ने कहा,

अगर आप वर्ल्ड कप वेन्यू (अमेरिका और वेस्टइंडीज) को देखो तो विकेट थोड़े मुश्किल होंगे। भारत को वहां रोहित और कोहली के अनुभव की जरूरत होगी। कोहली टी20 क्रिकेट में 12000 रन बनाने वाले हैं। इसलिए, इन दोनों की मौजूदगी भारत की बल्लेबाजी को मजबूती प्रदान करेगी।

विराट कोहली की बल्लेबाजी पोजीशन को लेकर भी सुरेश रैना ने दी राय

विराट कोहली को लेकर कई रिपोर्ट्स आ रही हैं कि उन्हें रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग के विकल्प के रूप में शामिल किया जा सकता है लेकिन रैना का मानना है कि रोहित को यशस्वी जायसवाल के साथ ही पारी की शुरुआत करनी चाहिए। बाएं हाथ के खिलाड़ी के मुताबिक, विराट को नंबर 3 पर ही बल्लेबाजी करनी चाहिए। उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि कोहली को नंबर 3 पर बल्लेबाजी करनी चाहिए। उनका अनुभव कुछ मजबूती लाएगा, खासकर अमेरिका और कैरेबियाई की चुनौतीपूर्ण पिचों में। जायसवाल, रिंकू सिंह या शुभमन गिल जैसे निडर और युवा क्रिकेटर हैं लेकिन रोहित और कोहली टीम को काफी मजबूती देंगे। जब हम लक्ष्य का पीछा करते हैं तो वर्ल्ड कप जैसे टूर्नामेंट में उनकी मौजूदगी काफी अहम होती है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar