सुरेश रैना का चौंकाने वाला बयान, कहा ग्रेग चैपल ने भारतीय टीम को जीतना सिखाया था

सुरेश रैना 2006 में एक मैच के दौरान
सुरेश रैना 2006 में एक मैच के दौरान

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुरेश रैना (Suresh Raina) ने टीम इंडिया के कोच रहे ग्रेग चैपल को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने चैपल के कोचिंग की काफी तारीफ की और कहा कि वो एक ऐेसे कोच थे जिन्होंने टीम इंडिया को जीतना सिखाया था।

डेली मेल में छपी खबर के मुताबिक सुरेश रैना ने ग्रेग चैपल का जिक्र अपनी ऑटोबायोग्राफी में किया है। उन्होंने इस दौरान बताया कि चैपल की कोचिंग कैसी थी। सुरेश रैना ने बताया,

ग्रेग चैपल तकनीक पर काफी जोर देते थे। वो हमेशा सॉफ्ट खेलने की बजाय आक्रामक क्रिकेट खेलने के लिए कहते थे। इसकी वजह से हमारा कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया। ट्रेनिंग के बाद वो युवा प्लेयर्स से खासतौर पर बात करते थे और साइकोलॉजिकल तौर पर उनको तैयार करते थे। वो बताते थे कि मैदान में चीजों को कैसे हैंडल करना है। इस दौरान मीडिया पर भी चर्चा होती थी। इससे हमें काफी मदद मिली थी।

ये भी पढ़ें: सुरेश रैना ने बताया कि जब सौरव गांगुली को हटाकर राहुल द्रविड़ को कप्तान बनाया गया था तब टीम में कैसा माहौल था

ग्रेग चैपल डोमेस्टिक क्रिकेट पर काफी जोर देते थे - सुरेश रैना

सुरेश रैना के मुताबिक ग्रेग चैपल को कोच बनाना काफी शानदार फैसला रहा। उन्होंने हमेशा डोमेस्टिक क्रिकेट पर जोर दिया। रैना ने आगे कहा,

गेम में सुधार के लिए चैपल हमेशा ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट खेलने के लिए कहते थे। वो रणजी ट्रॉफी को काफी ज्यादा महत्व देते थे और कई बार उसके मैच भी देखने जाया करते थे। बहुत कम ही इंटरनेशनल कोच ऐसा करते हैं।

सुरेश रैना के मुताबिक उन्होंने ग्रेग चैपल से काफी कुछ सीखा। भले ही उनको लेकर कितने सारे विवाद हुए हों लेकिन उन्होंने भारत को जीतना सिखाया और जीत का महत्व बताया।

ये भी पढ़ें: भारत की दो टीमों के बीच हुए इंट्रा-स्क्वॉड मैच की हाईलाइट, के एल राहुल ने रविंद्र जडेजा की गेंद पर लगाया छक्का

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता