Create

गौतम गंभीर ने सबसे पहले बुलाया था 'SKY', सूर्यकुमार यादव ने सुनाई अपने निकनेम की मजेदार कहानी

सूर्यकुमार यादव ने गौतम गंभीर की कप्तानी में केकेआर के लिए खेला था
सूर्यकुमार यादव ने गौतम गंभीर की कप्तानी में केकेआर के लिए खेला था

आईपीएल (IPL) के माध्यम से हमें कई प्रतिभाएं मिली हैं और उन्हीं में एक नाम सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) का है, जो पिछले कुछ समय से लीग के बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार हुए हैं। सूर्यकुमार यादव को उनके निकनेम 'SKY' से पुकारा जाता है लेकिन यह नाम उन्हें किसने दिया है, इस बारे में आप लोगों में से कुछ को ही पता होगा।

यह निकनेम सूर्यकुमार यादव को 2014 में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम में मिला था और इस नाम को रखने वाले और कोई नहीं, उस समय के टीम के कप्तान गौतम गंभीर थे।

गंभीर ने केकेआर की टीम में काफी मौके दिए और उन्हें अपने हुनर को साबित करने का मौका दिया। वहीं से इस बल्लेबाज की कहानी बदली और आगे जाकर उन्हें इस लीग में ज्यादा सफलता हासिल हुई।

गौरव कपूर के यूट्यूब शो 'ब्रेकफास्ट विद चैंपियंस' में यादव ने खुलासा किया कि कैसे केकेआर के पूर्व कप्तान ने उनका नाम 'SKY' रखा था। उन्होंने याद करते हुए कहा,

जब मैं 2014 में केकेआर गया था तो गौती भाई ने मुझे पीछे से दो-तीन बार 'SKY' कहा था। मैंने ध्यान नहीं दिया। फिर उन्होंने कहा, 'मैं आपको ही बुला रहा हूं। अपने नाम के शुरूआती अक्षर देखें!' तभी मुझे एहसास हुआ कि हाँ यह 'SKY' है।
youtube-cover

सचिन तेंदुलकर के साथ अपने बॉन्ड को लेकर भी सूर्यकुमार ने दी प्रतिक्रिया

सचिन तेंदुलकर और सूर्यकुमार यादव
सचिन तेंदुलकर और सूर्यकुमार यादव

सूर्यकुमार यादव मुंबई के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं और इसी वजह से स्वाभाविक तौर पर उनके ऊपर भी महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का गहरा प्रभाव है। यादव ने तेंदुलकर के साथ का एक किस्सा साझा किया और बताया कि दिग्गज ने उन्हें मुंबई इंडियंस के ड्रेसिंग रूम में अपने बगल में बैठाया था और वह तब से वहीं बैठते हैं। उन्होंने कहा,

जब मैं पहली बार एमआई ड्रेसिंग रूम में गया, तो बैठने के लिए कोई जगह नहीं थी। मैं अपने किट बैग के साथ खड़ा था। तेंदुलकर एक गणेश की मूर्ति के पास बैठते थे। उन्होंने मुझे अपने पास बैठने के लिए कहा और तब से मैं वहीं बैठता हूँ। अगर भगवान ने आपको अपने पास बैठने के लिए कहा है, तो हमेशा ऐसा ही करें।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment