Create

"मोहम्‍मद आमिर ने गलती की, उन्‍हें माफी मांगना चाहिए", पूर्व पाकिस्‍तानी क्रिकेटर ने निकाली भड़ास

मोहम्‍मद आमिर और हरभजन सिंह के बीच हुआ जोरदार विवाद
मोहम्‍मद आमिर और हरभजन सिंह के बीच हुआ जोरदार विवाद
reaction-emoji
Vivek Goel

पाकिस्‍तान (Pakistan Cricket team) के पूर्व स्पिनर सईद अजमल (Saeed Ajmal) का मानना है कि मोहम्‍मद आमिर (Mohammad Amir) को भारतीय (India Cricket team) क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) के साथ ट्विटर पर विवाद के लिए माफी मांगना चाहिए।

टी20 वर्ल्‍ड कप 2021 में भारत को पाकिस्‍तान से शिकस्‍त मिली थी, जिसके बाद आमिर ने हरभजन को ट्विटर पर तंज कसते हुए कहा, 'हरभजन पाजी ने टीवी नहीं तोड़ा अपना?'

मैच के पहले हरभजन सिंह और शोएब अख्‍तर ने एक-दूसरे पर दोस्‍ताना मजाकिया तंज कसे थे। मगर मैच के बाद आमिर ने भारतीय क्रिकेटर की खिंचाई की। हरभजन सिंह ने इन चीजों को हल्‍के में नहीं लिया और आमिर को मैच फिक्सिंग की याद दिलाई।

इस विवाद पर प्रतिक्रिया देते हुए अजमल ने कहा कि आमिर को अख्‍तर और हरभजन के बीच नहीं आना चाहिए था। क्रिकेट पाकिस्‍तान से बातचीत में पूर्व ऑफ स्पिनर ने आमिर को हरभजन सिंह से माफी मांगने की सलाह दी।

उन्‍होंने कहा, 'खिलाड़‍ियों को एक-दूसरे से अच्‍छे से बातचीत करना चाहिए क्‍योंकि खेल लोगों को करीब लाता है। मेरे ख्‍याल से आमिर ने अख्‍तर और हरभजन के बीच बातचीत में दखलंदाजी करके गलती की और उन्‍हें इसके लिए माफी मांगना चाहिए। यह दो महान क्रिकेटरों के बीच की बातचीत थी और आमिर ने शामिल होकर गलत किया।'

भारत की टी20 वर्ल्‍ड कप में हार के बाद हरभजन सिंह ने पाकिस्‍तान को जीत की शुभकामनाएं दी थी। उन्‍होंने स्‍वीकार किया था कि पाकिस्‍तान ने बेहतर खेल दिखाया था।

खिलाड़ी खेल खेलते हैं, धर्म नहीं खेलता: सईद अजमल

भारत की पाकिस्‍तान के हाथों हार के बाद अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी को ऑनलाइन आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। कई लोगों ने उनके धर्म पर निशाना साधते हुए प्रतिबद्धताओं पर सवाल खड़ा किया था। यहीं नहीं, शमी का समर्थन करने के बाद भारतीय कप्‍तान विराट कोहली की 9 महीने की बेटी को बलात्‍कार की धमकियां मिली थीं।

इस बारे में भारत करते हुए अजमल ने फैंस से टीम का समर्थन करने का आग्रह किया। उन्‍होंने सलाह दी कि धर्म के आधार पर खिलाड़‍ियों से सवाल नहीं किया जाना चाहिए।

अजमल ने कहा, 'खिलाड़ी खेल खेलते हैं, धर्म नहीं खेलता। खिलाड़‍ियों को उनके धर्म के आधार पर परेशान करना सही नहीं। अगर ऐसी चीजें होती हैं तो भविष्‍य की पीढ़ी खेल को अपनाने में डरेंगी। खिलाड़‍ियों को गद्दार कहा जाता है। कोहली की 9 महीने की बेटी को बलात्‍कार की धमकियां मिल रही हैं। यह खेल है, जहां एक टीम जीतेगी और एक को हारना होगा। भारत ने कुछ मैचों में खराब प्रदर्शन किया। मगर आप पूरे साल में उनके आंकड़ों पर ध्‍यान दें तो पाएंगे कि वह सबसे सफल टीम है।'


Edited by Vivek Goel
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...