Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

मोहम्मद आमिर (Mohammad Amir)


ABOUT
BATTING STATS

GAME TYPE M INN RUNS BF NO AVG SR 100s 50s HS 4s 6s CT ST
ODIs 61 30 363 444 10 18.15 81.76 0 2 73 32 8 8 0
TESTs 36 67 751 1980 11 13.41 37.93 0 0 48 91 3 5 0
T20s 48 14 59 72 6 7.38 81.94 0 0 21 2 3 4 0
BOWLING STATS

GAME TYPE M INN OVERS RUNS WKTS AVG ECO BEST 5Ws 10Ws
ODIs 61 60 502 2400 81 29.63 4.78 30/5 1 0
TESTs 36 67 1269 3627 119 30.48 2.86 44/6 4 0
T20s 48 48 175 1224 59 20.75 6.97 13/4 0 0
ABOUT

बाउंसर और स्विंग है घातक

मोहम्मद आमिर पाकिस्तान के बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं । उनका जन्म 13 अप्रैल 1992 को पाकिस्तान के पंजाब में हुआ था। वह बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं, जो नियमित रूप से 140-145 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं। उनकी बाउंसर और घातक स्विंग गेंदबाजी अक्सर बल्लेबाजों को परेशान करती है।




वसीम अकरम ने पहचानी प्रतिभा

आमिर जब महज 11 साल के थे, तब 2003 में उन्होंने पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी आसिफ बाजवा द्वारा स्थापित बाजवा खेल अकादमी में प्रवेश लिया था। 2007 में तेज गेंदबाजी शिविर के दौरान पूर्व दिग्गज और तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने उनकी प्रतिभा को पहचाना और उन्हें चुना। बाद में उन्हें इंग्लैंड दौरे पर पाकिस्तान अंडर-19 क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। इस दौरान उन्होंने 16.37 की औसत से 8 विकेट झटके थे।


2008 में पाकिस्तान अंडर-19 टीम ने श्रीलंका में एक त्रिकोणीय सीरीज खेली। आमिर ने इसमें एक बार फिर अपनी स्विंग और उछाल की मदद से तीन मैचों में 11.22 के औसत से 9 विकेट लिए। मार्च 2008 में उन्होंने रावलपिंडी राम्स के लिए अपना पहला घरेलू मैच खेला। साथ ही वह नेशनल बैंक ऑफ़ पाकिस्तान के लिए भी खेल रहे थे। अपने शुरुआती घरेलू सत्र में वह एनबीपी के लिए 55 विकेट लेकर एक तेजतर्रार गेंदबाज के रूप में उभरे।


दूसरी गेंद पर लिया पहला अंतरराष्ट्रीय विकेट

आमिर ने 7 जून 2009 को इंग्लैंड के खिलाफ आईसीसी वर्ल्ड टी-20 में पदार्पण किया था, जब वह सिर्फ 17 साल के थे। उन्होंने पहला अंतरराष्ट्रीय विकेट अपनी दूसरी गेंद पर लिया और पहले ओवर में केवल 1 रन दिए।


10वें नंबर पर नाबाद 73 रन बनाए

आमिर शुरुआती करियर में तेजी से लोकप्रिय हुए थे। अपने सफल विश्व टी-20 टूर्नामेंट के बाद उन्होंने 30 जुलाई 2009 को श्रीलंका के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था। इस मैच में उन्होंने तीन विकेट झटके और 23 रन भी बनाए। न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने वनडे मैच में 10वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 73 रन बनाए, जो उस समय एक विश्व रिकॉर्ड था।


टेस्ट में किया बेहतरीन प्रदर्शन

श्रीलंका के खिलाफ अपने पहले टेस्ट में उन्होंने 6 विकेट लिए। उसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए पाकिस्तान को कई साल बाद जीत हासिल करवाई। उन्होंने मैच में 7 विकेट झटके, जिसकी वजह से उन्हें मैन ऑफ द मैच पुरस्कार से नवाजा गया। 2010 में पाकिस्तान ने टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड का दौरा किया। पाकिस्तान यह सीरीज 3-1 से हार गई थी लेकिन आमिर एक स्टार कलाकार के रूप में उभरे। उन्होंने सीरीज में 19 विकेट लिए और 67 रन बनाए।


मैच फिक्सिंग की वजह से रहे प्रतिबंधित

आमिर एक असाधारण खिलाड़ी थे। लेकिन 2010 में इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच में वो स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त पाए गए थे।

29 अगस्त 2010 को उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया और पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया।


2017 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन

बैन के बाद आमिर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार वापसी की। उन्होंने 2017 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन किया। फाइनल में खेलते हुए उन्होंने रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली का विकेट लिया और टीम को जीत दिलाई। इसे उन्होंने अपना ड्रीम ओवर माना था।


पाकिस्तान सुपर लीग में ली हैट्रिक

29 जनवरी 2015 को आईसीसी ने प्रतिबंध की आधिकारिक समाप्ति से पहले उन्हें घरेलू क्रिकेट खेलने की अनुमति दी थी। इसके परिणामस्वरूप चटगाँव वाइकिंग्स ने उन्हें 2015 में बांग्लादेश प्रीमियर लीग के लिए अनुबंधित किया। उन्हें पाकिस्तान सुपर लीग में कराची किंग्स ने भी अपनी टीम में शामिल किया। 2016 में उन्होंने हैट्रिक ली। आमिर ने 2017 के इंग्लिश काउंटी सीजन में भी एसेक्स का प्रतिनिधित्व किया था।

Fetching more content...