पाकिस्तान में क्रिकेट मैच के दौरान आतंकी हमला

कराची स्टेडियम (सांकेतिक फोटो)
कराची स्टेडियम (सांकेतिक फोटो)

पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर 2009 में हुए आतंकी हमले के बाद से क्रिकेट की पूर्ण रूप से बहाली नहीं हो पाई है। हालांकि कुछ छोटी टीमों ने वहां जाकर सीरीज खेली है है। पाकिस्तान में एक बार फिर क्रिकेट मैच पर आतंकी हमला हुआ है। पाकिस्तान में एक जिले में चल रहे मुकाबले पर आतंकियों ने हमला करते हुए गोलियां बरसाई। यह घटना पाकिस्तान क्रिकेट के लिए सही नहीं कही जा सकती।

खैबर पख्तूनख्वा राज्य के ओराक्जई जिले में अमन क्रिकेट टूर्नामेंट नाम से आयोजन हो रहा था। फाइनल मुकाबले के दौरान आतंकियों ने हमला कर अँधाधुंध गोलियां बरसाई। बताया जा रहा है कि मैदान के पास ही स्थित पहाड़ियों में आतंकी छिपे हुए थे। घटना के दौरान दर्शकों और पत्रकारों सहित खिलाड़ियों ने भी वहां से भागकर जान बचाई। घटना के दौरान किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

यह भी पढ़ें: बायो सिक्योर्ड बबल की पूरी जानकारी, आईपीएल में लागू

पाकिस्तान में श्रीलंका पर भी हुआ था हमला

खबरों के अनुसार ओराक्जई में टूर्नामेंट के फाइनल मैच में कुछ क्षेत्रीय राजनेता और पत्रकार भी आए हुए थे। दर्शकों की संख्या भी अच्छी-खासी बताई गई है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भी आतंकियों ने खलल डाला था। 2009 में श्रीलंका की टीम पाकिस्तानी टीम के खिलाफ सीरीज के लिए लाहौर में थी और टीम बस पर आतंकियों ने हमला किया था।

श्रीलंका क्रिकेट टीम बस
श्रीलंका क्रिकेट टीम बस

श्रीलंका की टीम लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम के लिए बस से निकली थी तभी रास्ते में आतंकियों ने बस पर फायरिंग करते हुए हमला कर दिया। खिलाड़ियों ने नीचे बैठकर और सीटों के पीछे छुपकर जान बचाई। समरवीरा को चोट आई थी। हालांकि श्रीलंका की टीम के खिलाड़ी जान बचाने में सफल रहे थे।

इस घटना के बाद पाकिस्तान की साख अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में काफी ज्यादा खराब हुई। आईसीसी के टूर्नामेंटों सहित अन्य सभी सीरीज के लिए टीमों ने आने से मना कर दिया। श्रीलंका की टीम ने भी हमले के बाद मैच बीच में ही छोड़ दिया था। धीरे-धीरे अब एक बार फिर पाकिस्तान में क्रिकेट की बहाली के लिए प्रयास जारी हैं। इस साल पीएसएल के लिए कई विदेशी खिलाड़ी वहां खेलने गए थे। बांग्लादेश की टीम भी वहां खेलने गई थी।

Quick Links

App download animated image Get the free App now