Create
Notifications

क्रिकेट रिकॉर्ड्स : भारतीय बल्लेबाजों की विश्वकप इतिहास में पांच सर्वश्रेष्ठ पारियों की रैंकिंग

ANALYST
Modified 09 Jun 2019
टॉप 5 / टॉप 10

#4 गौतम गंभीर- 97 रन बनाम श्रीलंका

Gautam Gambhir

भारत ने 2011 में दूसरी बार विश्वकप खिताब पर कब्जा किया था। उस विश्वकप के फाइनल मैच में भारत का सामना श्रीलंका से हुआ था और मैच की शुरुआत में ही भारत के स्टार बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग और सचिन तेंदुलकर सस्ते में आउट हो गए। ऐसे में भारत की इकलौती आस सलामी और अनुभवी बल्लेबाज गौतम गंभीर पर ही टिकी हुई थी।

वहीं गंभीर ने भी मौके की नजाकत को समझा और भारत को एक बार फिर से विश्व विजेता बनाने के लिए अपनी पूरी मेहनत झोंक दी। श्रीलंका की ओर से दिए गए 275 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के दौरान गंभीर ने भारत को मजबूत शुरुआत दिलाई। उन्होंने इस मैच में 97 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी। वहीं अन्य खिलाड़ियों की मदद से भारत ने श्रीलंका पर एक शानदार जीत दर्ज की और भारत ने दूसरी बार विश्वकप खिताब अपने नाम किया। 

#3 सचिन तेंदुलकर- 98 रन बनाम पाकिस्तान

Sachin Tendulkar

किसी भी विश्वकप में भारत और पाकिस्तान के बीच का मुकाबला सबसे रोमांचक होता है। हालांकि भारत अभी तक के विश्वकप इतिहास में पाकिस्तान के हाथों एक भी बार हारा नहीं है। विश्वकप इतिहास की सबसे बेहतरीन पारियों में सचिन की 98 रनों की पारी बेहद लाजवाब थी, जो कि 2003 में पाकिस्तान के खिलाफ खेली गई थी।

पाकिस्तान ने उस मैच में भारत के सामने 274 रनों का लक्ष्य रखा था। जिसके जवाब में भारतीय टीम की ओर से सचिन तेंदुलकर सर्वाधिक 98 रनों की पारी खेली और 26 गेंद शेष रहते ही भारत को एक शानदार जीत दिलाई। 

PREVIOUS 2 / 3 NEXT
Published 09 Jun 2019
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now