Create

पाकिस्तान दौरे को लेकर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज का आया अहम बयान 

ट्रैविस हेड ने एशेज में शानदार बल्लेबाजी की थी
ट्रैविस हेड ने एशेज में शानदार बल्लेबाजी की थी

ऑस्ट्रेलिया के मिडिल आर्डर के बल्लेबाज ट्रैविस हेड (Travis Head) का मानना है कि आगामी पाकिस्तानी दौरा (PAK vs AUS) उन्हें टेस्ट क्रिकेटर के रूप में खुद को आंकने में मदद करेगा।

हेड ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ समाप्त हुई एशेज सीरीज में बेहतरीन प्रदर्शन करके दिखाया था। उन्होंने 4 टेस्ट में 59.50 बेहतरीन औसत के साथ 357 रन बनाए थे। इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और एक अर्धशतक निकला था।

हेड के मुताबिक एक खिलाड़ी को उसके घर के बाहर प्रदर्शन के बाहर आँका जाता है और इसके लिए उन्होंने साथ खिलाड़ी स्टीव स्मिथ का उदाहरण दिया, जिनका भारत में जबरदस्त रिकॉर्ड है। हेड मेहमान टीम के रूप में प्रतिकूल माहौल को समझते है और उनको लगता है कि यह एक अच्छा मौका है।

ट्रैविस हेड ने पर्थ नाउ के हवाले से कहा,

मुझे लगता है कि आपको एक खिलाड़ी के रूप में क्या परिभाषित करता है, घर से बाहर सीरीज खेलना। आप भारत में स्मिथ के रिकॉर्ड को देखते हैं, जब वह भारत में खेलते हैं तो वो अपने गेम को एक अलग लेवल पर ले जाते हैं। आप उनके जैसा नहीं बन सकते हैं, आप खुद को नहीं बदल सकते। यह दौरा एशेज से काफी अलग होगा और मुझे लगता है कि यह वह जगह है जहां आप अपने गेम को एक अलग लेवल पर ले जा सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया में खेले 17 टेस्ट में हेड का औसत 49.87 का है। इस दौरान उन्होंने 4 शतक भी लगाये है। घर के बाहर खेले पिछले छह टेस्ट में उनका औसत मात्र 28.45 का ही है और वो एक शतक भी लगाने में कामयाब नहीं हुए है। हालांकि अब वो अपने इस प्रदर्शन में सुधार करना चाहेंगे।

यह समझना कठिन है कि हमारे लिए क्या चुनौतियाँ आने वाली हैं - ट्रैविस हेड

ऑस्ट्रेलियाई टीम 24 साल में पहली बार पाकिस्तान का दौरे करेगी
ऑस्ट्रेलियाई टीम 24 साल में पहली बार पाकिस्तान का दौरे करेगी

28 वर्षीय बल्लेबाज ने यह भी कहा कि ऑस्ट्रेलिया के पास पाकिस्तान के हालात के बारे में जानने के लिए बहुत कम समय है। हालांकि सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उन्हें कोई परेशानी नहीं है। खब्बू बल्लेबाज ने इस मुद्दे पर कहा,

वास्तव में यह जानना मुश्किल है कि क्या चुनौतियाँ और क्या परिस्थितियां होने वाली हैं। हम बहुत सुरक्षित हाथों में हैं। मुझे यकीन नहीं है कि यह सार्वजानिक तौर पर कैसा होगा और हमारे लिए कौन से प्रोटोकॉल है लेकिन कम्युनिकेशन के नजरिये से और हम वहां कैसा महसूस करने जा रहे हैं या प्रोटोकॉल जो हमें सुरक्षित रखने के लिए हैं। मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई भी चिंता वाली बात है और वे हमारे लिए जो कर रहे हैं वह सही है।

ऑस्ट्रेलिया ने 1998 में आखिरी बार पाकिस्तान का दौरा किया था और अब टीम 24 सालों में पहली बार वहां जाने को तैयार है। इस दौरे की शुरुआत 4 मार्च से होनी है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment