Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

Hindi Cricket News : एस रवि अंपायरों के एलीट पैनल से हुए बाहर

  • जानिए क्या हुए हैं परिवर्तन
ANALYST
न्यूज़
Modified 31 Jul 2019, 14:34 IST

एस रवि
एस रवि

भारतीय अंपायर सुंदरम रवि 2019-20 में आईसीसी अंपायर के एलीट पैनल के सदस्य नहीं रहेंगे। वहीं इंग्लैंड के माइकल गॉफ और वेस्टइंडीज के जोएल विल्सन को इस पैनल में शामिल किया गया है। गॉफ और विल्सन वर्तमान में आईसीसी के अंपायरों के अंतर्राष्ट्रीय पैनल में शामिल हैं, जिन्हें अब प्रमोशन देकर एलीट पैनल में शामिल कर लिया गया है।

अंपायर इयान गोल्ड के संन्यास लेने के बाद और एस रवि को हटाने के बाद एलीट पैनल में दो स्थान रिक्त हो गए थे। जिसके लिए इन दो नामों का चयन किया गया है। वहीं आईसीसी अंपायर और रेफरी पैनल के सीनियर मैनेजर एड्रिएन ग्रिफिथ ने भी कहा था कि एलीट पैनल के लिए अधिकारियों का चयन काफी मुश्किल होगा और यह जॉब भी बेहद चुनौतीपूर्ण होगी।

ग्रिफिथ ने इस मौके पर कहा है कि हम कुछ शानदार अधिकारियों के मामले में भाग्यशाली रहे हैं, जो अंतर्राष्ट्रीय मंच पर लगातार बेहतर प्रदर्शन करते रहे हैं और नौकरी के दबाव को झेलने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा है कि इंग्लैंड के माइकल गॉफ और वेस्टइंडीज के जोएल विल्सन अंपायरों को एलीट पैनल में शामिल होने के लिए उपयुक्त नाम हैं। मैं उन्हें उनके आने वाले भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

यह भी पढ़ें : पांच साल बाद कुछ ऐसी हो सकती है भारतीय टीम की बैटिंग लाइन अप

बताते चलें कि गॉफ और विल्सन दोनों ही अंपायरों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी ज्यादा अनुभव है। माइकल गॉफ ने अपने करियर में 9 टेस्ट, 59 एकदिवसीय और 14 टी20 मैचों में शानदार कार्य किया है। जबकि विल्सन ने भी 13 टेस्ट, 63 एकदिवसीय और 26 टी20 मैचों में बेहतरीन अंपायरिंग की है।

इस एलीट पैनल में माइकल गॉफ और जोएल विल्सन के अलावा अलीम दार, कुमार धर्मसेना, मारेस एरासमस, क्रिस गैफ्फनी, रिचर्ड इलिंगवर्थ, रिचर्ड कैटलब्रो, नाइजल लॉन्ग, ब्रूस ऑक्सेनफरोड, पॉल रीपेल और रॉड टकर पहले से ही शामिल हैं। जबकि आईसीसी के मैच रेफरी के एलीट पैनल में डेविड बून, क्रिस ब्रॉड, जेफ क्रो, रंजन मदुगले, एंडी पायक्राफ्ट, रिची रिचर्डसन और जवागल श्रीनाथ शामिल हैं। 

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Published 31 Jul 2019, 14:34 IST
Advertisement
Fetching more content...