मार्नस लैबुशेन को टेस्ट ओपनर के तौर पर नहीं देखना चाहते उस्मान ख्वाजा, खास वजह का किया जिक्र 

England v Australia - LV= Insurance Ashes 5th Test Match: Day One
England v Australia - LV= Insurance Ashes 5th Test Match: Day One

ऑस्ट्रेलिया के नियमित टेस्ट ओपनर डेविड वॉर्नर (David Warner) के अगले साल पाकिस्तान के खिलाफ सिडनी में खेले जाने वाले मुकाबले के बाद, टेस्ट फॉर्मेट से संन्यास की संभावना है। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई टीम को उस्मान ख्वाजा के जोड़ीदार की तलाश है और इसके लिए कई नाम सामने आ रहे हैं। हाल ही में हेड कोच एंड्रू मैकडोनाल्ड ने वॉर्नर के संन्यास के बाद बल्लेबाजी क्रम में बदलाव के संकेत दिए थे, ताकि ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन को मिचेल मार्श के साथ प्लेइंग XI में जगह दी जा सके। ऐसे में मार्नस लैबुशेन (Marnus Labuschagne) को ओपनर के तौर पर शिफ्ट किया जा सकता है लेकिन इससे ख्वाजा बिलकुल भी सहमत नहीं हैं।

उस्मान ख्वाजा का मानना है कि मार्नस लैबुशेन को नंबर 3 पर ही बल्लेबाजी करनी चाहिए, क्योंकि उन्होंने उस पोजीशन पर काफी सफलता हासिल की है। बाएं हाथ के बल्लेबाज ने ओपनिंग को एक मुश्किल काम भी बताया। उन्होंने कहा,

क्या आपने मार्नस से पूछा? मुझे लगता है वह स्पष्ट रूप से इंकार कर देंगे। ओपनिंग आसान नहीं है। यह कठिन काम है। मैं आपको यह बता सकता हूं क्योंकि मैंने ऑस्ट्रेलिया के लिए नंबर 1, 2, 3, 4, 5, 6 पर बल्लेबाजी की है। मैं आपको बता रहा हूं कि अब तक ओपनिंग करना सबसे कठिन है और किसी ऐसे व्यक्ति को लाना बहुत मुश्किल है जिसने ओपनिंग नहीं की है। मैं सकारात्मक हूं कि अगर आप मार्नस को पारी का आगाज करने के लिए उतारते हैं तो वह बहुत अच्छा प्रदर्शन करेंगे। लेकिन क्या वह नंबर 3 की तरह ओपनिंग में भी अच्छा कर पाएंगे? मुझे यकीन नहीं है।
मैं जोखिम नहीं लेना चाहता क्योंकि उनका औसत तीन पर 55 (56.81) है और स्टीव स्मिथ का औसत सामान्य रूप से 60 (58.61) है। इसलिए आप इसके साथ बहुत अधिक गड़बड़ नहीं करना चाहेंगे। पारी का आगाज करना शारीरिक से ज्यादा मानसिक रूप से काफी मुश्किल हो सकता है इसलिए मैं उन लोगों को पारी का आगाज नहीं करने देने में हमेशा शर्माता हूं जिन्होंने पहले ज्यादा ऐसा नहीं किया है।

गौरतलब हो कि मार्नस लैबुशेन ने अपने टेस्ट करियर में अभी तक ज्यादातर बल्लेबाजी नंबर 3 पर की है। उन्होंने कुछ पारियां अलग-अलग पोजीशन पर खेली हैं लेकिन एक बार भी ओपनिंग नहीं की है। ऐसे में उनके लिए ओपन करना आसान होगा, यह कहना थोड़ा मुश्किल है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar