Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

विराट कोहली, सचिन तेंदुलकर और मोहम्मद कैफ ने भी की शाहिद अफरीदी के बयान की निंदा

  • शाहिद अफरीदी ने ट्वीट कर कश्मीर में यूएन के हस्क्षेप की मांग की थी
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:23 IST

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी द्वारा कश्मीर को लेकर दिए गए बयान की अब भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और पूर्व दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने भी निंदा की है। मीडिया से बातचीत में विराट कोहली ने कहा कि एक भारतीय होने के नाते आप वही चीज करेंगे जो आपके देश के लिए बेहतर हो और मैंने हमेशा भारत का हित चाहा है। अगर कोई मेरे देश का विरोध करता है तो निश्चित तौर पर मैं उसकी खिलाफत करुंगा। कोहली ने ये भी कहा कि अभी उन्हें इस मामले की पूरी तरह से जानकारी नहीं है कि अफरीदी ने क्या कहा है लेकिन हम हमेशा अपने देश का भला चाहते हैं। वहीं महान सचिन तेंदुलकर ने दो टूक शब्दो में कहा कि भारत अपने आंतरिक मसले खुद सुलझा सकता है। मुंबई में एक इवेंट के दौरान सचिन ने कहा कि हमारे देश में इतने काबिल लोग हैं कि वे देश को अच्छी तरह से चला सकें। किसी बाहरी को ये बताने की जरुरत नहीं कि हमें क्या करना चाहिए और क्या नहीं। वहीं कपिल देव ने कहा कि अफरीदी कौन हैं ? हमें ऐसे लोगों को ज्यादा महत्व नहीं देना चाहिए। वहीं पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने भी अफरीदी के बयान की निंदा की और ट्वीट कर कहा कि अगर पाकिस्तानी खिलाड़ी आईपीएल में खेल रहे होते तो शायद शाहिद अफरीदी ऐसा बयान नहीं देते। कैफ ने अपने ट्वीट में लिखा कि ' पैसा बोलता है। अगर आईपीएल में पाकिस्तानी खिलाड़ी खेल रहे होते तो शायद शाहिद अफरीदी ऐसा बयान नहीं देते। पाकिस्तानी खिलाड़ियों को इसलिए आईपीएल में खेलने की अनुमति नहीं है क्योंकि पाकिस्तानी आतंकवादी भारत में घुसपैठ करते हैं और पाकिस्तान अलगाववादियों का समर्थन करती है। हमें भी शांति और प्यार चाहिए लेकिन ये दोनों तरफ से होनी चाहिए।'  


इसे भी पढ़ें: डेविड वॉर्नर भी नहीं करेंगे बैन के खिलाफ अपील   गौरतलब है शाहिद अफरीदी ने ट्वीट किया था कि भारत अधिकृत कश्मीर की स्थिति चिंताजनक है। आत्मनिर्णय और आजादी की आवाज को दबाने के लिए दमनकारी शासन द्वारा निर्दोषों को मार दिया जाता है। आश्चर्य में हूं कि यूनाइटेड नेशंस और अन्य अंतरराष्ट्रीय इकाइयां कहाँ है। वे आगे आकर इस खून-खराबे को रोकने का काम क्यों नहीं करते?  

अफरीदी के इस ट्वीट पर दिग्गज क्रिकेटर सुरेश रैना ने भी उनको करारा जवाब दिया था। उन्होंने लिखा था कि 'कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और रहेगा। कश्मीर वो पवित्र धरती है जहां मेरे पूर्वजों का जन्म हुआ था। उम्मीद करता हूं कि शाहिद अफरीदी भाई पाकिस्तानी सेना से कहेंगे कि वो कश्मीर में दहशत और आतंकवाद फैलाना बंद करेंगे। हम भी खून-खराबा और हिंसा नहीं बल्कि शांति चाहते हैं।"  

इससे पहले गौतम गंभीर ने भी अफरीदी के बयान की निंदा की थी। उन्होंने कहा था कि अफरीदी ने अपनी डिक्शनरी के निम्न शब्द का इस्तेमाल किया है और यूनाइटेड नेशंस का नाम (19 साल) अपनी आयु के रूप में बताया है। गंभीर ने ऐसा इसलिए कहा है क्योंकि अफरीदी अपनी उम्र को लेकर हमेशा छुपते हुए दिखते हैं। दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान ने आगे कहा कि मीडिया को रिलेक्स हो जाना चाहिए क्योंकि यह वैसा ही बयान है जैसे शाहिद अफरीदी नो बॉल पर आउट हो गए हों।  

Published 05 Apr 2018, 10:59 IST
Advertisement
Fetching more content...