COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

वीरेंदर सहवाग की यादगार पारियों पर एक नजर

CONTRIBUTOR
फ़ीचर
358   //    22 Oct 2018, 19:03 IST

Libra Legends v Gemini Arabians- Oxigen Masters Champions League 2016

इंडियन फैंस के लिए सहवाग और मास्टर बालास्टर सचिन की जोडी सबसे सर्वक्षेठ स्थान पर होती थी। जहा फैंस सचिन को क्रीच पर लंबे समय तक देखना पसंद करते थे तो वही सहवाग को हवाई फायर करते हुए गेंदबाजो के पसीने छुडा कर देखना पसंद करते हैं।

Pakistan v India - 2011 ICC World Cup Semi-Final

भारत को लोगो को सबसे ज्यादा क्या देखना पसंद हैं? हम बताते हैं आपको भारत के लोगो को सबसे ज्यादा इंडिया-पाकिस्तान का मैच देखना पसंद हैं...आज भी जब भारत-पाक का मैच होता हैं तो भारत की सड़के सुनसान हो जाती हैं...और आपको ये बात जानकर बड़ी खुशी होगी की सहवाग का पाक के विरोध औसत सबसे ज्यादा था लगभग 80-90 को आसपास सहवाग का औसत था अगर वो कुछ मैंच और पाक के विरोध खेलते तो शायद सहवाग के 10000 रन पूरे हो जाते....सहवाग ने भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया हो लेकिन उनकी तूफानी पारीयों की यादें आज भी फैन्स के दिलों में ताजा हैं। मैच चाहें किसी भी फोरमेट का हो टेस्ट हो, टी-20 या फिर वनडे सहवाग का खेलने का तरीका हमेशा तूफानी ही रहता था। सहवाग जब भी क्रीस पर आते हैं फैंस के भीतर बस उनकी तूफानी बल्लेबाजी देखने का होता हैं जब भी सहवाग आते हैं पहली ही बॉल से वो अटैक करना शुरू कर देते हैं.

Pakistan v India - ICC World Twenty20 2012: Super Eights Group 2

वीरेंद्र सहवाग टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरा शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय क्रिकेटर हैं। उनके अलावा दुनिया में ऐसे केवल 4 बल्लेबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट करियर में दो तिहरे शतक जड़े हैं।सहवाग ने पाकिस्तान के खिलाफ एक ऐसी पारी खेली जिसने आज भी लोगो के मन में जगह बना रखी है.... सहवाग ने 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ मुल्तान में 309 रनों की पारी खेली थी। इसके 4 साल बाद उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2008 में चेन्नई के मैदान पर 319 रन बनाए थे।

Pakistan v India - ICC World Twenty20 2012: Super Eights Group 2

वैसे तो सहवाग की हर पारी ही यादगार पारी हुआ करती थी लेकिन कोई भी क्रिकेट लवर सहवाग के उस तिहरा शतक जो उन्होने छक्के के साथ पूरा किया था उस लम्हे को कोई भी क्रिकेट फैन कभी नही भूला सकता। क्रिकेट के इतिहास में ऐसा करने वाले वह दुनिया के पहले खिलाड़ी थे। इसके बाद 2014 में कुमार संगाकारा ने भी अपना इकलौता तिहरा शतक छक्के के साथ पूरा किया था।

टेस्ट मैंच जिसमें क्रिस पर टीका रहना बेहद महतपूर्ण माना जाता हैं उसमें वीसेद्र सहवाग ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी से सबसे ज्यादा छ्क्के लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया हैं....मुल्तान के सुल्तान के टेस्ट क्रिकेट में 91 छक्के नाम हैं जो कि एक बेहतर रिकॉर्ड माना जाता हैं...

यही नही जब सहवाग भारत के कप्तान थे तब भी उन्होने रिकॉर्ड अपने नाम किये थे जैसे बतौर कप्तान वनडे मैचों में सबसे बड़ी पारी (219) खेलने का रिकॉर्ड सहवाग के नाम है। इसके बाद रोहित शर्मा का नाम आता है, जिन्होंने 2017 में श्रीलंका के खिलाफ बतौर कप्तान 208 रन बनाए थे।

आपको बता दें कि वीरेंद्र सहवाग ने कुल 104 टेस्ट मैचों में 8586 रन बनाए, जिनमें 23 शतक शामिल हैं। वीरू का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 319 रहा। वहीं वनडे में भी 251 मैचों में 8279 रन और बेस्ट 219 रन हैं। साथ ही 19 टी-20 में सहवाग ने 394 रन बनाए हैं।

सहवाग ने भारत की तरफ से पहला एकदिवसीय मैच 1999 में खेला था।अब अक्सर सहवाग को कॉमेंट्री करते हुए देखा जाता हैं वो एक अच्छे बल्लेबाज होने के साथ साथ एक अच्छे कॉमेंटेटर भी हैं...जब भी वो कॉमेंट्री करते हैं तो पुराने चटपटे किस्से बताते हैं जो कि फैंस को सुनने में बडा मजा आता हैं...

Topics you might be interested in:
CONTRIBUTOR
Karan Jaisingh is a Journalist who has 3.5 Years of experience and has also worked with Sahara Samay News Network. He belongs to Uttrakhand and is passionate about sports like cricket, football, hockey.
Fetching more content...