Create
Notifications

मुंबई इंडियंस से खुलकर खेलने की अपील करते हुए पूर्व खिलाड़ी ने दी प्रतिक्रिया

मौजूदा सीजन में मुंबई इंडियंस के दो मैच शेष हैं
मौजूदा सीजन में मुंबई इंडियंस के दो मैच शेष हैं
reaction-emoji
Prashant Kumar

पूर्व भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha) चाहते हैं कि पांच बार की आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियंस (MI) आज सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ अपने मुकाबले में खुलकर खेले। मुंबई पहले ही प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो चुकी है और उसके पास खोने के लिए कुछ नहीं है। ओझा का मानना है कि मुंबई के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और इशान किशन के लिए भारतीय टीम की भलाई को ध्यान में रखते हुए फॉर्म में वापसी करना महत्वपूर्ण है।

ओझा के मुताबिक मुंबई को अपने गेंदबाजी आक्रमण के साथ छेड़छाड़ करने की जरूरत नहीं है क्योंकि वे पिछले कुछ मैचों में असरदार रहे हैं।

क्रिकबज पर चर्चा के दौरान हैदराबाद के खिलाफ मुंबई के एप्रोच के बारे में बात करते हुए ओझा ने कहा,

मैं चाहता हूं कि मुंबई अब खुद को व्यक्त करे कि वे पांच खिताब जीतने के दबाव से मुक्त हैं। इशान किशन और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ियों को अपना फॉर्म फिर से हासिल करना चाहिए क्योंकि यह एक मैच सिमुलेशन की तरह होगा और अंत में, वे भारतीय टीम के खिलाड़ी हैं इसलिए थोड़ा इमोशन है। लेकिन मुझे गेंदबाजी में कोई बदलाव नहीं दिखता क्योंकि उन्हें आखिरकार सही कॉम्बिनेशन मिल गया है।

कुछ युवाओं को मुंबई इंडियंस के लिए मौका मिलते देखना चाहूंगा - आरपी सिंह

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आरपी सिंह का मानना है कि एमआई भविष्य के लिए एक टीम बनाने के लिए हैदराबाद के खिलाफ अपनी बेंच स्ट्रेंथ को आजमा सकती है। कई युवाओं को अभी खेलने का मौका नहीं मिला है और इस पूर्व तेज गेंदबाज का मानना है कि यह शायद मुंबई के लिए यह देखने का सबसे अच्छा मौका है कि वे अगले सीजन में किसे रिटेन कर सकते हैं। उन्होंने कहा,

मैं निश्चित रूप से कुछ युवाओं को मौका मिलते देखना चाहूंगा। उनके पास हासिल करने के लिए बहुत कुछ है क्योंकि वे भविष्य के लिए एक टीम बना सकते हैं। आप कई प्रैक्टिस मैच खेल सकते हैं, लेकिन एक आईपीएल मैच पूरी तरह से अलग है। इसलिए मुझे लगता है कि कुछ युवा खिलाड़ी हैं जिन्हें अपनी काबिलियत साबित करने का मौका मिलना चाहिए।

Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...