Create
Notifications

World Cup 2019 : पाकिस्तान से मैच हारने के बाद इंग्लैंड की 6 कमजोरियां जो सामने आई हैं

Enter caption
Atul Kumar Singh

विश्व कप 2019 का अब तक का सफर काफी रोमांच भरा रहा है। सबसे पहले बांग्लादेश ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर विश्व कप में अपना दावा ठोंका, जिससे विश्व कप और भी मजेदार हो गया। इसको और भी मजेदार बनाया पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड के मैच ने। अपना पहला मैच विंडीज से काफी शर्मनाक तरीके से हारने के बाद, पाकिस्तान ने जिस तरह से वापसी करते हुए इंग्लैंड को काँटे के मुकाबले में हराया, उससे इंग्लैंड को धक्का तो लगा। साथ ही इंग्लैंड टीम की कमजोरियां भी विश्व कप में अन्य टीमों के सामने जाहिर हो गई।

आइये बात करते हैं इंग्लैंड की कुछ कमजोरियों पर, जिसका फायदा उठाकर दूसरी टीमें भी इंग्लैंड को हरा सकती हैं-

पहले 10 ओवर खुल कर खेलें- पाकिस्तान के दोनों सलामी बल्लेबाज फखर ज़मान और इमाम-उल-हक ने शुरूआत में समझदारी और दिलेरी, दोनों के मिश्रण का खेल दिखाया। बड़ी ही समझदारी से दोनों बल्लेबाजों ने खराब गेंद का इंतजार किया और अच्छे शाॅट खेलकर स्कोरबोर्ड को व्यस्त रखा। फखर ज़मान जहाँ आक्रामक खेल दिखा रहे थे, वहीं दूसरी ओर इमाम-उल-हक ने अपना समय लिया फिर बल्ले से अपना जौहर दिखाया। दोनों काफी योजनाबद्ध तरीके से बल्लेबाजी कर रहे थे, दोनों ने ठान रखा था कि पहले 10 ओवर में विकेट नहीं देना है।

जोफ्रा आर्चर के खिलाफ संभल कर खेलें- जोफ्रा आर्चर पर पूरे विश्व की निगाहें हैं। आर्चर 150 km/h की स्पीड से लगातार बाॅल फेंक सकते हैं। हालाँकि इनके बाॅलिंग एक्शन से कोई ये अनुमान नहीं लगा सकता कि आर्चर इतनी तेजी से बाॅल भी फेंक सकते है। आर्चर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुये मैच में 27 रन देकर 3 विकेट लेकर दूसरी टीमों को सावधान कर दिया था। पाकिस्तान के बल्लेबाज ने आर्चर की बाॅल पर थोड़ी अधिक सावधानी दिखाई, खासतौर पर आर्चर की शाॅर्ट पिच गेंदों पर। जिससे दोनों बल्लेबाजों को पारी आगे बढ़ाने में आसानी हुई और पाकिस्तान टीम को एक सधी शुरूआत मिल सकी।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Enter caption

आदिल राशिद को सेट न होने दें- आदिल रशीद इंग्लैंड के स्ट्राइक बाॅलर हैं। जब-जब कप्तान मॉर्गन को विकेट की जरूरत होती है, वो आदिल रशीद की ओर रुख करते हैं। लेकिन पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने पहली बाॅल से ही उनके खिलाफ आक्रामक खेल दिखााया। पाकिस्तान के बल्लेबाज रशीद के खिलाफ भी गेमप्लान लाये थे। पाकिस्तान बल्लेबाजों ने उन्हें बिल्कुल भी सेट नहीं होने दिया, रशीद पर काउंटर अटैक किया और उनके 5 ओवरों में 42 रन लूट लिये। बीच के ओवरों में विकेट न मिलने से इंग्लैंड और दबाव में आ गया।

इंग्लैंड के फील्डरों पर दबाव- इंग्लैंड के क्षेत्ररक्षकों का दिन काफी खराब था खासतौर पर जेसन राॅय का। जेसन राॅय ने एक बहुत आसान सा कैच छोड़ा और एक रन आउट का चांस भी खो दिया। मैच के दौरान जब सरफराज अहमद और मोहम्मद हफीज बल्लेबाजी कर रहे थे, दोनों ने कई बार 2-2 करके रन दौड़े और इंग्लैंड के फील्डर्स पर दबाव बनाया। अगर अन्य टीमें भी इंग्लैंड के क्षेत्ररक्षकों पर दबाव डाले तो इंग्लैंड गलती कर सकती है।

Enter caption

जाॅनी बेयरस्टो और जेसन राॅय को जल्दी पवेलियन वापस भेजें- अगर पिछले दो सालों में इंग्लैंड के रिकॉर्ड पर ध्यान देंगे तो इंग्लैंड के अच्छे प्रदर्शन के पीछे जेसन राॅय और जाॅनी बेयरस्टो की शुरूआत के ओवरों में आक्रामक बल्लेबाजी है। जब आप बहुत बड़े लक्ष्य का पीछा कर रहे होते हैं, तो आपके सलामी बल्लेबाजों का तेज शुरूआत देना बहुत जरूरी हो जाता है। पाकिस्तान ने बड़ा स्कोर बनाने के बाद दानों सलामी बल्लेबाजों को ज्यादा देर खेल नहीं दिया और दोनों का विकेट जल्दी ही निकाल दिया, इससे नीचे के बल्लेबाजों पर अतिरिक्त दबाव बहुत जल्दी आ गया और इंग्लैंड बेकफुट पर आ गयी।

बटलर के विरूद्ध धीमी गेंद का प्रयोग ज्यादा करें- वैसे तो जोस बटलर इंग्लैंड के सबसे खतरनाक खिलाड़ी हैं। बटलर को इस बात का बिल्कुल भी फर्क नहीं पड़ता कि स्कोर बोर्ड पर स्कोर क्या है, या टीम के कितने विकेट गिरे हैं। हालाँकि बटलर ने मात्र 76 गेंदों में 103 रन मारे, लेकिन बटलर की एक कमजोरी जो सभी टीमों के सामने खुलकर आयी है- वो है धीमी गेंद। पाकिस्तान के खिलाफ धीमी गेंद ने बटलर को काफी परेशान किया और अंततः बटलर, आमिर की गेंद पर आउट हो गए।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...