Create
Notifications

वर्ल्ड कप 2019: प्रत्येक टीम का एक खिलाड़ी जिसे शामिल ना करना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण रहा 

Indian Team
आशीष कुमार
visit

इंग्लैंड और वेल्स में होने वाला क्रिकेट वर्ल्ड कप 30 मई से 14 जुलाई तक खेला जाएगा। यह पांचवीं बार होगा जब वर्ल्ड कप इंग्लैंड में आयोजित होने जा रहा है। इस बार पिछले संस्करणों के विपरीत, टीमों को समूहों में विभाजित नहीं किया गया है। इसमें ग्रुप चरण की शीर्ष चार टीमें नॉकआउट के लिए क्वालीफाई करेंगी।

पहला मैच ओवल में खेला जाएगा जबकि फाइनल लॉर्ड्स के मैदान पर होगा। 30 सितंबर 2017 को आईसीसी वनडे रैंकिंग के आधार पर आठ टीमें पहले ही इस टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं। अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज ऐसी दो टीमें थीं जिन्होंने क्वालिफायर के ज़रिए वर्ल्ड कप में जगह बनाई है। टीमों को निर्देश दिया गया था कि वे 23 अप्रैल 2019 तक अपनी 15-सदस्यीय टीम की घोषणा करें।

तो अब जबकि सभी टीमों की 15 सदस्यीय टीम की घोषणा हो चुकी है, आइये जानते हैं प्रत्येक टीम के एक बदकिस्मत खिलाड़ी के बारे में जिसे अपनी टीम में जगह नहीं मिल सकी:

#1. भारत: ऋषभ पंत

Rishabh Pant misses out due to lack of experience

विश्व कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय भारतीय टीम से बाहर होना युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के लिए चोंकाने वाला होगा। भारत के लिए 9 टेस्ट, 5 एकदिवसीय और 15 टी 20 मैचों में खेलने के बाद, उन्हें एमएस धोनी के प्रतिस्थापन के रूप में देखा जा रहा था।

उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 मैच से अपना अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पर्दापण किया था। पंत टेस्ट प्रारूप में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ शतक लगा चुके हैं लेकिन उनकी जगह टीम में अनुभवी दिनेश कार्तिक को जगह दी गई।

#2. ऑस्ट्रेलिया: पीटर हैंड्सकॉम्ब

Peter Handscomb could have picked as the backup wicketkeeper

ऑस्ट्रेलियाई टीम द्वारा पीटर हैंड्सकॉम्ब को अपनी 15 सदस्यीय टीम से बाहर करने का निर्णय काफी लोगों के लिए हैरानीजनक था। इस टीम में एलेक्स कैरी के रूप में एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज को चयनित किया गया है। अगर विश्व कप के दौरान कैरी किसी वजह से खेल नहीं पाते तो उनके पास कोई विशेषज्ञ विकेटकीपर नहीं होगा।

हैंड्सकॉम्ब केवल तेज़ गेंदबाज़ ही नहीं बल्कि स्पिनरों के खिलाफ भी अच्छी बल्लेबाज़ी करने में सक्षम है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे पर उन्होंने एकदिवसीय श्रृंखला में मेहमान टीम की जीत में बेहद अहम भूमिका निभाई थी। हैंड्सकॉम्ब ने अपने पिछले 11 मैचों में 43.55 की औसत से 479 रन बनाए हैं। ऐसे में उनका टीम में ना होना सचमुच में बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#3. इंग्लैंड: जोफ्रा आर्चर

Jofra Archer

जोफ्रा आर्चर ने आईपीएल में अपने डेब्यू मैच में तीन विकेट लेकर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया। इस सीज़न में वह राजस्थान रॉयल्स की तरफ से सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले बल्लेबाज़ हैं।

लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण था कि विश्व कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय इंग्लिश टीम में उन्हें जगह नहीं मिली, हालाँकि एक सकारात्मक बात यह रही कि है उन्हें पाकिस्तान और आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया है।

मुमकिन है कि अगर वह इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें विश्व कप टीम में चुन लिया जाए लेकिन फिलहाल वह विश्व कप टीम का हिस्सा नहीं हैं।

#4. श्रीलंका: दिनेश चंडीमल

Dinesh Chandimal

दिनेश चंडीमल श्रीलंका के लिए 146 एकदिवसीय मैचों में 3599 रन बना चुके हैं और उनके मध्य-क्रम के बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं। वह श्रीलंका के लिए सबसे कम उम्र के एकदिवसीय कप्तान भी रह चुके हैं, जब उन्होंने 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम का नेतृत्व किया था।

लेकिन पिछले कुछ समय से उनका अनियमित प्रदर्शन चंडीमल के वर्ल्ड कप टीम से बाहर होने का कारण बना।

#5. न्यूजीलैंड: टिम साइफर्ट

Image result for tim siefert

जब विश्व कप के लिए न्यूजीलैंड टीम की घोषणा की गई थी, तो यह स्पष्ट था कि चयनकर्ताओं ने बल्लेबाजी क्षमता की बजाय एक बैक-अप विकेट कीपर की 'कीपिंग-स्किल्स' को तरजीह दी थी, यही वजह थी कि

युवा खिलाड़ी टिम साइफर्ट को वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई न्यूज़ीलैंड की 15 सदस्यीय टीम में जगह नहीं मिली।

पिछले कुछ समय से वह शानदार फॉर्म में चल रहे हैं औ भारत के खिलाफ पहले टी-20 में उन्होंने 43 गेंदों में 86 रनों की बेमिसाल खेली थी। वह एक अच्छे विकेटकीपर भी हैं और अपनी भूमिका बखूबी निभा सकते हैं लेकिन दुर्भाग्य से, उनकी जगह टॉम ब्लंडेल को टीम में चुना गया।

#6. वेस्टइंडीज- काइरोन पोलार्ड

Kieron Pollard

वेस्टइंडीज द्वारा वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय टीम में ट्रिनिडाडियन ऑलराउंडर काइरोन पोलार्ड का ना होना सबसे ज़्यादा चोंकाने वाला फैसला था। अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी के साथ वह गेंद से भी उपयोगी योगदान दे सकते हैं।

आईपीएल में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलते हुए उन्होंने ज़बरदस्त प्रदर्शन किया है और अब तक उनका स्ट्राइक रेट 175 का रहा है। लेकिन अपनी टीम की तरफ से खेलते हुए एकदिवसीय मैचों में उनका अनियमित प्रदर्शन पोलार्ड के वर्ल्ड कप टीम से बाहर होने का कारण बना।

#7. दक्षिण अफ्रीका: क्रिस मॉरिस

Chris Morris

क्रिस मॉरिस ने इस साल आईपीएल में खेले 7 मैचों में 11 विकेट लेकर अपनी टीम दिल्ली कैपिटल्स के लिए असाधारण प्रदर्शन किया है। लेकिन दक्षिण अफ्रीकी सीमर ऑलराउंडर को वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय टीम में जगह नहीं मिली।

उन्होंने 34 एकदिवसीय मैचों में दक्षिण अफ्रीका का प्रतिनिधित्व किया है जिसमें उन्होंने 35 विकेट झटके हैं। वह गेंद और बल्ले दोनों क्षेत्रों में अपना भरपूर योगदान दे सकते हैं। लेकिन उनकी जगह टीम में एंडिले फेहलुकवेओ जैसे युवा खिलाड़ी को मौका दिया गया है।

#8. बांग्लादेश: इमरुल कायेस

Imrul Kayes

2019 वर्ल्ड कप के लिए बांग्लादेश टीम की घोषणा इस सप्ताह के आरंभ में की गई थी और सूची से हटाए गए सबसे बड़े नामों में से एक इमरुल कायेस का था। कायेस बांग्लादेश के लिए सलामी बल्लेबाज़ रहे हैं जिन्होंने 76 एकदिवसीय मैचों में कुल 2430 रन बनाए हैं।

वह बड़े टूर्नामेंटों में शानदार प्रदर्शन करते रहे हैं और उनके पास पर्याप्त अनुभव भी है लेकिन उनकी जगह चयन समिति ने लिटन दास पर भरोसा दिखाया है।

#9. अफ़ग़ानिस्तान: शपूर ज़ादरान

ICC World Twenty20 India 2016:  England v Afghanistan

शपूर ज़ारदान वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई अफ़ग़ान टीम का हिस्सा नहीं है। 6 फुट 8 इंच के तेज गेंदबाज ने 2009 में नीदरलैंड्स के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज़ किया था।

उन्होंने अब तक 44 वनडे खेलते हुए 43 विकेट लिए हैं। इसके अलावा 2015 वर्ल्ड कप में उन्होंने 6 मैचों में 26.50 की औसत और 5.19 की इकोनॉमी रेट से 10 विकेट हासिल किए थे , लेकिन फिर भी उन्हें नज़रअंदाज़ किया जाना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।

#10. पाकिस्तान- मोहम्मद आमिर

Mohammed Amir

विश्व कप के लिए पाकिस्तान टीम की घोषणा हुई और चयन समिति ने सबको आश्चर्यचकित करते हुए, इसमें तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर को जगह नहीं दी।

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज का इंग्लिश परिस्थितियों में प्रदर्शन बहुत शानदार रहा है। 2017 में खेली गई आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में उन्होंने अपनी कहर बरपाती गेंदों से भारतीय टीम की बल्लेबाजी लाइन-अप को तहस नहस कर दिया था। लेकिन वर्ल्ड कप के लिए उन्हें टीम में ना चुना जाना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण रहा।

लेखक: ब्रोकन क्रिकेट अनुवादक: आशीष कुमार

Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now