Create

वर्ल्ड कप 2019: दक्षिण अफ्रीका टीम का पूरा विश्लेषण, स्क्वाड/रोस्टर, टाइम टेबल, प्लेइंग 11, जर्सी और विश्व कप में प्रदर्शन

Enter caption

वर्ल्ड कप 2019 की शुरूआत 30 मई से होगी और पहला मैच मेजबान इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला जाएगा। दक्षिण अफ्रीका की टीम वर्ल्ड क्रिकेट की सबसे मजबूत टीमों में से एक है और टीम के पास एक से बढ़कर एक दिग्गज खिलाड़ी हुए हैं लेकिन अभी तक इस टीम ने एक बार भी विश्व कप का खिताब नहीं जीता है। जैक कैलिस, शॉन पोलाक, गैरी कर्स्टन, हर्शल गिब्स, मार्क बाउचर और एबी डीविलियर्स जैसे कई दिग्गज और महान खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका की तरफ से खेल चुके हैं लेकिन वर्ल्ड कप की ट्रॉफी इनसे अब तक दूर ही रही है।

दक्षिण अफ्रीका की टीम कई बार वर्ल्ड कप जीतने की प्रबल दावेदार मानी गई और टीम ने कई बार सेमीफाइनल तक का बेहतरीन सफर भी तय किया लेकिन इससे आगे नहीं बढ़ सकी। यही वजह है कि इस टीम के ऊपर 'चोकर्स' का ठप्पा लग चुका है। हालांकि फाफ डू प्लेसी की कप्तानी में इस बार वो जरूर अपने ऊपर लगे इस ठप्पे को मिटाना चाहेंगे।

आइए जानते हैं वर्ल्ड कप के लिए दक्षिण अफ्रीका की 15 सदस्यीय टीम क्या है:

दक्षिण अफ्रीका का स्क्वाड/रोस्टर

फाफ डू प्लेसी (कप्तान), जेपी डुमिनी, डेविड मिलर, हाशिम अमला, डेल स्टेन, एंडिले फेलुकवायो, इमरान ताहिर, कगिसो रबाडा, ड्वेन प्रिटोरियस, क्विंटन डी कॉक, क्रिस मॉरिस, लुंगी एन्गिडी, एडेन मार्करम, रसी वैन डर डुसेन और तबरेज शम्सी।

वर्ल्ड कप 2019 में दक्षिण अफ्रीका का पूरा शेड्यूल:

दक्षिण अफ्रीका vs इंग्लैंड, 30 मई (लंदन)

दक्षिण अफ्रीका vs बांग्लादेश, 2 जून (लंदन)

दक्षिण अफ्रीका vs भारत, 5 जून (साउथैंप्टन)

दक्षिण अफ्रीका vs वेस्टइंडीज, 10 जून (साउथैंप्टन)

दक्षिण अफ्रीका vs अफगानिस्तान, 15 जून (कार्डिफ)

दक्षिण अफ्रीका vs न्यूजीलैंड, 19 जून (बर्मिंघम)

दक्षिण अफ्रीका vs पाकिस्तान, 23 जून (लंदन)

दक्षिण अफ्रीका vs श्रीलंका, 28 जून (चेस्टर ली स्ट्रीट)

दक्षिण अफ्रीका vs ऑस्ट्रेलिया, 6 जुलाई (मैनचेस्टर)

दक्षिण अफ्रीका की वर्ल्ड कप में प्लेइंग 11 क्या हो सकती है ?

फाफ डू प्लेसी (कप्तान), क्विंटन डी कॉक, हाशिम अमला, एडेन मार्करम, जेपी डुमिनी, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, इमरान ताहिर, तबरेज शम्सी, डेल स्टेन और कगिसो रबाडा।

वर्ल्ड कप 2019 के लिए दक्षिण अफ्रीकी टीम की जर्सी

Enter caption

वर्ल्ड कप 2019 के लिए दक्षिण अफ्रीका की जर्सी लाइट ग्रीन है। आगे और पीछे दोनों तरफ लाइट ग्रीन कलर है। इसके अलावा बाजू पर ब्लैक शेड्स हैं। जर्सी के एक तरफ वर्ल्ड कप 2019 का लोगो है तो दूसरी तरफ दक्षिणी अफ्रीकी क्रिकेट टीम का लोगो है। स्पॉन्सर का नाम बाजूओं पर लिखा है।

विश्वकप में दक्षिण अफ्रीका का अब तक का प्रदर्शन:

दक्षिण अफ्रीका ने 1992 से वर्ल्ड कप में हिस्सा लेना शुरू किया तब से लेकर अब तक ये टीम 4 बार सेमीफाइनल, 2 बार क्वार्टरफाइनल और एक बार ग्रुप स्टेज तक पहुंची है। आइए नजर डालते हैं वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका के अभी तक के प्रदर्शन पर:

1992: सेमीफाइनल

1996:क्वार्टरफाइनल

1999: सेमीफाइनल

2003: ग्रुप स्टेज

2007:सेमीफाइनल

2011:क्वार्टरफाइनल

2015: सेमीफाइनल

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

दक्षिण अफ्रीकी टीम का पूरा विश्लेषण

टीम की ताकत:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीका की सबसे बड़ी ताकत इस वक्त उनकी गेंदबाजी है। कगिसो रबाडा के रूप में प्रोटियाज टीम के पास इस वक्त दुनिया का सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाज है। इसके अलावा डेल स्टेन के रूप में एक जबरदस्त अनुभवी गेंदबाज भी दक्षिण अफ्रीका के पास है। ये दोनों खिलाड़ी अपना दिन होने पर किसी भी बल्लेबाजी क्रम को तहस-नहस कर सकते हैं।

स्पिन डिपार्टमेंट की अगर बात की जाए तो इमरान ताहिर टीम के मुख्य हथियार होंगे। वो अपना आखिरी वर्ल्ड कप खेल रहे हैं और ऐसे में ताहिर अपना पूरा अनुभव इस दौरान झोंक देंगे। इस उम्र में भी विकेट निकालने की काबिलियत जो उनके पास है वो दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए सबसे बड़ा प्लस प्वॉइंट साबित हो सकता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

दक्षिण अफ्रीकी टीम की कमजोरी

Enter caption

दक्षिण अफ्रीका की सबसे बड़ी कमजोरी उनकी बल्लेबाजी है। अनुभवी हाशिम अमला का फॉर्म पिछले कुछ दिनों से अच्छा नहीं रहा है। एबी डीविलियर्स के संन्यास लेने के बाद मध्यक्रम में भी बल्लेबाजी कमजोर हो गई है। कप्तान फाफ डू प्लेसी के अलावा और कोई भी भरोसेमंद बल्लेबाज प्रोटियाज टीम के पास नहीं है।

हालांकि जेपी डुमिनी और डेविड मिलर जबरदस्त खिलाड़ी हैं लेकिन 2-3 विकेट जल्दी गिरने के बाद ये खिलाड़ी पारी को किस तरह संभाल पाते हैं ये देखना अभी बाकी है। कुल मिलाकर टीम की बल्लेबाजी सिर्फ क्विंटन डी कॉक और डू प्लेसी पर इस वक्त ज्यादा निर्भर है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

दक्षिण अफ्रीका के पास मौके:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीका के पास इस बार अपने ऊपर लगे चोकर्स के ठप्पे को हटाने का पूरा मौका है। टीम पिछले कुछ समय से अच्छा प्रदर्शन कर रही है और इस बार वे अपने वर्ल्ड कप टाइटल के सूखे को खत्म कर सकते हैं। डेल स्टेन, हाशिम अमला, जेपी डुमिनी और इमरान ताहिर जैसे खिलाड़ी अपना आखिरी वर्ल्ड कप खेल रहे हैं और वे इस लम्हे को जरूर यादगार बनाना चाहेंगे।

ये सभी खिलाड़ी अपने दम पर मैच जिताने का माद्दा रखते हैं और इस बार वो जरूर लॉर्ड्स में विश्व कप की ट्रॉफी उठाना चाहेंगे। टीम इस बार सेमीफाइनल से आगे बढ़कर फाइनल में जाना चाहेगी और उसे जीतना भी चाहेगी

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

दक्षिण अफ्रीका के लिए खतरा:

Enter caption

टूर्नामेंट के अहम मौकों पर 'चोक' कर जाना दक्षिण अफ्रीका के लिए सबसे बड़ा खतरा है। ये टीम दबाव में बिखर जाती है। 1992 में प्रोटियाज टीम ने अपना पहला वर्ल्ड कप खेला था और उसके बाद से टीम 4 बार सेमीफाइनल तक पहुंची है लेकिन उससे आगे नहीं बढ़ पाई है।

2015 का वर्ल्ड कप सेमीफाइनल हो या फिर 1999 का मैच इस टीम ने जीती हुई बाजी को हाथ से जाने दिया है। अगर प्रोटियाज टीम को वर्ल्ड कप की ट्रॉफी अपने नाम करनी है तो उन्हें इस खतरे से जरूर पार पाना होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment