Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

एम एस धोनी को लेकर ऋद्धिमान साहा ने दिया बड़ा बयान

एम एस धोनी
एम एस धोनी
SENIOR ANALYST
Modified 17 May 2020, 08:54 IST
न्यूज़
Advertisement

भारतीय टेस्ट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने एम एस धोनी को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने बताया है कि कैसे धोनी की वजह से उनकी बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग में सुधार हुआ। साहा ने कहा है कि उनके ऊपर धोनी का काफी प्रभाव रहा है।

स्पोर्ट्स तक पर खास बातचीत में ऋद्धिमान साहा ने कई अहम पहलुओं पर बात की। उन्होंने एम एस धोनी के बारे में खुलकर अपनी राय रखी। साहा ने बताया कि किस तरह धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में ऊंचे मापदंड निर्धारित किए और विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी को एक अलग स्तर तक ले गए।

ऋद्धिमान साहा
ऋद्धिमान साहा

ये भी पढ़ें: भारतीय क्रिकेट टीम सीमित ओवरों की सीरीज के लिए श्रीलंका का दौरा करने को तैयार है- बीसीसीआई

ऋद्धिमान साहा ने कहा 'माही भाई ने काफी ऊंचा स्टैंडर्ड स्थापित किया है। ना केवल भारतीय टीम में बल्कि पूरी दुनिया के विकेटकीपरों के लिए उन्होंने एक उदाहरण पेश किया है। सभी लोग उन्हें रोल मॉडल के तौर पर मामनते हैं। मैं भी माही भाई की तरफ सेकेंड्स में स्टंपिंग करना चाहता हूं।'

'एम एस धोनी के लिए मैं खुद प्लेइंग इलेवन से बाहर बैठ सकता हूं'

ऋद्धिमान साहा ने कहा कि एम एस धोनी की तरह रणनीति बनाने और उनकी तरह सोचने के लिए मैंने हर वो चीज की जो मेरे सामने आती गई। यहां तक की साहा ने ये भी कहा कि किसी भी प्लेइंग इलेवन में अगर धोनी को जगह मिले तो वो खुद बाहर बैठ सकते हैं।

ये भी पढ़ें: विराट कोहली ने शुरु की ट्रेनिंग, सामने आया वीडियो

साहा ने कहा 'हमारी उम्र में 4-5 साल का अंतर है। जब हम दोनों टीम में थे तो मुझे पता था कि मुझे प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका नहीं मिलेगा। मैंने उसे एक मौके की तरह लिया और माही भाई से काफी कुछ सीखा। अगर मुझसे पूछा जाए तो मैं खुद बाहर बैठ जाउंगा और एम एस धोनी का नाम प्लेइंग इलेवन में दूंगा।'

Advertisement

ऋद्धिमान साहा ने इसके अलावा ऋषभ पंत को लेकर भी बड़ा बयान दिया। साहा ने कि मैंने और ऋषभ ने आपस में विकेटीपिंग के बारे में काफी बातें की है।

ये भी पढ़ें: वनडे में भारत की तरफ से हैट्रिक लेने वाले 4 गेंदबाज

साहा ने कहा 'जब ऋषभ पंत भारतीय टीम के लिए अच्छा कर रहा था तो मुझे पता था कि वो लगातार खेलेगा। इसलिए मैंने अपने मौके का इंतजार किया। जब उसने इंग्लैंड में शतक बनाया तो मैंने उसे मैसेज किया। हमने एनसीए में बिताए गए अपने दिनों के बारे में बात किया और इंग्लैंड की परिस्थितियों और विकेटकीपर्स के लिए स्विंग फैक्टर के बारे में बात की।'

Published 17 May 2020, 08:54 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit