Create

महिला यूरो कप : नॉर्वे को बुरी तरह हराकर इंग्लैंड क्वार्टरफाइनल में 

नॉर्वे के खिलाफ गोल का जश्न मनाती इंग्लैंड की टीम।
नॉर्वे के खिलाफ गोल का जश्न मनाती इंग्लैंड की टीम।
Hemlata Pandey

मेजबान इंग्लैंड ने महिला यूरो कप 2022 के क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली है। टीम ने पूल ए के अपने दूसरे मैच में नॉर्वे को 8-0 के बड़े अंतर से हराकर 3 अंक बटोरे और अंतिम 8 में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई। UEFA महिला चैंपियनशिप के नाम से पहचानी जाने वाली इस प्रतियोगिता का खिताब पहली बार जीतने के इरादे से उतरी इंग्लैंड ने नॉर्वे को यूरो चैंपियनशिप में उसकी सबसे बड़ी हार दिलाई। ये यूरो इतिहास में किसी भी टीम की सबसे बड़ी जीत है।

Qualified for the #WEURO2022 quarter finals ✅ https://t.co/X1F8c17Xf8

इंग्लैंड की टीम ने ब्राइटन में हुए मैच की शुरुआत से ही दबदबा बनाए रखा। मैच के शुरुआती 10 मिनटों में दोनों टीमें ठीक खेल दिखा रहीं थीं, लेकिन 12वें मिनट में इंग्लैंड को पेनेल्टी मिली जिसे जॉर्जिया स्टैनवे ने गोल में बदला और इसके बाद नॉर्वे का डिफेंस लगातार कमजोर होता गया। लॉरेन हेम्प ने 15वें, एलेन व्हाइट ने 29वें और 41वें, एलिसिया रूसो ने 66वें मिनट में गोल दागा। इंग्लैंड की जीत की नायक रही बेथ मीड जिन्होंने 34वें, 38वें और 81वें मिनट में गोल कर हैट्रिक लगाई।

नॉर्वे के खिलाफ हैट्रिक लगाने वाली बेथ मीड।
नॉर्वे के खिलाफ हैट्रिक लगाने वाली बेथ मीड।

नॉर्वे ने इससे पहले साल 2009 में जर्मनी के खिलाफ 4-0 से मात खाई थी और अब इंग्लैंड के खिलाफ अपनी सबसे बड़ी हार का सामना किया है।

Top spot 𝗦𝗘𝗖𝗨𝗥𝗘𝗗 🏴󠁧󠁢󠁥󠁮󠁧󠁿✅Here's how Group A at #WEURO2022! https://t.co/WDfYzWB84B

ये पूल ए में इंग्लैंड की दूसरी जीत है। इससे पहले टीम ने ऑस्ट्रिया को 1-0 से हराया था। पूल ए के एक अन्य मैच में ऑस्ट्रिया ने उत्तरी आयरलैंड के खिलाफ 2-0 से जीत दर्ज की। फिलहाल कुल 6 अंक लेकर इंग्लैंड की टीम क्वार्टरफाइनल में पहुंच गई है। 15 जुलाई को इंग्लैंड की टीम टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी उत्तरी आयरलैंड के खिलाफ आखिरी पूल मैच खेलेगी। वहीं नॉर्वे का सामना ऑस्ट्रिया से होगा। जो भी टीम मैच जीतेगी, वो इंग्लैंड के साथ क्वार्टरफाइनल में पहुंच जाएगी।

महिला यूरो 2022 में कुल 16 टीमों ने ग्रुप स्टेजों के जरिए क्वालीफाई किया है। पिछली बार साल 2017 में प्रतियोगिता हुई थी, जिसमें नीदरलैंड की टीम विजेता रही थी। मेजबान इंग्लैंड की टीम आज तक सिर्फ दो बार साल 1984 और 2009 में फाइनल में पहुंची है और दोनों बार टीम को हार का सामना करना पड़ा।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...