Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप 2018: पनामा को 6-1 से रौंदकर इंग्लैंड नॉकआउट में पहुंचा, केन ने दागा हैट्रिक

25 Jun 2018, 02:58 IST

कप्तान हैरी केन की हैट्रिक की मदद से इंग्लैंड ने विश्व कप के ग्रुप जी मुकाबले में पनामा को 6-1 से रौंदकर नॉकआउट के लिए क्वालीफाई किया। केन ने 22वें, 45+1 और 62वें मिनट में गोल दागा। इंग्लैंड के लिए जॉन स्टोन्स ने आठवें औऱ 40वें मिनट में दो गोल किए। वहीं जेसी लिंगार्ड ने 36वें मिनट में एक गोल किया। पनामा के लिए एकमात्र गोल फेलिप बेलोय ने 78वें मिनट में किया।
इंग्लैंड की विश्व कप इतिहास में यह सबसे बड़ी जीत है। टीम ने 1966 में खिताब जीतने के बाद पहली बार विश्व कप के किसी मैच में चार से ज्यादा गोल दागे हैं। केन मौजूदा टूनार्मेंट में पांच गोल के साथ गोल्डन बूट की दौड़ में सबसे आगे हो गए हैं। साथ ही वह इंग्लैंड के लिए विश्व कप में हैट्रिक गोल दागने वाले तीसरे खिलाड़ी हैं।
इंग्लैंड की इस शानदार जीत से बेल्जियम का भी अंतिम 16 में स्थान पक्का हो गया। बेल्जियम और इंग्लैंड के इस ग्रुप में छह-छह अंक हैं। पनामा हार के साथ टूनार्मेंट से बाहर हो गई।
इंग्लैंड ने मैच की बेहतरीन शुरूआत की। मैच के पांचवे मिनट में केन के पास गोल करने का मौका था लेकिन उनके दमदार शॉट को पनामा के एडगर बासेर्नास ने रोक लिया। इसके तीन मिनट बाद ही इंग्लैंड के स्टोन्स ने गोल दागकर इंगलैंड को बढ़त दिला दी। 22वें मिनट में पेनल्टी के सहारे लिंगार्ड ने गोल कर टीम की बढ़त दोगुनी कर दी। 36वें मिनट में एश्ले यंग और रहीम स्टर्लिंग ने पनामा के डिफेंस को छकाते हुए गेंद लिंगार्ड की ओर बढ़ाई जिन्होंने दमदार शॉट लगाकर टीम की बढ़त 3-0 कर दी। महज चार मिनट बाद इंग्लैंड ने एक और गोल ठोका।
पहले हाफ के इंजुरी टाइम में पनामा के डिफेंडरों ने केन को बॉक्स में गिरा दिया जिससे उसे पेनल्टी किक मिली। केन ने बिना चूके इसे गोल में बदलकर टीम को पांच गोल से आगे कर दिया।
दूसरे हाफ में भी इंग्लैंड का दबदबा जारी रहा। 62वें मिनट में अपनी हैट्रिक पूरी करते हुए केन ने इंग्लैंड को 6-0 से आगे कर दिया। 70वें मिनट में ग्रैबियल गोमेज की जगह बेलोय को उतारा गया और उन्होंने टीम की ओर से विश्व कप का पहला गोल दागा।

कोलंबिया से हारकर अंतिम 16 से बाहर हुआ पोलैंड
फीफा विश्व कप के मुकाबले में पोलैंड को कोलंबिया के हाथों 3-0 से हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही वह नॉकआउट की दौड़ से भी बाहर हो गया है। कोलंबिया के लिए 40वें मिनट में पहला गोल येरी मीना ने दागा। इसके बाद दूसरा गोल राडामेल फालकाओ ने 70वें मिनट में और तीसरा जुआन कुआड्राडो ने 75वें मिनट में दागा।
मैच का पहला हाफ शानदार रहा। 40वें मिनट में कोलंबिया को मौका मिला और उसके लिए येरी ने गोल दागकर टीम को बढ़त दिला दी। इस गोल में रोड्रिगेज ने उनकी सहायता की। पहला हाफ खत्म होने तक कोलंबिया 1-0 से आगे थी। दूसरे हाफ के शुरूआती मिनटों में ही पोलैंड को मौका मिला लेकिन उसके खिलाड़ी नाकाम रहे। मैच के 70वें मिनट में फालकाओ ने कोलंबिया के लिए दूसरा गोल किया। इसके बाद कुआड्राडो ने एक गोल दागकर कोलंबिया की जीत पक्की कर दी। कुआड्राडो को रोड्रिगेज से शानदार पास मिला जिसे उन्होंने गोल में बदल दिया।

जापान ने सेनेगल को 2-2 से ड्रॉ पर रोका
केइसुके होंडा के गोल की बदौलत जापान ने पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए सेनेगल को 2-2 से बराबरी पर रोका। इस परिणाम से उसके नॉकआउट में क्वालीफाई करने की उम्मीदें जीवंत हैं। सेनेगल के लिए सादियो माने ने 11वें और मूसा वेग ने 71वें मिनट में गोल दागा। वहीं जापान के लिए एक अन्य गोल 14वें मिनट में तकासी इनयुई ने दागा।
दोनों टीमों ने बेहद सतर्क शुरूआत की। उनके खिलाड़ियों ने पहले हाफ में अधिकांश खेल मिडफील्ड में ही खेला। हालांकि इस बीच दोनों की कोशिश एक दूसरे के डिफेंस को भेदने की रही। मैच के 11वें मिनट में सादियो माने ने गोल दागकर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। सबाली के शॉट को जापानी गोलकीपर ने रोका लेकिन वह गेंद को नहीं पकड़ सके और माने ने इसे गोल में बदला।
जापान ने इसके बाद थोड़ी आक्रमकता दिखाई और 34वें मिनट में तकाशी इनयुई ने टीम के लिए बराबरी का गोल दागा। दोनों के बीच पहला हाफ 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ। दूसरे हाफ में सेनेगल ने 55वें मिनट में मौका बनाया लेकिन नियांग के शॉट को कावशिमा ने रोक दिया। जापान को 61वें मिनट में बढ़त बनाने का मौका मिला लेकिन वे नाकाम रहे। 71वें मिनट में सेनेगल के लिए वेग ने गोल दागा और टीम को 2-1 से आगे कर दिया। हालांकि इसके तुरंत बाद ही 78वें मिनट में केइसुके होंडा ने गोल दागकर मैच को बराबरी पर ला दिया। अंत में दोनों के बीच मैच 2-2 से ड्रॉ पर समाप्त हुआ।

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...