Create
Notifications

फुटबॉल फ्रेंडली: फ्रांस की विशाल जीत, स्‍पेन के खिलाफ नहीं चला रोनाल्‍डो का जादू

क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो
क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो
Vivek Goel
visit

फ्रांस ने बुधवार को यूरोपीय फुटबॉल फ्रेंडली मुकाबले में यूक्रेन को एकतरफा मुकाबले में 7-1 से धोया जबकि क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो की पुर्तगाल और स्‍पेन के बीच लिस्‍बन में खेला गया मुकाबला बिना किसी गोल के ड्रॉ रहा। क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो के पास गोल करने के कई मौके आएं, लेकिन वह चूक गए। क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो अच्‍छी लय में नजर नहीं आएं। रोनाल्‍डो का एक किक तो गोलपोस्‍ट पर लगा, लेकिन गोल नहीं हुआ। वहीं कोलोग्‍ने में तुर्की ने जर्मनी के खिलाफ 3-3 से ड्रॉ खेलकर अपनी साख बचाई। स्‍टाडे डे फ्रांस में युवा एडुआर्डो कामाविंगा और अनुभवी ओलिवर जिरू ने यूक्रेन के खिलाफ तबाही मचाई।

17 साल के कामाविंगा ने अपना नाम आंकड़ों की किताब में दर्ज कराया क्‍योंकि वह एक दशक में फ्रांस के लिए गोल करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने। कामाविंगा ने 9वें मिनट में गोल करके फ्रांस का खाता खोला। डेसचैंप्‍स ने अपना 100वां मुकाबला खेल रहे जिरू को कप्‍तानी की जिम्‍मेदारी सौंपी और चेल्‍सी के फॉरवर्ड ने इस जिम्‍मेदारी को बखूबी निभाते हुए पहले हाफ में दो गोल दाग दिए। अब जिरू के 42 अंतरराष्‍ट्रीय गोल हो चुके हैं और वह थिएरा हेनरी के 51 गोल से 9 गोल पीछे हैं।

34 साल के जिरू ने मैच के बाद कहा, 'मैंने सिर्फ खेल जारी रखा और इंतजार किया कि कितना आगे तक जा सकता हूं।' वहीं डेसचैंप्‍स ने कहा, 'जिरू ने दो गोल अपने खाते में जोड़े और देखा आपने कि कितने शानदार गोल थे।' बता दें कि फ्रांस के पास जब शीर्ष स्‍ट्राइकर्स की कमी आई थी, तब भी डेसचैंप्‍स ने जिरू पर भरोसा कायम रखते हुए उन्‍हें मौका दिया था। पीएसजी के कायलिन मबापे, बायर्न म्‍यूनिख के कोरेंटिन टोलिसो और बार्सिलोना के स्‍ट्राइकर एंटोनी ग्रिजमैन ने भी शानदार गोल करके अपनी छाप छोड़ी। यूक्रेन की टीम अपने खिलाड़‍ियों की चोटों से परेशान थी और इसका नतीजा यह रहा है कि 45 साल के कोच मैच की रात दूसरे गोलकीपर के रूप में खेले।

फुटबॉल फ्रेंडली में रोनाल्‍डो का जल्‍वा गायब

क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो और रेनाटो सांचेज ने पुर्तगाल के लिए गोल करने के कई मौके बनाए, लेकिन फिर भी स्‍पेन के खिलाफ मुकाबला 0-0 की बराबरी पर समाप्‍त हुआ। स्‍पेन ने मैच में पुर्तगाल की तुलना में ज्‍यादा बेहतर प्रदर्शन किया। स्‍पेन के कोच लुईस एनरिक ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से हमने पुर्तगाल से बेहतर खेला। उनके पास गोल करने के कई मौके आए, लेकिन हमने भी मौके बनाएं।' पुर्तगाल और स्‍पेन दोनों नेशंस लीग ग्रुप में शीर्ष पर हैं। पुर्तगाल ने क्रोएशिया और स्‍वीडन को मात देकर सर्वाधिक अंक हासिल किए जबकि स्‍पेन ने यूक्रेन को मात दी और जर्मनी के साथ ड्रॉ खेला और उसके चार अंक है।

वहीं तुर्की ने जर्मनी के खिलाफ 3-3 से मुकाबला ड्रॉ कराया। जर्मनी के कोच जोआचित लो ने कहा, 'मैं निराश और गुस्‍सा हूं। हमारी कुछ समय से यह दिक्‍कत है और अन्‍य गेमों में ऐसी ही चीजें हुईं।'


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now