5 जून से भारतीय फुटबॉल टीम खेलेगी किंग्स कप, नए मैनेजर के साथ होगा यह पहला टूर्नामेंट

Indian Team

5 जून से 8 जून तक किंग्स कप 2019 थाईलैंड में खेला जाएगा। यह 47वां मौका होगा, जब इस टूर्नामेंट को आयोजन किया जाएगा। इस टूर्नामेंट में कुल 4 मैच खेले जाएंगे, जिसका पहला मुकबला 5 जून को भारत और कुराकाओ के बीच खेला जाएगा।

आपको बता दे कि, किंग्स कप की शुरुआत 1968 में की गई थी। वह तब से यह प्रत्येक वर्ष खेला जाता है। इस टूर्नामेंट को सर्वाधिक 15 बार थाईलैंड ने जीता है। इस टूर्नामेंट के गत विजेता स्लोवाकिया है जिन्होंने इसे कुल 2 बार जीता है। अगर बात भारत की करें तो उसने यह टूर्नामेंट पहली बार वर्ष 1977 में खेला था और वह बैंकॉक में खेला गया था। इस इवेंट में भारत ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 7 में से 5 मैच अपने नाम किए थे और अंक तालिका में तीसरे स्थान पर रह कर इस टूर्नामेंट को समाप्त किया। कुल मिलाकर भारत ने सिर्फ 2 ही बार इस टूर्नामेंट में शिरकत की है।

इस वर्ष यह पहला मौका होगा जब भारत इगोर स्टिमैक की कोचिंग में पहली बार मैदान पर उतरेगी। गौरतलब है कि इस क्रोएशियाई कोच को कोचिंग का 18 साल का अनुभव है, भारतीय कप्तान सुनील छेत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर क्रोएशियाई कोच के लिए लिखा, ‘मैं नए बॉस इगोर स्टिमैक का राष्ट्रीय टीम का कोच नियुक्त किए जाने पर तहेदिल से स्वागत करता हूं'।

इस 34 साल खिलाड़ी ने आगे लिखा, 'उन्हें अपार अनुभव है और उन्होंने फुटबॉल में शीर्ष स्तरों पर कोचिंग दी है। हम इसका फायदा उठाकर अच्छा प्रदर्शन करेंगे’। इस टूर्नामेंट में जाने के लिए कुल 37 खिलाड़ियों का नाम कोच के सामने रखा गया था, जिसके बाद उन्होंने 6 खिलाड़ियों का रिलीज कर 31 खिलाड़ियों को आगे जाने का मौका दिया मगर इसमें से भी मात्र 23 खिलाड़ी ही थाईलैंड की फ्लाइट पकड़कर किंग्स कप टूर्नामेंट में शिरकत करेंगे।

गोलकीपर: गुरप्रीत सिंह संधू, अमरिंदर सिंह, कमलजीत सिंह

डिफेंडर: राहुल भेके, संदेश झिंगन, प्रीतम कोताल, निशु कुमार, आदिल खान और शुभाशीष बोस.

मिडफील्डर : उदांता सिंह, जैकीचंद सिंह, ब्रेंडन फर्नांडिस, अनिरूद्ध थापा, रेनियर फर्नांडिस, प्रणय हलधर, विनित राय, सहल अब्दुल, अमरजीत सिंह और लालरिंजुआला

Edited by निशांत द्रविड़