Create

ISL 2018-19: एटीके ने दिल्ली को 2-1 से हराया

Enter caption
Enter caption

दिल्ली डायनामोज एक बार फिर अपने घरेलू मैदान पर जीत दर्ज करने में नाकाम रही। दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में इंडियन सुपर लीग के पांचवें सत्र के मुकाबले में एटीके ने उसे को 2-1 से हराया। इसके साथ ही उसने इस सत्र में अपना खाता खोल लिया। मैच एक समय 1-1 की बराबरी पर चल रहा था लेकिन 81वें मिनट में कालू उचे की जगह मैदान पर उतरे अल नासिर ने चार मिनट बाद ही गोल कर एटीके को जीत दिला दी।

इस मैच का पहला हाफ एटीके के नाम रहा। उसने गोल के लिए लगातार हमले किए। पहले हाफ के 20वें मिनट में ही बलवंत सिंह ने गोल कर टीम को 1-0 की शानदार बढ़ल दिलाई। एटीके ने शुरू से ही अपनी आक्रमण की रणनीति अपनाते हुए दिल्ली को परेशान किया। मैच के 10वें मिनट में एटीके ने दिल्ली के घेरे में प्रवेश किया और कालू के पास गोल करने का बेहतरीन मौका था लेकिन उनका हेडर शॉट बाहर चला गया।

मैच के 16वें मिनट में एक बार फिर कालू के पास गोल करने का मौका था। हालांकि इस बार भी दिल्ली के गोलकीपर के कारण वे गोल दागने में असफल रहे। एटीके के आक्रमण के सामने दिल्ली का डिफेंस कमजोर पड़ा जा रहा था। दिल्ली कुछ और कर पाती उससे पहले ही बलवंत ने गोल दागकर दिल्ली को सन्न कर दिया। दाएं छोर से मैनुएल लैंजारोते ने गेंद बॉक्स के भीतर बलवंत की दी और उन्होंने बिना कोई गलती किए गोल किया। एटीके का यह सीजन का पहला गोल है। इससे पहले वह दो मैचों में गोल नहीं कर पाई थी। पहले हाफ के अंत तक दिल्ली ने कुछ अच्छे मौके बनाए लेकिन उसे गोल में नहीं बदल पाई।

दूसरे हाफ में दिल्ली ने वापसी की भरपूर कोशिश की। कप्तान प्रीतम कोटल ने मैच के 54वें मिनट में गोल दाग कर मैच का स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। दरअसल, दिल्ली को कॉर्नर मिला। इसे नारायण दास ने लिया। उनकी किक गोलपोस्ट से दूर खड़े राणा घारामी के पास गई। राणा ने इसे हेडर के सहारे कप्तान कोटल के पास पहुंचाया। कोटल ने बिना गलती किए गेंद को नेट में डालकर मैच में बराबरी की।

गोल करने के बाद दिल्ली ने आक्रमण तेज कर दी। दो मिनट बाद ही उसने एक और मौक बनाया। आंद्रेजा को गंद मिली। हालांकि वो गोलकीपर को छकाने में नाकाम रहे। इस बीच दिल्ली ने अपने टीम में बदलाव किया और 61वें मिनट में शुभम सारंगी को बाहर कर मैदान पर एड्रिया कारमोना को बुलाया गया। 66वें मिनट में नंदकुमार सेकर को बाहर कर फर्नांडेज को मैदान उतारा गया।

चार मिनट बाद एटीके ने भी बदलाव किया। उसने कोमल को बाहर बुला कर जयेश को मैदान पर उतारा। दोनों टीमों में बदलाव के बाद गोल करने को लेकर उत्सुकता बढ़ गई। हालांकि इस बीच राणे के पास गेंद पहुंची और उन्होंने गेंद माइमोउनी को पास किया। माइनोउनी ने बिना गलती किए गेंद को नेट में डाला और एटीके की जीत सुनिश्चित की। मैच के आंकड़ों को ध्यान में रखा जाए तो शॉट लगाने के मामले में दिल्ली की टीम आगे रही लेकिन लक्ष्य पर शॉट लगाने के मामले में एटीके ने बाजी मारी।

Quick Links

Edited by संदीप भूषण
Be the first one to comment