COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

ISL 2018-19 : बंगलुरु एफसी ने एटीके को 2-1 से हराया

न्यूज़
52   //    31 Oct 2018, 23:18 IST

E
E

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सत्र में भी दो बार की विजेता टीम एटीके का खराब फॉर्म जारी है। बंगलुरु एफसी ने बुधवार को उसे उसके घरेलू मैदान पर रोमांचक मुकाबले में 2-1 से हरा दिया। साल्ट लेक स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में एटीके ने पहले बढ़त बनाई लेकिन वह न तो आगे इसे कायम रख पाई और न ही कोई अन्य गोल दाग पाई। इस जीत के बाद बंगलुरु की टीम चार मैचों में तीन जीत और एक ड्रॉ के साथ 10 अंक लेकर तालिका में तीसरे स्थान पर है। वह दूसरा स्थान हासिल कर लेती लेकिन गोवा के भी 10 अंक हैं और वह गोल अंतर के मामले में इससे बेहतर है।

घरेलू मैदान पर जीत की तलाश में उतरी एटीके के लिए बंगलुरु से पार पाना आसान नहीं था। हलांकि उसने मैच में शानदार शुरुआत की। अपने आक्रमक तेवर की बदौलत उसने मैच के 15वें मिनट में ही गोल दाग कर टीम को 1-0 से आगे कर दिया। दरअसल, मैच की शुरुआत से ही बंगलुरु के खिलाड़ी मेजबान पर दबाव बना चाह रहे थे लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा था। मैच के 15वें मिनट में एटीके को गोल करने का पहला मौका मिला और उसके लिए कोमल थाटल ने इस मौके को भुनाया। इस गोल में एवरटन सांतोस ने उनकी मदद की सांतोस ने गेंद कोमल के पास भेजी। कोमल ने गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू के बाएं कोने से गेंद नेट में डाल कर एटीके को जश्न मनाने का मौका दिया।

इस गोल के बाद भी मेहमान टीम के खिलाड़ी हताश नहीं हुए। गोल होने के छह मिनट बाद ही मिकू ने मौका बनाकर शॉट लगाया लेकिन वे इसे गोल में नहीं बदल पाए। नीशू कुमार ने गेंद मिकू को दी जिन्होंने हेडर के सहारे उसे नेट में डालना चाहा। इस बीच एटीके के गोलकीपर अरिंदम भट्टाचार्य ने शानदार बचाव किया।

मैच के 36वें मिनट में कालू उचे, कोमल और लौंजारोते ने एटीके के लिए बेहतरीन मौका बनाय लेकिन बीच में नीशू आ गए। इसके दो मिनट बाद ही एटीके की रक्षापंक्ति ने शानदार खेल दिखाकर उदांता, मिकू और सुनील छेत्री के प्रयास को नकार दिया। मैच के 42वें मिनट में ही एटीके ने मैच का पहला बदलाव किया और उचे को बाहर भेजकर नासिर अल मेइमाउनी को मैदान पर उतारा। उचे चोटिल हो गए थे। उन्हें अल्बर्ट सेरान ने गिरा दिया था। चोट ज्यादा होने के कारण उ्न्हें स्ट्रेचर पर बाहर ले जाया गया।

इसके बाद इंजुरी टाइम में बंगलुरु ने गोल का इंतजार खत्म किया और फ्री किक पर गोल दाग कर स्कोर बराबर किया। फ्री किक पर गेंद मिकू ने लिया और उन्होंने गोल दागने में कोई गलती नहीं की। यह मिकू का इस सत्र का तीसरा गोल था। अब उन्होंने गोल के मामले में अपने कप्तान की बराबरी कर ली है।

पहले हाफ में स्कोर बराबर होने के बाद दूसरे हाफ में दोनों टीमों का लक्ष्य बढ़त बनाना था। हालांकि इस मामले में बंगलुरु की टीम सफल रही। उसने मैच के 47वें मिनट में ही एरिक पार्टालू की मदद से बढ़त बना ली। पार्टालू ने बॉक्स के दाहिने कोने पर गेंद लिया और शानदार स्ट्राइकर ने गोल दागने में कोई गलती नहीं की। बंगलुरु अब मैच में 2-1 से आगे हो गया। हालांकि इसके तुरंत बाद ही पार्टालू को पीला कार्ड दिखाया गया।

बढ़त बनाने के बाद बंगलुरु के खिलाड़ी रक्षात्मक खेलने लगे। मैच में समय के साथ दोनों टीमें धीमी होने लगी। मैच के 69वें मिनट में सांतोस और लौंजारोते ने एक और प्रयास किया लेकिन संधू ने इसे विफल कर दिया। अंतिम क्षणों में एटीके ने बराबरी की कोशिश की लेकिन वह इसमें नाकाम रहा।

Topics you might be interested in:
ANALYST
संदीप भूषण राष्ट्रीय अखबार जनसत्ता में खेल पत्रकार के तौर पर कार्यरत हैं। इससे पहले वह दैनिक जागरण में भी काम कर चुके हैं। इनके क्रिकेट और हॉकी के साथ ही कबड्डी, फुटबॉल और कुश्ती से जुडे कई लेख राष्ट्रीय अखबारों में छप चुके हैं।
Fetching more content...