Create

बेंगलुरु एफसी ने नॉर्थईस्ट एफसी से ड्रॉ खेला

Enter caption

आईएसएल के एक रोमांचक मुकाबले में बुधवार को मैच के अंतिम क्षणों में मैदान पर कदम रखने वाले चेंचो गेल्टशेन ने बेंगलुरु एफसी को सत्र की पहली हार से बचा लिया। चेंचो के गोल की बदौलत बेंगलुरु ने नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी को 1-1 की बराबरी पर रोका। फेड्रेरिको गालेगो के मैच के 64वें मिनट में किए गए गोल की मदद से नॉर्थईस्ट ने मैच में 1-0 की बढ़त बना ली थी लेकिन इंजुरी टाइम में चेंचो ने टीम को हार से बचा लिया।

मैच की शुरुआत काफी धीमी रही। हालांकि पवन कुमार की एक गलती शुरुआत में ही नॉर्थईस्ट पर भारी पड़ सकती थी। 11वें मिनट में उनके पास गेंद आई। सुनील छेत्री ने तेजी दिखाते हुए गेंद उनके कब्जे से ले ली। उन्होंने शॉट लगाने की कोशिश की लेकिन पवन की किस्मत ठीक थी और छेत्री की खराब कि गेंद गोल किक के लिए चली गई।

दोनों टीमों से इस मैच में कड़े टक्कर की उम्मीद की जा रही थी। दोनों ही टीमें काफी शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। मैच का पहला हाफ इसका नमूना रहा जब दोनों टीमों के डिफेंस और आक्रमण का मिलाजुला खेल स्कोर बोर्ड पर कोई गोल नहीं जोड़ सका। पहले हाफ में नॉर्थईस्ट की ओर से ओग्बेचे सबसे ज्यादा सक्रिकय खिलाड़ी रहे।

मैच के दूसरे हाफ में भी नाइजीरिया के ओग्बेचे ने अपनी सक्रियता में कोई कमी नहीं आने दी। इसी क्रम में मैच के 54वें मिनट में गोल दागने की कोशिश की लेकिन उसे ब्लॉक कर दिया गया। बेंगलुरु इसके बाद काफी सतर्क हो गई थी। वह ओग्बेचे के हर आक्रमण को काफी ध्यान से देख रही थी। हालांकि इसी कारण वह गालेगो को भूल गई। इस बीच गालेगो ने गोल दागकर नॉर्थईस्ट को 1-0 की बढ़त दिला दी।

यही बढ़त मैच के अंतिम लम्हें तक खिचता चला गया। ऐसा लग रहा था कि मैच नॉर्थईस्ट के खाते में चली जाएगी। इस बीच चेंचो ने इंजुरी टाइम में गोल कर नॉर्थईस्ट को स्तब्ध कर दिया। चेंचो के इस गोल में बेंगलुरु के कप्तान छत्री ने उनकी मदद की। छेत्री के पास जैसे ही गेंद पहुंची उन्होंने तुरंत इसे चेंचो को दी। चेंचो ने भी बगैर कोई गलती किए गेंद को गोलपोस्ट में भेजकर इस रोमांचक मैच का अंत ड्रॉ के साथ किया।

Quick Links

Edited by संदीप भूषण
Be the first one to comment