ISL: एससी ईस्‍ट बंगाल के खिलाफ वियजी क्रम जारी रखना चाहेगी एफसी गोवा

एफसी गोवा
एफसी गोवा

एफसी गोवा ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के प्‍लेऑफ में पहुंचने के लिए अपनी स्थिति मजबूत कर रखी है। एफसी गोवा ने पिछले छह मैचों में कोई मैच नहीं गंवाया जबकि तीन जीत दर्ज की। अब एफसी गोवा का शुक्रवार को फटोर्डा के जवाहरलाल नेहरू स्‍टेडियम में एससी ईस्‍ट बंगाल से सामना होगा।

एफसी गोवा आईएसएल की अंक तालिका में तीसरे स्‍थान पर है। वहीं एससी ईस्‍ट बंगाल पहली बार इंडियन सुपर लीग में हिस्‍सा ले रही है और उसका संघर्ष भरा सफर जारी है। मौजूदा आईएसएल की अंक तालिका में ईस्‍ट बंगाल की टीम 10वें स्‍थान पर काबिज है।

इस मैच में गोवा एफसी को अपने मुख्य डिफेंडर इवान गोंजालेज और जेम्स डोनाची के बिना ही मुकाबले में उतरना पड़ेगा। गोंजालेज को पिछले मैच में केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ रेड कार्ड दिखाया गया था जबकि डोनाची चोटिल है। मेजबान गोवा को इसके अलावा अपने मुख्य कोच जुआन फेरांडो की भी सेवाएं नहीं मिल पाएंगी, जिन्हें पिछले मैच में ही एक मैच के लिए निलंबित कर दिया गया था। हालांकि सहायक कोच क्लिफोर्ड मिरांडा का मानना है कि गोवा सही दिशा में आगे बढ़ रही है।

मिरांडा ने कहा, 'सबसे महत्चपूर्ण चीज यह है कि इस अवधि के दौरान टीम अजेय रही है। हम कदम दर कदम आगे बढ़ रहे हैं और अपने लक्ष्यों को हासिल कर रहे हैं। कोच भी यही चाहते हैं कि हम इस तरह से खेले।' पिछली बार गोवा एफसी और एससी ईस्‍ट बंगाल दोनों टीमें जब एक दूसरे से भिड़ी थी तो ईस्ट बंगाल ने अपने 10 खिलाड़ियों के साथ खेलते हुए गोवा को 1-1 से ड्रॉ पर रोका था। उस मैच में ईस्ट बंगाल के ब्राइट एनोबाखरे ने टीम के लिए बराबरी का गोल दागा था।

उन्होंने कहा, 'वह (ब्राइट) एक अच्छे खिलाड़ी है और इसमें कोई दोराय नहीं है कि उनके आने के बाद से टीम संतुलित हुई है। लेकिन अगर आप एक ही खिलाड़ी पर ध्यान देंगे तो बाकी नौ आपको नुकसान पहुंचा सकता है।'

एफसी गोवा का एससी ईस्‍ट बंगाल के खिलाफ पलड़ा भारी

एससी ईस्ट बंगाल सात मैचों से अजेय चल रही थी। मगर पिछले मैच में टेबल टॉपर मुंबई सिटी से हारने के बाद उसका अजेयक्रम रूक गया था। ईस्ट बंगाल के सहायक कोच टोनी ग्रांट का मानना है कि वे निश्चित रूप से अपने इन-फॉर्म विरोधियों के खिलाफ अपने मौके की उम्मीद कर सकते हैं।

उन्होंने कहा, 'यह निश्चित रूप से एक मौका है (जीत की पटरी पर लौटने का)। इस सीजन में हमने अपने कप्तान (डैनी फॉक्स) को जल्दी गंवा दिया और इससे हमें मदद नहीं मिली। जब आप अपने दो बेहतर खिलाड़ियों को खोते हैं तो हर टीम को इसका नुकसान होता है।'

यह देखाना दिलचस्प होगा कि क्या भारतीय डिफेंडर आदिल खान को गोवा की टीम में मौका मिलता है या नहीं, जो हैदराबाद एफसी से लोन पर आए हैं।

Quick Links