U-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप : जीत के साथ जापान क्वार्टरफाइनल में, गत चैंपियन स्पेन को मिली शिकस्त

स्पेन के खिलाफ जीत के बाद जश्न मनातीं मेक्सिको की टीम।
स्पेन के खिलाफ जीत के बाद जश्न मनातीं मेक्सिको की टीम।

पूर्व चैंपियन जापान की महिला टीम अंडर-17 फीफा फुटबॉल वर्ल्ड कप के क्वार्टरफाइनल में पहुंच गई है। जापान ने ग्रुप डी में लगातार दूसरी जीत दर्ज कर अंतिम 8 में स्थान पक्का किया। गोवा के मारगाओ में हुए मुकाबले में जापान ने कनाडा के खिलाफ 4-0 से जीत हासिल की और कनाडा को टूर्नामेंट से बाहर भी कर दिया। पहले मुकाबले में भी जापान को तंजानिया के खिलाफ 4-0 से जीत मिली थी।

2014 की चैंपियन और 2010, 2016 की उपविजेता जापान ने पूरे समय मैच में दबदबा बनाए रखा। टीम की खिलाड़ियों ने 9वें, 37वें, 52वें मिनट में तो गोल दागे ही, साथ ही इंजरी टाइम में भी टीम ने गोल कर कनाडा के खिलाफ चार गोल की बढ़त बना ली। जापान के पास 2 मैचों से 6 अंक हैं और ग्रुप डी में वो पहले नंबर पर हैं।

जापान के अलावा तंजानिया ने ग्रुप डी में ही फ्रांस पर 2-1 से जीत हासिल कर 3 अंक बटोरे। तंजानिया की टीम की ये इस टूर्नामेंट के इतिहास की पहली जीत है। अब 18 अक्टूबर को जापान का सामना फ्रांस से और तंजानिया का मुकाबला कनाडा से होगा। जापान के अलावा एक और टीम इस ग्रुप से क्वार्टरफाइनल में जाएगी।

ग्रुप सी में स्थिति काफी रोचक हो गई है। पिछली बार की चैंपियन टीम स्पेन को मेक्सिको ने 2-1 से हराया। वहीं कोलंबिया ने चीन को 2-0 से हराकर अपने पहले अंक बटोरे। नवी मुंबई के डीवाई पाटिल फुटबॉल स्टेडियम में हुए मैच में कोलंबिया के लिए लिंडा काइसाडो ने दोनों गोल दागे। लिंडा 14 साल की उम्र से कोलंबिया की सीनियर टीम में खेल रही हैं और टीम की सबसे मजबूत खिलाड़ी हैं।

फिलहाल ग्रुप सी में चारों टीमों के खाते में एक जीत और एक हार दर्ज है, ऐसे में 18 अक्टूबर को होने वाले मुकाबलों के बाद ही टॉप 2 टीमें तय हो पाएंगी। फिलहाल जर्मनी और जापान ही दो टीमें हैं जिन्होंने नॉकआउट दौर में प्रवेश किया है।

App download animated image Get the free App now