मिस्र के कोच घरीब ने कहा- मोहम्‍मद सलाह कर रहे ओलंपिक की तैयारी

मोहम्‍मद सलाह
मोहम्‍मद सलाह

मिस्र के कोच शॉकी घरीब ने गुरुवार को एएफपी से कहा कि लिवरपुल के स्‍ट्राइकर मोहम्‍मद सलाह टोक्‍यो ओलंपिक्‍स की तैयारी में जुटे हुए हैं। घरीब ने कहा कि सलाह टोक्‍यो में मिस्र को पहली बार ओलंपिक फुटबॉल मेडल दिलाने की कोशिश में जुटे हो। पूर्व मिस्र खिलाड़ी से मैनेजर बने घरीब ने कहा, 'मैं सार्वजनिक करना चाहता हूं कि हमारे ओलंपिक अभियान में मोहम्‍मद सलाह शामिल हैं। उन्‍होंने हमारा प्रस्‍ताव ठुकराया नहीं है। इसका मतलब है कि वह हमारे साथ खेलना चाहते हैं।'

घरीब ने आगे कहा, 'ओलंपिक्‍स में सलाह की हिस्‍सेदारी को राज्‍य, खेल मंत्रालय का प्रतिनिधित्‍व और मिस्र फुटबॉल एसोसिएशन एंडोर्स करेगा। हम सभी का प्रयास है कि देश में पहली बार फुटबॉल में ओलंपिक मेडल आए।' उन्‍होंने कहा कि सलाह, लिवरपुल के कोच जर्गेन क्‍लॉप और घरीब तीनों ने मिलकर इस पर फैसला लिया है।

मोहम्‍मद सला की मौजूदगी फर्क लाएगी: घरीब

लिवरपुल के खिताब की रक्षा करने का सपना बिखर गया। इसके बावजूद मोहम्‍मद सलाह इंग्लिश प्रीमियर लीग के संयुक्‍त टॉप स्‍कोरर हैं। सलाह और हैरी केन ने 17-17 गोल दागे हैं। जब बात सभी स्‍पर्धाओं की हो तो सलाह ने 25 गोल दागे हैं। घरीब ने कहा, 'अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर तीन सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़‍ियों में से एक मोहम्‍मद सलाह मिस्र को ओलंपिक्‍स में नए स्‍तर पर पहुंचाएंगे। हमारे साथ उनकी मौजूदगी बड़ा फर्क पैदा करेगी।'

घरीब को उम्‍मीद है कि सलाह बिलकुल नेमार जैसा प्रदर्शन दोहराएंगे, जिन्‍होंने ब्राजील को 2016 में पहली बार फुटबॉल में गोल्‍ड मेडल दिलाया था। ब्राजील ने 2016 रियो ओलंपिक्‍स में फुटबॉल का गोल्‍ड मेडल जीता था।

बहरहाल, मोहम्‍मद सलाह के लिवरपुल को छोड़ने की खबरें छाई हुई हैं। ऐसी भी जानकारी मिली है कि अगर सलाह क्‍लब का साथ छोड़ते हैं तो पूर्व लिवरपुल स्‍ट्राइकर लुईस सुआरेज की वापसी हो सकती है। 34 साल के सुआरेज ने बार्सिलोना का साथ छोड़ने के बाद एटलेटिको मैड्रिड का दामन थामा और 25 मैचों में 19 गोल दाग दिए। वह क्‍लब के सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोरर के रूप में उभरे। यही वजह है कि जर्गेन क्‍लॉप सलाह के विकल्‍प के रूप में सुआरेज को उपयुक्‍त मान रहे हैं।

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment