Create
Notifications

मेसी-रोनाल्‍डो को पछाड़कर रॉबर्ट लेवानडोस्‍की ने जीता फीफा अवॉर्ड

पौलेंड के रॉबर्ट लेवानडोस्‍की
पौलेंड के रॉबर्ट लेवानडोस्‍की
Vivek Goel

पौलेंड के रॉबर्ट लेवानडोस्‍की ने गुरुवार को अपने करियर का सबसे बड़ा व्‍यक्तिगत उपहार जीता। लेवानडोस्‍की ने दिखाया कि मेसी या रोनाल्‍डो नहीं होने के बावजूद एक फॉरवर्ड को दुनिया सर्वश्रेष्‍ठ फुटबॉल खिलाड़ी के लिए वोट दे सकती है। पौलेंड के कप्‍तान रॉबर्ट लेवानडोस्‍की को 2020 फीफा सर्वश्रेष्‍ठ पुरुष खिलाड़ी के लिए नामांकित किया गया था क्‍योंकि उन्‍होंने बायर्न म्‍यूनिख के साथ सीजन में 55 गोल दागे और अंतरराष्‍ट्रीय व घरेलू ट्रॉफी उठाई। रॉबर्ट लेवानडोस्‍की ने शॉर्ट लिस्‍ट किए गए तीन खिलाड़‍ियों में शीर्ष स्‍थान हासिल किया, जिसमें लियोनेल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो के नाम शामिल थे।

राष्‍ट्रीय टीम के कप्‍तानों और कोच की वैश्विक जुरी द्वारा किए गए वोट व चयनित चयनकर्ता और फैंस के कारण, लेवानडोस्‍की को 52 वोटिंग अंक मिले। क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो 38 अंकों के साथ दूसरे जबकि लियोनेल मेसी 35 अंकों के साथ तीसरे स्‍थान पर रहे। फीफा ने ज्‍यूरिख में वर्चुअल समारोह का आयोजन किया था। फीफा अध्‍यक्ष जियानी इंफेनटिनो निजी तौर पर ट्रॉफी भेंट करने के लिए म्‍यूनिख गए थे। 32 साल के लेवानडोस्‍की ने खिताब मिलने के बाद कहा, 'यह अतुल्‍नीय भावना है।'

रॉबर्ट लेवानडोस्‍की की अनोखी उपलब्धि

रॉबर्ट लेवानडोस्‍की अब क्रोएशिया और रियल मैड्रिड के मिडफील्‍डर लुका मोड्रिक से जुड़ गए हैं, जिन्‍होंने 2018 में यह खिताब अपने नाम किया था। यह दोनों खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्‍होंने पिछले 13 सालों में मेसी और रोनाल्‍डो दोनों को मात दी है। रॉबर्ट लेवानडोस्‍की ने कहा, 'मैं आज उनमें से एक हूं। इसका मतलब है कि मैं अपनी जिंदगी में सही दिशा में आगे बढ़ रहा हूं।'

रॉबर्ट लेवानडोस्‍की स्‍पेन के बाहर के क्‍लब के पहले पुरुष विजेता खिलाड़ी हैं। इससे पहले 2003 में क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो ने मैनचेस्‍टर यूनाइटेड की तरफ से खिताब जीता था। फीफा ने 1991 में जब से वर्ल्‍ड प्‍लेयर अवॉर्ड बनाया है, तब से बायर्न म्‍यूनिख के खिलाड़ी ने इसे जीता नहीं था।

रॉबर्ट लेवानडोस्की ने 2019-20 चैंपियंस लीग में अपने दम पर क्लब बायर्न म्यूनिख को चैम्पियन बनाया था। इसके अलावा लेवानडोस्की ने बायर्न म्यूनिख को जर्मन लीग, जर्मन कप और UEFA सुपर कप जिताने में मदद की थी। लेवानडोस्‍की ने बायर्न म्यूनिख से खेलते हुए 2019-20 सीजन में सभी लीग और कप मिलाकर 47 मैच में 55 गोल दागे।

मेसी ने पिछले साल रिकॉर्ड छठी बार यह अवॉर्ड जीता था। मजे की बात है कि 2008-2019 के दौरान मेसी (2009, 2010, 2011, 2012, 2015, 2019) ने 6 और रोनाल्डो (2008, 2013, 2014, 2016, 2017) ने 5 बार यह अवॉर्ड अपने नाम किया।


Edited by Vivek Goel

Comments

Fetching more content...