Create
Notifications

फुटबॉल मैच में एक ही टीम ने किए 95 गोल, जांच के आदेश

सिएरा लियोन की फर्स्ट डिविजन लीग के एक मैच में 91-1 का स्कोर रहा तो दूसरे में 95-0 का।
सिएरा लियोन की फर्स्ट डिविजन लीग के एक मैच में 91-1 का स्कोर रहा तो दूसरे में 95-0 का।
reaction-emoji reaction-emoji
Hemlata Pandey

फुटबॉल मुकाबलों में आमतौर पर जब बड़ी जीतों की बात होती है तो जहन में 5-0, 6-0 या फिर 9-0 जैसी स्कोरलाइन आती है। लेकिन अफ्रीका के देश सिएरा लियोन में दो फुटबॉल मुकाबले ऐसे हुए जहां एक टीम 91-1 से जीती तो दूसरे मुकाबले में 95-0 के स्कोर से टीम को जीत मिली। ऐसी हैरान करने वाली स्कोरलाइन के सामने आने के बाद इन मैचों की प्रमाणिकता की जांच के आदेश दिए गए हैं।

दरअसल पश्चिमी अफ्रीकी में बसे सियेरा लियोन की फर्स्ट डिविजन फुटबॉल लीग ईस्टर्न रीजनल सुपर 10 लीग में गल्फ एफसी नामक फुटबॉल क्लब ने कोकिमा लेबेनॉन को 91-1 से हराने का दावा किया है जबकि एक अन्य मैच में काहूला रेंजर्स की लुंबेनबु यूनाईटेड नामक क्लब पर 95-0 के स्कोर से जीत होने की बात सामने आई है। ये स्कोरलाइन सामने आने के बाद सियेरा लियोन की फुटबॉल एसोसिएशन सकते में आ गई और जांच के आदेश दे दिए।

Football is played over 90 minutes. How then was it possible for a team to score 95 goals in one game? Even if the build up, the goal, the celebration and kickoff takes 2 mins, that would be 40 goals. Sierra Leone you need to explain this.

एसोसिएशन की ओर से आधिकारिक जांच पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जांच में टूर्नामेंट का आयोजन करवा रही ईस्टर्न रीजनल फुटबॉल एसोसिएशन, मैच में शामिल ऑफिशियल्स और चारों टीमों के खिलाड़ियों से पूछताछ होगी। एसोसिएशन की ओर साफ किया गया है कि जांच यह सुनिश्चित करने के लिए की जा रही है ताकि किसी भी तरह से मैच फिक्सिंग की संभावना को परखा जा सके।

@SLFA_sl investigates impractical match results from two 1st-Division matches in the ongoing Eastern Regional Super 10 League. https://t.co/UtsFBrQAdu

स्कोरलाइन सुनते ही इन दोनों मैचों पर सवाल खड़े हो गए क्योंकि कोई भी फुटबॉल मुकाबला 90 मिनट की अवधि का होता है और ऐसे में अगर किसी मैच में 91 या 95 गोल हुए हों तो इसका मतलब है कि प्रतिमिनट 1 गोल से ज्यादा दागे गए। साथ ही एक ही टीम का 90 से ज्यादा गोल करना और विरोधी टीम का सिर्फ 1 या कोई गोल नहीं करना, ये भी किसी की समझ में नहीं आ रहा। ऐसे में सोशल मीडिया पर भी इन दोनों मैचों को लेकर फुटबॉल फैंस लगातार हैरानी जता रहे हैं।

@SaddickAdams Not to disagree with you on the whole issue but we've seen two goals in two minutes a number of times before.Maybe they also don't celebrate the goals 😂😂 They score and pick the ball for their opponent to pass 🤣

हालांकि रिकॉर्ड बुक में सबसे ज्यादा गोल स्कोर किए जाने का मुकाबला साल 2002 का है जहां मेडागास्कर नामक अफ्रीकी देश (द्वीप) में AS अडेमा नाम क्लब ने विरोधी क्लब स्टाडे ओलिमिक को 149-0 से हराया था। लेकिन इस मैच में हारने वाली टीम स्टाडे ओलिमिक ने खुद अपने गोल पोस्ट में गोल दागे यानी Own Goal किए क्योंकि वह रेफरी के किसी फैसले का विरोध कर रहे थे और इसी गुस्से में इस टीम ने अपने ही गोल पोस्ट में गोल मारे।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji reaction-emoji

Comments

Fetching more content...