रोज़ाना लौंग-इलाइची खाने से मिलते हैं ये 10 फायदे

रोज़ाना लौंग-इलाइची खाने से मिलते हैं ये 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
रोज़ाना लौंग-इलाइची खाने से मिलते हैं ये 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

रोजाना लौंग (Clove) और इलाइची (Cardamom) खाने से आपके संपूर्ण स्वास्थ्य और तंदुरूस्ती के लिए कई लाभ मिल सकते हैं। इन दोनों मसालों का उपयोग सदियों से पारंपरिक चिकित्सा और पाक प्रथाओं में किया जाता रहा है। अपने दैनिक आहार में लौंग और इलाइची को शामिल करने से आपको कुछ लाभ मिल सकते हैं:-

रोज़ाना लौंग-इलाइची खाने से मिलते हैं ये 10 फायदे (10 Benefits Of Eating Clove-Cardamom Daily In Hindi)

youtube-cover

मौखिक स्वास्थ्य लाभ

लौंग और इलायची दोनों में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो मौखिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। लौंग अपने सुन्न करने वाले प्रभाव के लिए जानी जाती है और अक्सर इसका उपयोग दांतों और मसूड़ों के दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। दूसरी ओर, इलायची अपने सुगंधित गुणों के कारण सांसों को तरोताजा करने और सांसों की बदबू को रोकने में मदद कर सकती है।

पाचन सहायता

लौंग और इलायची दोनों ही पाचन में मदद करने के लिए जाने जाते हैं। लौंग पाचन एंजाइमों के उत्पादन को उत्तेजित करता है, जो भोजन के टूटने और अपच को कम करने में सहायता कर सकता है। इलायची, अपने कार्मिनेटिव गुणों के साथ, सूजन, गैस और पेट की परेशानी से राहत दिलाने में मदद कर सकती है।

एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण

लौंग और इलायची में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। यह गठिया, मांसपेशियों में दर्द, या श्वसन संबंधी समस्याओं जैसी स्थितियों वाले व्यक्तियों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

दोनों मसाले एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो शरीर को मुक्त कणों और ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने में मदद करते हैं। लौंग में सभी मसालों में सबसे अधिक एंटीऑक्सीडेंट क्षमता होती है, जबकि इलायची में फ्लेवोनोइड्स और फेनोलिक एसिड जैसे यौगिक होते हैं, जो इसके एंटीऑक्सीडेंट गुणों में योगदान करते हैं।

प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन

लौंग और इलायची में विटामिन और खनिज होते हैं जो एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन कर सकते हैं। लौंग विशेष रूप से विटामिन सी से भरपूर होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और संक्रमण से बचाने में मदद करता है। इलायची में विटामिन ए और सी के साथ-साथ अन्य यौगिक होते हैं जो प्रतिरक्षा समारोह को बढ़ावा दे सकते हैं।

श्वसन स्वास्थ्य

लौंग और इलायची का पारंपरिक रूप से खांसी, भीड़ और अस्थमा जैसे श्वसन संबंधी मुद्दों को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है। लौंग के रोगाणुरोधी गुण श्वसन संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं, जबकि इलायची के कफ निस्सारक गुण बलगम को ढीला करने और वायुमार्ग को साफ करने में मदद कर सकते हैं।

रक्त शर्करा विनियमन

शोध बताते हैं कि लौंग और इलायची दोनों ही रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। लौंग में ऐसे यौगिक होते हैं जो इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार कर सकते हैं, जबकि इलायची को रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और मधुमेह वाले व्यक्तियों में लिपिड प्रोफाइल में सुधार करने के लिए दिखाया गया है।

रोगाणुरोधी गुण

लौंग और इलायची में मजबूत रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो विभिन्न बैक्टीरिया, कवक और परजीवी से लड़ने में मदद कर सकते हैं। इन मसालों का पारंपरिक रूप से संक्रमण के इलाज और समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में उनके रोगाणुरोधी प्रभावों के लिए उपयोग किया जाता है।

मनोदशा में वृद्धि

लौंग और इलायची में पाए जाने वाले सुगन्धित यौगिकों का मूड-बढ़ाने वाला प्रभाव हो सकता है। इन मसालों की सुखद सुगंध तनाव, चिंता को कम करने और विश्राम को बढ़ावा देने में मदद कर सकती है।

पाक बहुमुखी प्रतिभा

लौंग और इलायची व्यंजन और पेय पदार्थों में एक अनूठा और सुगंधित स्वाद जोड़ते हैं। इन मसालों को अपने दैनिक भोजन में शामिल करने से न केवल स्वास्थ्य लाभ मिलता है बल्कि आपके भोजन के स्वाद और सुगंध में भी वृद्धि होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now