दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए

दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

दांत दर्द विभिन्न दंत समस्याओं का परिणाम हो सकता है, और उन्हें प्रबंधित करने के लिए अक्सर आहार में सावधानी बरतनी पड़ती है। कुछ खाद्य पदार्थ दांत दर्द के लक्षणों को बढ़ा सकते हैं या संवेदनशील दांतों में जलन पैदा कर सकते हैं, जिससे यह ध्यान रखना आवश्यक हो जाता है कि इस असुविधाजनक अवधि के दौरान क्या नहीं खाना चाहिए।

दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए (10 Foods to Avoid During Toothache In Hindi)

youtube-cover

दांत दर्द के दौरान परहेज करने योग्य 10 खाद्य पदार्थ:-

शर्करा युक्त खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ (Sugary Foods and Beverages)

मिठाइयाँ, कुकीज़, और चीनी युक्त पेय पदार्थ, जैसे मिठाइयाँ, दांतों की सड़न में योगदान कर सकती हैं और दांत दर्द को बदतर बना सकती हैं। मुंह में बैक्टीरिया शर्करा खाते हैं, जिससे एसिड उत्पन्न होता है जो दांतों के इनेमल को नष्ट कर सकता है।

अम्लीय खाद्य पदार्थ और पेय (Acidic Foods and Drinks)

खट्टे फल, टमाटर जैसे अम्लीय खाद्य पदार्थ, और खट्टे रस और सोडा जैसे अम्लीय पेय पदार्थ संवेदनशील दांतों में जलन पैदा कर सकते हैं और इनेमल को और कमजोर करके दांत दर्द को बढ़ा सकते हैं।

आइसक्रीम और कोल्ड ड्रिंक (Ice Cream and Cold Drinks)

अत्यधिक ठंडे खाद्य पदार्थ और पेय दांतों की संवेदनशीलता को बढ़ा सकते हैं और असुविधा पैदा कर सकते हैं, खासकर अगर दांत का दर्द तापमान संवेदनशीलता या उजागर नसों से संबंधित है।

कठोर और कुरकुरे खाद्य पदार्थ (Hard and Crunchy Foods)

ऐसे खाद्य पदार्थ जो कठोर या कुरकुरे होते हैं, जैसे नट्स, पॉपकॉर्न और हार्ड कैंडीज, दांतों पर अतिरिक्त तनाव पैदा कर सकते हैं और दांत दर्द को बढ़ा सकते हैं, खासकर अगर दांतों में कैविटी या फ्रैक्चर जैसी मौजूदा समस्याएं हों।

गर्म भोजन और पेय (Hot Foods and Drinks)

गर्म खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ दांत दर्द को बढ़ा सकते हैं, खासकर अगर दर्द सूजन या संक्रमण से जुड़ा हो। अत्यधिक तापमान संवेदनशीलता और असुविधा बढ़ा सकता है।

चटपटा खाना (Spicy Foods)

मसालेदार भोजन सूजन वाले मसूड़ों या संवेदनशील दांतों में जलन पैदा कर सकता है, जिससे दांत दर्द के दौरान दर्द संभावित रूप से बिगड़ सकता है। यदि स्थानीय सूजन या कोमलता हो तो इनका सेवन करना भी चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

शराब (Alcohol)

शराब, विशेष रूप से उच्च-प्रूफ स्पिरिट, मौखिक ऊतकों को परेशान कर सकती है और सूजन को बढ़ा सकती है। इसके अतिरिक्त, अल्कोहल युक्त माउथवॉश संवेदनशील दांतों पर कठोर हो सकते हैं।

चबाने में कठिन खाद्य पदार्थ (Hard-to-Chew Foods)

जिन खाद्य पदार्थों को ज़ोर से चबाने की ज़रूरत होती है, जैसे सख्त मांस या कड़ी सब्जियाँ, वे दांतों पर दबाव डाल सकते हैं और दांत दर्द से जुड़ी परेशानी को बढ़ा सकते हैं। नरम, चबाने में आसान विकल्प चुनें।

चिपचिपा और चबाया हुआ भोजन (Sticky and Chewy Foods)

चिपचिपी कैंडी, टॉफी और चबाने वाले स्नैक्स दांतों पर चिपक सकते हैं, बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा दे सकते हैं और दांतों की सड़न में योगदान कर सकते हैं। इन्हें दांतों से साफ करना भी चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

कैफीन युक्त पेय (Caffeinated Drinks)

कॉफ़ी या कुछ चाय जैसे कैफीन युक्त पेय पदार्थों के अत्यधिक सेवन से निर्जलीकरण हो सकता है, जिससे लार का उत्पादन कम हो सकता है। लार एसिड को बेअसर करने और मौखिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है, इसलिए कम लार का स्तर दांत दर्द के लक्षणों को बढ़ा सकता है।

दांत दर्द के दौरान, ऐसे खाद्य पदार्थों का चयन करना महत्वपूर्ण है जो दांतों और मसूड़ों के लिए आसान हों, उन चीजों से परहेज करें जो दर्द को बढ़ा सकते हैं या दंत समस्याओं में योगदान कर सकते हैं। नरम, कम एसिड और कम चीनी वाला आहार चुनने से असुविधा को प्रबंधित करने और मौखिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है। हालाँकि, दांत दर्द का कारण बनने वाली अंतर्निहित दंत समस्या के उचित निदान और उपचार के लिए दंत चिकित्सक से परामर्श करना आवश्यक है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar