सहजन के 10 स्वास्थ्य लाभ

सहजन के 10 स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
सहजन के 10 स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सहजन (drumstick), जिसे वैज्ञानिक रूप से मोरिंगा ओलीफेरा के नाम से जाना जाता है, एक बहुमुखी पौधा है जिसे इसके औषधीय गुणों और पोषण मूल्य के लिए पहचाना गया है। अफ्रीका और एशिया के कुछ हिस्सों से उत्पन्न, सहजन के पेड़ की खेती अब विभिन्न क्षेत्रों में की जाती है, और इसकी पत्तियों, फलियों और बीजों का व्यापक रूप से पारंपरिक चिकित्सा और पाक पद्धतियों में उपयोग किया जाता है। सहजन के सेवन से जुड़े कई स्वास्थ्य लाभ यहां दिए गए हैं:-

सहजन के 10 स्वास्थ्य लाभ (10 health benefits of drumstick in hindi)

youtube-cover

पोषक तत्वों से भरपूर (Nutrient-Rich)

सहजन एक पोषण संबंधी पावरहाउस है, जिसमें विटामिन सी, विटामिन ए, पोटेशियम, कैल्शियम और आयरन जैसे आवश्यक विटामिन और खनिज होते हैं। इसका पोषक तत्व घनत्व इसे संतुलित आहार के लिए एक मूल्यवान अतिरिक्त बनाता है।

एंटीऑक्सीडेंट गुण (Antioxidant Properties)

सहजन क्वेरसेटिन, क्लोरोजेनिक एसिड और बीटा-कैरोटीन सहित एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है। ये यौगिक शरीर में मुक्त कणों को बेअसर करने, ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने और पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

सूजनरोधी प्रभाव (Anti-Inflammatory Effects)

सहजन में मौजूद बायोएक्टिव यौगिकों, विशेष रूप से आइसोथियोसाइनेट्स ने सूजन-रोधी गुणों का प्रदर्शन किया है। नियमित सेवन से सूजन और संबंधित स्थितियों को कम करने में मदद मिल सकती है।

रक्त शर्करा विनियमन (Blood Sugar Regulation)

कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि सहजन रक्त शर्करा के स्तर पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। यह ग्लूकोज चयापचय को विनियमित करने में मदद कर सकता है, जिससे यह मधुमेह वाले व्यक्तियों के लिए संभावित रूप से फायदेमंद हो सकता है।

हार्ट हेल्थ (Heart Health)

सहजन को हृदय संबंधी लाभों से जोड़ा गया है। यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, स्वस्थ हृदय में योगदान दे सकता है और हृदय रोगों के जोखिम को कम कर सकता है।

पाचन स्वास्थ्य (Digestive Health)

सहजन अपने फाइबर सामग्री के लिए जाना जाता है, जो स्वस्थ पाचन तंत्र को बढ़ावा देता है। यह कब्ज को रोकने में मदद करता है, नियमित मल त्याग का समर्थन करता है, और पाचन संबंधी समस्याओं के जोखिम को कम करने में योगदान दे सकता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली समर्थन (Immune System Support)

सहजन में विटामिन सी की उच्च मात्रा प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देती है, जिससे शरीर को संक्रमण और बीमारियों से बचाने में मदद मिलती है। इसमें जिंक भी होता है, जो प्रतिरक्षा कार्य के लिए महत्वपूर्ण है।

हड्डी का स्वास्थ्य (Bone Health)

सहजन कैल्शियम और फास्फोरस का एक अच्छा स्रोत है, जो हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ बनाए रखने के लिए आवश्यक खनिज हैं। नियमित सेवन से हड्डियों के घनत्व में योगदान हो सकता है और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी स्थितियों को रोकने में मदद मिल सकती है।

वज़न प्रबंधन (Weight Management)

सहजन में फाइबर और कम कैलोरी सामग्री इसे वजन प्रबंधन आहार के लिए उपयुक्त बनाती है। यह तृप्ति की भावना प्रदान करता है, संभावित रूप से समग्र कैलोरी सेवन को कम करता है।

जल का शुद्धिकरण (Purification of Water)

इसके पोषण संबंधी लाभों के अलावा, सहजन के बीजों का उपयोग पारंपरिक रूप से पानी को शुद्ध करने के लिए किया जाता रहा है। बीजों में प्रोटीन होता है जो अशुद्धियों से जुड़ सकता है और पानी को साफ कर सकता है, जिससे यह उपभोग के लिए सुरक्षित हो जाता है।

अंत में, सहजन अपने पोषक तत्वों से भरपूर संरचना से लेकर रक्त शर्करा को नियंत्रित करने, प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करने और हृदय और हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने की क्षमता तक स्वास्थ्य लाभ की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है। अपने आहार में सहजन को शामिल करते समय, समग्र पोषण के लिए एक विविध और संतुलित दृष्टिकोण बनाए रखना आवश्यक है। अपने आहार में महत्वपूर्ण बदलाव करने से पहले हमेशा एक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श लें, खासकर यदि आपके पास मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियां हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar