श्वास दमा के लिए ये 10 देसी इलाज

श्वास दमा के लिए ये 10 देसी इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
श्वास दमा के लिए ये 10 देसी इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

श्वास अस्थमा एक पुरानी श्वसन बीमारी है जो दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रभावित करती है। यह वायुमार्ग की सूजन और संकुचन की विशेषता है, जिससे सांस की तकलीफ, सीने में जकड़न, खांसी और घरघराहट होती है। जबकि अस्थमा का कोई इलाज नहीं है, ऐसे 10 घरेलू उपचार हैं जो इसके लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद कर सकते हैं।

youtube-cover

श्वास दमा के लिए ये 10 देसी इलाज (10 Home Remedies For Respiratory Asthma In Hindi)

श्वसन संबंधी अस्थमा के लिए यहां 10 प्रभावी घरेलू उपचार दिए गए हैं:-

1. स्टीम इनहेलेशन (Steam Inhalation)

इनहेलिंग स्टीम वायुमार्ग को खोलने और जमाव से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। पानी के एक बर्तन को उबालें, इसे गर्मी से हटा दें, और भाप को फँसाने के लिए अपने सिर को अपने सिर पर लपेटे हुए तौलिये से बर्तन के ऊपर रखें। 5-10 मिनट तक गहरी सांस लें।

2. अदरक (Ginger)

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो वायुमार्ग की सूजन को कम करने और सांस लेने में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। अदरक की चाय पीने की कोशिश करें, कच्चे अदरक को चबाएं या अपने भोजन में अदरक को शामिल करें।

3. शहद (Honey)

शहद एक प्राकृतिक कफ सप्रेसेंट है और सूजन वाले वायुमार्ग को शांत करने में मदद कर सकता है। गर्म पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर सोने से पहले पीने की कोशिश करें या चाय में शहद मिलाकर पिएं।

4. नीलगिरी का तेल (Eucalyptus Oil)

नीलगिरी के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी और ब्रोन्कोडायलेटर गुण पाए गए हैं, जो इसे अस्थमा पीड़ितों के लिए मददगार बनाता है। ह्यूमिडिफायर या डिफ्यूज़र में नीलगिरी के तेल की कुछ बूंदों को जोड़ने या नीलगिरी की भाप लेने की कोशिश करें।

5. ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acids)

ओमेगा -3 फैटी एसिड सूजन-रोधी होते हैं और अस्थमा पीड़ितों में वायुमार्ग की सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। अपने आहार में अधिक ओमेगा -3 समृद्ध खाद्य पदार्थों को शामिल करने का प्रयास करें, जैसे फैटी मछली, फ्लेक्ससीड्स और चिया बीज।

6. हल्दी (Turmeric)

हल्दी एक प्राकृतिक एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट है जो वायुमार्ग की सूजन को कम करने और सांस लेने में सुधार करने में मदद कर सकता है। अपने भोजन में हल्दी जोड़ने या हल्दी चाय पीने का प्रयास करें।

7. विटामिन D (Vitamin D)

विटामिन D की कमी को अस्थमा के लक्षणों में वृद्धि से जोड़ा गया है, इसलिए पर्याप्त स्तर बनाए रखना महत्वपूर्ण है। धूप में बाहर समय बिताने की कोशिश करें, विटामिन D से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे कि वसायुक्त मछली, अंडे और फोर्टिफाइड डेयरी उत्पादों का सेवन करें या विटामिन डी सप्लीमेंट लें।

8. भाप (Steam)

भाप लेने से बलगम को ढीला करने में मदद मिल सकती है और सांस लेने में आसानी हो सकती है। गर्म स्नान या स्नान करने या गर्म पानी की कटोरी से भाप लेने की कोशिश करें।

9. लहसुन (Garlic)

लहसुन एक प्राकृतिक एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट है जो वायुमार्ग की सूजन को कम करने और सांस लेने में सुधार करने में मदद कर सकता है। अपने भोजन में लहसुन को शामिल करने की कोशिश करें या लहसुन की खुराक का सेवन करें।

10. एक्यूपंक्चर (Acupuncture)

एक्यूपंक्चर को फेफड़ों के कार्य में सुधार और अस्थमा के लक्षणों को कम करने के लिए दिखाया गया है। एक लाइसेंस प्राप्त एक्यूपंक्चरिस्ट खोजने का प्रयास करें और अपने अस्थमा प्रबंधन योजना में नियमित एक्यूपंक्चर सत्र शामिल करें।

अंत में, जबकि श्वसन संबंधी अस्थमा प्रबंधन के लिए एक चुनौतीपूर्ण स्थिति हो सकती है, ऐसे कई प्रभावी घरेलू उपचार हैं जो लक्षणों को कम करने और समग्र फेफड़ों के स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। एक व्यापक अस्थमा प्रबंधन योजना विकसित करने के लिए एक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर के साथ काम करना महत्वपूर्ण है जिसमें फार्मास्युटिकल उपचार और प्राकृतिक उपचार दोनों शामिल हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar