तुलसी का पानी पीने के चौका देने वाले 12 फायदे

तुलसी का पानी पीने के चौका देने वाले 12 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
तुलसी का पानी पीने के चौका देने वाले 12 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

तुलसी, जिसे होली बेसिल भी कहा जाता है, सदियों से अपनी औषधीय गुणों के लिए भारत में पूजा जाता है। तुलसी का सबसे आसान और फायदेमंद तरीका तुलसी जल पीना है। यह जड़ी-बूटी की पेय प्रथा आरोग्य के कई लाभ प्रदान करती है, जिनमें प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ावा देना से लेकर सामग्री की कुल मनःस्थिति को प्रोत्साहित करने तक कई बातें शामिल हैं। निम्नलिखित कुछ चौंकाने वाले लाभ वे हैं जो रोजाना तुलसी जल को अपनी दिनचर्या में शामिल करके प्राप्त किए जा सकते हैं:-

तुलसी का पानी पीने के चौका देने वाले 12 फायदे (12 surprising benefits of drinking tulsi water in hindi)

youtube-cover

1. प्रतिरोधक प्रणाली की मजबूती: तुलसी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइटोकेमिकल्स शरीर की प्रतिरोधक प्रणाली को मजबूती देने में मदद करते हैं। नियमित तुलसी जल का सेवन करने से शरीर की बीमारियों और संक्रमणों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि हो सकती है।

2. तनाव कमी: तुलसी को एक एडेप्टोजेन माना जाता है, जिसका मतलब है कि यह शरीर को तनाव से संघटित होने में मदद करता है और संतुलन बनाए रखने में मदद करता है। तुलसी जल पीने से तंत्रिका प्रणाली पर शांति का प्रभाव होता है, जिससे तनाव और चिंता कम हो सकती है।

3. श्वसन स्वास्थ्य: तुलसी में मौजूद आवश्यक तेल विम्बीदनिकी और जीवाणुनाशी गुण होते हैं, जो खांसी, जुकाम और जमाव में राहत प्रदान करने में मदद कर सकते हैं। तुलसी जल पीने से श्वसन संबंधित तकलीफ से राहत मिल सकती है।

4. पाचन सहायक: तुलसी जल पाचन को सहायक बना सकता है, पाचन एंजाइमों के निष्क्रियता को प्रोत्साहित करके और एसिडिटी को कम करके। यह पाचन संबंधित तंत्र को शांति देने और फुलावरी रोकने में मदद कर सकता है।

5. विषैले पदार्थ बाहर निकालना: तुलसी जल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं, जिससे लिवर के विषाणुत्रमाना प्रक्रियाओं की समर्थन की जाती है और आम शारीरिक क्रियाओं को सुधारते हैं।

6. त्वचा स्वास्थ्य: तुलसी के एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण त्वचा को स्वस्थ बनाने में मदद कर सकते हैं। तुलसी जल पीने से मुँहासों, दाग और त्वचा की खुजली में राहत मिल सकती है।

7. दंत स्वास्थ्य: तुलसी में प्राकृतिक एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो मौखिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। तुलसी जल पीने से मुंह की दुर्गंध, मसूड़ों की संक्रमण और मौंगी की संक्रमण से लड़ने में मदद हो सकती है।

8. रक्त शर्करा का नियंत्रण: कुछ अध्ययनों के अनुसार, तुलसी रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकती है। तुलसी जल डायबिटीज या रक्त शर्करा स्तर को प्रबंधित करने के लिए उपयुक्त हो सकता है।

9. वृद्धि-वय संरचना: तुलसी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रैडिकल्स के कारण होने वाले कोशिका क्षति को रोकने में मदद कर सकते हैं, जिससे स्वस्थ दिखावट बढ़ सकता है और शायद वृद्धि-वय प्रक्रिया को धीमी कर सकते हैं।

10. हृदय स्वास्थ्य: तुलसी जल यह घटक हो सकता है कि आपके कोलेस्ट्रॉल स्तर कम हो और दिल की स्वास्थ्य में सुधार हो। इसके संघटक एक स्वस्थ संचरण को प्रोत्साहित करते हैं और दिल संबंधित मुद्दों से बचाने में मदद कर सकते हैं।

11. एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव: तुलसी में पाए जाने वाले फाइटोकेमिकल्स एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं और अबादीके बीमारियों के जोखिम को कम कर सकते हैं।

12. हार्मोनल संतुलन: यह माना जाता है कि तुलसी जल हार्मोन स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, जो हार्मोनल असंतुलन या मासिक अव्यवस्था वाले व्यक्तियों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now