Create

आयुर्वेद में लौंग के फायदे: Ayurved Mein Laung Ke Fayde

आयुर्वेद में लौंग के फायदे (फोटो - healthfitness)
आयुर्वेद में लौंग के फायदे (फोटो - healthfitness)

लौंग का इस्तेमाल अक्सर लोग मसाले के रूप में करते हैं। क्योंकि इसका उपयोग करना फायदेमंद होता है। आयुर्वेदिक ग्रंथों में लौंग के इस्तेमाल से जुड़े कई उपाय बताए गए हैं। बता दें कि लौंग के सेवन से भूख बढ़ती है, उल्टी रुकती है, पेट की गैस, अत्यधित प्यास लगने की समस्या और कफ-पित्त दोष ठीक होते हैं। इसके साथ ही आप रक्त विकार, सांसों की बीमारी, हिचकी और टीबी रोग में भी लौंग का उपयोग कर लाभ पा सकते हैं। लौंग के औषधीय गुण की वजह से ही सदियों से इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है। इसमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-ऑक्सीडेंट प्रभाव होता है।जानते हैं आयुर्वेद में लौंग के फायदे।

आयुर्वेद में लौंग के फायदे - Ayurved Mein Laung Ke Fayde In Hindi

ओरल हेल्थ के लिए लाभकारी - हर किसी को अपने ओरल हेल्थ की देखभाल रखने की जरूरत होती है। लौंग की कलियां ओरल माइक्रो ऑर्गेनिज्म को कम करने में मदद करती है। लौंग के गुणों की वजह से कई टूथपेस्ट में लौंग का इस्तेमाल किया जाता है।

सर्दी-खांसी दूर करने के लिए - लौंग में एंटीइंफ्लेमेटरी प्रभाव होता है। जो अपने गुणों की वजह से सर्दी और खांसी की समस्या को दूर करने का काम करता है।

डायबिटीज की बीमारी में - आज के समय में लोग डायबिटीज की बीमारी के शिकार हो रखे हैं। इस बीमारी में लौंग का इस्तेमाल कुछ हद तक नियंत्रित करने में मदद करता है। लौंग ब्लड ग्लूकोज को कम करके डायबिटीज को कंट्रोल कर सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment