Create
Notifications

कब्ज के लिए 3 योगासन: Kabj Ke Liye 3 Yogasan 

फोटो: Medium
फोटो: Medium
Amit Shukla
visit

कब्ज (Constipation) एक ऐसी परेशानी है जिससे हर दूसरा इंसान परेशान है। इसके पीछे एक बड़ा कारण ये है कि लोग जरूरत से ज्यादा खाते हैं और उस खाने को बत्तीस बार नहीं चबाते हैं। आपके मुँह में जो दांत हैं वो 32 हैं और हर दांत का एक काम है लेकिन जब आप खाने को सही से नहीं चबाते हैं तो मुँह वाले काम को पेट के द्वारा किया जाता है।

इसकी वजह से पेट में गैस बनती है और कब्ज भी होता है। ऐसे कई लोग हैं जिनका पेट सुबह कभी एक बार में साफ नहीं होता है और उसके पीछे एक बड़ा कारण है आपका खान पान और उसकी प्रक्रिया। अगर आप खाने को सही से चबाएंगे तो आपको कभी भी परेशानी नहीं हो सकती है।

पेट में होने वाली इस कब्ज को ठीक करने के लिए हम सब किसी ना किसी प्रकार की दवाई का सेवन करते हैं। इसकी वजह से हम निरोगी से रोगी बन जाते हैं और परिणाम के रूप में हमें दवाई, पेट में मरोड़, पेट कड़क, और सर में गर्मी महसूस होती है। आयुर्वेद के मुताबिक पेट नरम और दिमाग ठंडा रहना चाहिए। आइए आपको उन योगासनों के बारे में बताते हैं जिनको करके आप फिट रह सकते हैं।

कब्ज के लिए 3 योगासन: Kabj Ke Liye 3 Yogasan

पवनमुक्तासन: Pavanmuktasan/ Wind Reliveing Pos

इस आसन के बारे में तो योग गुरु बाबा रामदेव ने ही कहा है कि इसको करते करते ही कई लोगों के पेट में से पवन मुक्त हो जाती है। इसको करने के लिए आप पीठ के बल बिस्तर, या चटाई पर लेट जाएं और अपने पैरों को आधा मोड़ लें। अब अपने हाथों को घुटनों के पास ले जाएं और इन्हें मुँह के पास लाने का प्रयास करें। ये शुरू में परेशानी से भरा लगेगा लेकिन समय के साथ ये आपको बेहद आसान लगेगा और इसको करते समय ही पवन मुक्त होने लगेगी और कब्ज से आराम मिलेगा।

बालासन: Balasan/ Child Pose

इस आसन में नाम के अनुरूप ही आप शरीर के साथ अठखेलियाँ करते हैं। इसके लिए अपने पैरों पर शरीर का भार रख दें और पैरों को आधा मोड़कर बैठ जाएं। अब खुद को आगे की तरफ ले जाएं और सर को जमीन में छूने दें। इस दौरान आपके हाथ पंजों के पास होने चाहिए। अब हाथों को आगे लाएं और सर से आगे ले जाएं। हाथों को खींचें नहीं और एकदम नॉर्मल रहें। इससे आपका शरीर तनावमुक्त और पेट कब्ज एवं गैस मुक्त महसूस करेगा। इससे कब्ज को ठीक करने में मदद मिलती है।

उत्तासन: Uttasana/ Standing Forward Bend

अगर आप इसके हिंदी नाम से इसके फायदे नहीं समझ सके होंगे तो आप अंग्रेजी नाम से फायदे समझ गए होंगे। इस आसन के लिए आप सीधे खड़े हो जाएं और अपने हाथों को अब ऊपर की तरफ उठाकर जमीन में छूने का प्रयास करें। इस दौरान आपकी पीठ एकदम सीढ़ी रहनी चाहिए और घुटनों एवं हाथों का भी यही हाल रहना चाहिए। इसको 30 सेकेंड से 1 मिनट तक करने से आपको कब्ज से आराम मिलेगा और साथ ही तनाव एवं डिप्रेशन से भी आजादी मिलेगी।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Amit Shukla
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now