छाछ में चिया सीड्स मिलाकर पीने के फायदे

छाछ में चिया सीड्स मिलाकर पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)
छाछ में चिया सीड्स मिलाकर पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)

गर्मी के मौसम में छाछ का सेवन सेहत के लिए फायदे से भरपूर होती है। वहीं, अगर छाछ (Buttermilk) में चिया सीड्स (Chia Seeds) मिलाकर उपयोग किया जाए तो इससे कई फायदे मिलते है। इन दोनों के मिश्रण की मदद से आपको वजन कम करने, एसिडिटी और पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है। छाछ का सेवन गर्मी के मौसम में शरीर के तापमान को संतुलित रखने में मदद करता है। वहीं चिया सीड्स और छाछ में कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, फाइबर औ कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाए जाते है। साथ ही चिया सीड्स में मैंगनीज और फास्फोरस पाए जाते है, तो छाछ में कार्ब्स और राइबोफ्लेविन पाए जाते है। तो आइए जानते हैं छाछ में चिया सीड्स मिलाकर पीने के फायदे।

youtube-cover

छाछ में चिया सीड्स मिलाकर पीने के फायदे : 4 Benefits Of Buttermilk And Chia Seeds In Hindi

वजन घटाने के लिए -

चिया सीड्स और छाछ का साथ में सेवन तेजी से वजन कम (Weight Loss) करने में मदद करता है। दरअसल इन दोनों के मिश्रण में भरपूर मात्रा में फाइबर (Fiber( और प्रोटीन पाया जाता है। फाइबर पाचन को सही रखता है और पेट से जुड़ी कई समस्याओं को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही प्रोटीन के सेवन से आपको बार-बार भूख नहीं लगती है। आपका पेट लंबे समय तक भरा हुए महसूस करता है।

इम्यूनिटी बढ़ाए के लिए -

इम्यूनिटी (Immunity) बढ़ाने के लिए व्यक्ति को चिया सीड्स और छाछ का सेवन करना चाहिए। इनमें एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन्स पाए जाते है। इससे सर्दी-जुकाम (Cold-Cough) और खांसी जैसी वायरल समस्याओं से बच सकते हैं।

दिल की सेहत के लिए -

दिल (Heart) की सेहत के लिए चिया सीड्स और छाछ का सेवन फायदेमंद होता है। इनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड और आयरन पाए जाते है, जिससे दिल की बीमारियों के लक्षण को कम करने में मदद मिलती है। इसमें सोडियम की मात्रा बेहद कम पायी जाती है। इससे ब्लड प्रेशर की परेशानी में आराम मिल सकता है।

हड्डियों को मजबूत बनाए -

चिया सीड्स और छाछ के सेवन से हड्डियां मजबूत होती है, क्योंकि इन दोनों में कैल्शियम और फास्फोरस की भरपूर मात्रा पाई जाती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan