Create

भुनी हुई सौंफ खाने के 4 फायदे : Bhuni Hui Saunf Khane Ke 4 Fayde

भुनी हुई सौंफ खाने के 4 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
भुनी हुई सौंफ खाने के 4 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सौंफ (Fennel seeds) के फायदों से सभी वाकिफ है, यह स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसका सेवन हर मौसम में किया जा सकता है। आप ठंड के मौसम में सौंफ को भून कर भी खा सकते हैं। यह तरीका भी काफी लाभकारी हो सकता है। भुनी हुई सौंफ के सेवन से शरीर की कई समस्याएं जैसे पेट में दर्द, कब्ज़ आदि से राहत मिलती है। यह निकोटिन की आदतों में भी मददगार है। इस लेख के माध्यम से आप भुनी हुई सौंफ के फायदों (Benefits of Roasted Fennel Seeds) के बारे में जान पाएंगे। आइये आगे इस विषय पर और चर्चा करें।

भुनी हुई सौंफ खाने के 4 फायदे

1. कब्ज (Treats constipation)

भुनी हुई सौंफ के सेवन से कब्ज़ की समस्या दूर हो सकती है। यह कब्ज़ की समस्या से होने वाली पेट की गैस को कम करती है। भुनी हुई सौंफ में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है जो मल त्याग करने में भी मदद करता है। कब्ज़ की समस्या में 1 चम्मच भुनी हुई सौंफ को गरम पानी के साथ लें।

2. खांसी-जुकाम (Cures cough and cold)

खांसी-जुकाम की समस्या को दूर करने के लिए भुनी हुई सौंफ फायदेमंद होती है। आपको बता दें कि, भुनी हुई सौंफ आप बच्चों को भी दे सकते हैं। भुनी हुई सौंफ के सेवन से बच्चों की खांसी भी ठीक हो सकती है। 1 चम्मच भुनी हुई सौंफ और अंजीर को खाने से खांसी-जुकाम से छुटकारा मिल सकता है।

3. पेट दर्द (Relieves stomach pain)

पेट दर्द की समस्या के अलग-अलग कारण हो सकते हैं, यह कई लोगो में आम हो सकता है। इस परेशानी से राहत पाने के लिए भुनी हुई सौंफ का सेवन फायदेमंद हो सकता है। पेट दर्द से छुटकारा पाने के लिए 1 चम्मच भुनी हुई सौंफ को गर्म पानी में मिलाएं और इसका सेवन करें। इससे पेट दर्द की परेशानी में भी राहत मिलेगी।

4. पेचिश (Treats dysentery)

पेचिस की बीमारी होने पर भुनी हुई सौंफ बहुत लाभकारी हो सकती है। उपयोग के लिए, 2 ग्राम भुनी हुई सौंफ और 2 ग्राम बिना भुनी हुई सौंफ को मिलाएं। इस मिश्रण के सेवन से पेचिस की बीमारी में सहायता मिलेगी।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment