घास पर नंगे पैर चलने से मिलते हैं ये 4 फायदे

घास पर नंगे पैर चलने से मिलते हैं ये 4 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
घास पर नंगे पैर चलने से मिलते हैं ये 4 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

घास पर नंगे पांव (barefoot) चलना एक सरल और आनंददायक गतिविधि है जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। हालांकि यह एक साधारण कार्य की तरह लग सकता है, घास पर नंगे पैर चलने से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इस लेख में, हम घास पर नंगे पैर चलने के लाभों का पता लगाएंगे और आप इस अभ्यास को अपनी दिनचर्या में कैसे शामिल कर सकते हैं।

घास पर नंगे पैर चलने से मिलते हैं ये 4 फायदे (4 Benefits Of Walking Barefoot On Grass In Hindi)

youtube-cover

1. प्रकृति से जुड़ना

घास पर नंगे पैर चलना प्रकृति से जुड़ने और पृथ्वी की चिकित्सा शक्ति का अनुभव करने का एक तरीका है। अपने पैरों के नीचे घास की भावना आपको जमीन से जुड़ा और केंद्रित महसूस करने में मदद कर सकती है, जिससे तनाव और चिंता कम हो सकती है। ताजी हवा और धूप जो आप नंगे पैर चलते समय अनुभव करेंगे, वह भी आपके मूड और ऊर्जा के स्तर को बढ़ावा देने में मदद कर सकती है।

2. संतुलन और समन्वय में सुधार

समतल सतह पर चलने की तुलना में घास पर नंगे पैर चलने में अधिक संतुलन और समन्वय की आवश्यकता होती है। नतीजतन, यह अभ्यास समय के साथ आपके संतुलन और समन्वय को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है, जिससे गिरने और अन्य चोटों के जोखिम को कम किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, घास पर नंगे पैर चलने से आपके पैरों और पैरों की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद मिल सकती है, जिससे समग्र गतिशीलता और स्थिरता में सुधार हो सकता है।

3. सूजन कम करना

घास पर नंगे पैर चलने से भी शरीर में सूजन को कम करने में मदद मिल सकती है। पृथ्वी की सतह पर ऋणात्मक आवेश होता है, और जब आप नंगे पैर चलते हैं, तो पृथ्वी की सतह से इलेक्ट्रॉन आपके शरीर में अवशोषित हो जाते हैं, जो मुक्त कणों को बेअसर करने और सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

4. इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाना

घास पर नंगे पांव चलने से भी आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद मिल सकती है। पृथ्वी की सतह रोगाणुओं से समृद्ध है जो प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने और संक्रमण के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है। जब आप नंगे पैर चलते हैं, तो आप इन कीटाणुओं के संपर्क में आते हैं, जो समय के साथ आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं।

घास पर नंगे पैर चलने के टिप्स

यदि आप घास पर नंगे पैर चलने की कोशिश करने में रुचि रखते हैं, तो आरंभ करने के लिए यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं:-

1. धीरे-धीरे शुरू करो

एक समय में केवल कुछ मिनटों के लिए नरम, घास वाली सतह पर चलना शुरू करें, धीरे-धीरे अपने चलने की अवधि और तीव्रता में वृद्धि करें क्योंकि आप अधिक आरामदायक हो जाते हैं।

2. दिन का सही समय चुनें

सुबह या शाम जब घास गीली और ठंडी हो तो नंगे पैर घास पर चलना सबसे अच्छा होता है। दिन के सबसे गर्म हिस्से में चलने से बचें, क्योंकि घास बहुत गर्म और असुविधाजनक हो सकती है।

3. सतह की जाँच करें

घास पर नंगे पांव चलने से पहले, किसी नुकीली चीज जैसे चट्टान या टहनियों के लिए सतह की जांच करें जिससे चोट लग सकती है।

4. इसे साफ रखें

किसी भी संभावित संक्रमण से बचने के लिए घास पर नंगे पैर चलने के बाद अपने पैरों को अच्छी तरह धोना सुनिश्चित करें।

घास पर नंगे पैर चलना शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने का एक सरल और प्रभावी तरीका है। प्रकृति से जुड़कर और पृथ्वी की ऊर्जा को अवशोषित करके, घास पर नंगे पैर चलने से तनाव और चिंता कम करने, संतुलन और समन्वय में सुधार करने, सूजन कम करने और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद मिल सकती है। तो, अगली बार जब आपके पास अवसर हो, तो अपने जूते उतार दें और अपने पैरों के नीचे घास की अनुभूति का आनंद लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now