गांठ के 4 रामबाण इलाज

गांठ के 4 रामबाण इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गांठ के 4 रामबाण इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

शरीर में अक्सर गांठ (Lump) बनने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। छोटे-छोटे दाने बनना गांठ होने के कारणों में से एक हैं। इन्हे रसौली भी कहा जाता है। यदि यह नाप में बड़ी हो जाए तो यह गंभीर बीमारी का रूप ले सकती है। यह गांठ टीबी, कैंसर आदि जैसी बीमारियों की शुरुआत भी बन सकती है। यदि किसी व्यक्ति के शरीर के किसी भी अंग या भाग में गांठ बन गयी हो, जिससे अंदरूनी या ऊपरी सतह पर खून का बहना देखा जाए तो यह कैंसर जैसे रोग के शुरूआती लक्षणों में से एक है। इसमें चिकित्सा सहायता की जरूरत होती है। इस प्रकार की गांठ जानलेवा भी हो सकती है। हम इस लेख में चर्बी की गांठ के लिए रामबाण इलाज लेकर आये हैं, जो आपकी सहायता के लिए है।

गांठ के 4 रामबाण इलाज (4 home remedies for lumps in hindi)

चर्बी की गांठ के लक्षण : Symptoms of Lumps In Hindi

चर्बी की गांठ कई प्रकार की होती है। गर्दन, हाथ, कमर, पेट, कंधे, जांघ पर हो सकती है। गांठ के कारण कब्ज़ की समस्या हो सकती है। इस प्रकार की गांठ में दर्द नहीं होता, यदि इन पर दबाव डाला जाये तो हल्का दर्द महसूस होता है।

गांठ के लिए 4 घरेलू उपचार : Home Treatment For Lumps In Hindi

1. हल्दी (Use Turmeric On Lump)

गांठ की समस्या होने पर त्वचा पर हल्दी का लेप लगाएं। हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं जो सूजन और गांठ में उपयोगी होते हैं। इसके उपयोग से बैक्टीरिया भी दूर रहते हैं।

2. नींबू (Apply Lemon Juice To Cure Lump)

गांठ वाली जगह पर नींबू का रस लगाएं। नींबू में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सूजन व गांठ की समस्या में मददगार होता है।

3. सेब का सिरका (Apply Apple Cider Vinegar)

गांठ पर सेब का सिरका लगाना भी असरदार होता है। यह डेटॉक्स करने में मदद करता है जो हमारी इम्युनिटी को बढ़ाता है। बेहतर इम्युनिटी से रक्त संचार सही रहता है।

4. लहसुन (Use Garlic On Lump)

लहसुन का उपयोग गांठ पर फायदेमंद होता है। लहसुन में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं, जो चर्बी की गांठ को कम करने में मदद करते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।