Create
Notifications

भूमि आंवला के 5 फायदे - Bhui Amla Ke 5 Fayde

भूमि आंवला के 5 फायदे (फोटो - sportskeedaहिंदी)
भूमि आंवला के 5 फायदे (फोटो - sportskeedaहिंदी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

भूमि आंवला (Bhumi Amla) एक प्रकार का पौधा होता है जिसके औषधीय गुण होते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट, एंटीवायरल और हेपेटोप्रोटेक्टिव गुणों के कारण यह शरीर को लाभ देता है। इसके जड़ और पत्तियों के भिन्न लाभ बीमारियों को ठीक करने में देखे गए हैं। इस लेख में भूमि आंवला के फायदों के बारे में बताया जा रहा है। आइये इसके लाभ और गुणों के बारे में जानें।

भूमि आंवला के 5 फायदे

1. आंत संबंधित रोगों के लिए (for intestinal diseases)

भूमि आंवला आंतो के रोगों के लिए उपचार के रूप में काम आता है। उपयोग के लिए - सूखे हुए भूमि आंवला को कूट कर रखे लें, इस 10 ग्राम भूम्यामलकी को 1 गिलास पानी में पकाएं। इसका एक चौथाई बच जाने पर इसे छान कर खाली पेट पिएं। इसका सेवन खाली पेट सुबह और शाम को खाने से एक घंटे पहले कर सकते हैं। यह आंतों में होने वाले अल्सर को ठीक करने के लिए चमत्कारी औषधि है।

2. श्वांस की बीमारियों के लिए (Healthy for respiratory diseases)

सांस से जुड़े रोगो के लिए भूमि आंवला लाभदायक है। उपयोग के लिए - 10 ग्राम भूम्यामलकी जड़ को पानी के साथ पीस लें। मिश्रण तैयार करने के लिए 1 चम्मच शहद या मिश्री मिलाएं। इसके सेवन से श्वांस संबंधित रोगो को ठीक किया जा सकता है।

3. नेत्र रोगो के लिए (Good for eye diseases)

नेत्र संबंधित रोगो के लिए भूमि आंवला फायदेमंद होता है। उपयोग के लिए - एक तांबे के बर्तन में पानी डालें और उसमें भूमि आंवला को सेंधा नमक के साथ मिलाकर लेप तैयार करें। इस लेप को आँखों पर लगाएं, इससे नेत्र रोग में लाभ मिलेगा।

4. मुँह के छालों के लिए लाभदायक (Beneficial for mouth ulcers)

भूमि आंवला मुँह के छालों के फायदेमंद है। उपयोग के लिए - 50 ग्राम भूमि आंवला के पत्तों को आधा गिलास पानी के साथ मिलाकर काढ़ा बनाएं। इस काढ़े से कुल्ला करने से मुँह के छालें ठीक हो सकते हैं।

5. खुजली और चोट दर्द के लिए उपाय (Remedies for Itching and Bruising Pain)

यह खुजली के लिए रामबाण इलाजों में से एक है। उपयोग के लिए - भूमि आंवला के पत्तों को पीस कर इसमें नमक मिलाएं। इस लेप को खुजली वाली जगह पर लगाएं। यह लेप जांघो की खुजली पर भी लगाया जा सकता है और किसी अन्य चोट पर पत्तों को पीस कर बनाए गए लेप को सीधा लगाएं, यह दर्द कम करने में भी मददगार है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...