Create

धनिया के यह 5 फायदे जानकार आप इसका सेवन हमेशा करेंगे - Benefits Of Consuming Coriander

धनिया के यह 5 फायदे जानकार आप इसका सेवन हमेशा करेंगे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
धनिया के यह 5 फायदे जानकार आप इसका सेवन हमेशा करेंगे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

धनिया (Coriander) के पौधे की पत्तियां भारतीय खाना पकाने का एक अनिवार्य हिस्सा हैं। धनिया को सूप, सलाद, रसम, करी और दाल आदि में इस्तेमाल करते हैं। यह ब्लड शुगर के स्तर को विनियमित करने, लिवर और किडनी की रक्षा करने और उपयोगी एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रदान करने सहित अत्यधिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। धनिया हर रसोई में आसानी पाया जाता है। आइये इस लेख के माध्यम से हम और आप धनिया के 5 फायदों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

धनिया के यह 5 फायदे जानकार आप इसका सेवन हमेशा करेंगे - Benefits Of Consuming Coriander In Hindi

1. स्वस्थ दृष्टि को बढ़ावा देता है (Promotes healthy vision)

धनिया के पत्तों में विटामिन A, विटामिन C, विटामिन E और एंटीऑक्सीडेंट के कैरोटीनॉयड (carotenoid) वर्ग के अलावा विटामिन A की प्रचुर मात्रा होती है, जो आंखों की रोशनी में सुधार करती है। यह कंजंक्टिवाइटिस (conjunctivitis), धब्बेदार (macular) और उम्र से संबंधित दृष्टि के अपक्षयी विकारों (age-related degenerative disorders) को ठीक करने में भी प्रभावी है।

2. मधुमेह के लक्षणों का प्रबंधन करता है (Manages symptoms of diabetes)

धनिया के पत्तों में आहार फाइबर और प्रोटीन का महत्वपूर्ण स्तर ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। कुछ नींबू और शहद के साथ एक छोटा गिलास धनिया का रस पीने से भूख को नियंत्रित किया जा सकता है, वजन घटाने को बढ़ावा दिया जा सकता है और मधुमेह के लक्षणों को कम किया जा सकता है।

3. लिवर की शिथिलता का इलाज करे (Treat liver dysfunction)

धनिये के पत्तों में प्रचुर मात्रा में एल्कलॉइड (alkaloids) और फ्लेवोनोइड्स (flavonoids) लिवर की बीमारियों जैसे पीलिया और पित्त विकारों को ठीक करने में मदद करते हैं। यह उपयोगी हेपेटोप्रोटेक्टिव (hepatoprotective) लक्षण भी प्रदान करते हैं, यकृत के कार्य को बढ़ाते हैं और गुर्दे के माध्यम से शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते हैं।

4. बोन डेंसिटी को मजबूत करता है (Strengthens bone density)

धनिया के पत्तों में भरपूर मात्रा में संयोजी ऊतक-समृद्ध मिनरल, जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम और फास्फोरस होते हैं। इन पत्तों को दाल और सलाद में खाने से हड्डियों का घनत्व बहुत बढ़ जाता है।

5. पेट की समस्या के उपचार के रूप में (As a treatment for stomach problems)

धनिया के पत्तों में मौजूद एंथोसायनिन (anthocyanins) सूजन-रोधी (anti-inflammatory) गुणों को सक्षम करते हैं, जो पेट के अल्सर और अपच को ठीक करने में मदद करते हैं। धनिया के पत्ते खाने से गैस्ट्रिक म्यूकोसल स्राव (gastric mucosal secretions) का स्तर भी बढ़ता है, जिससे आंतों के स्वास्थ्य में सुधार होता है।

- धनिया के पत्ते, पारंपरिक स्थानीय देसी व्यंजनों जैसे दाल, सूप और सांबर को एक अनूठा स्वाद और एक ताज़ा खुशबू देने के अलावा, प्रमुख पोषक तत्व भी प्रदान करते हैं और कई तरह के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं। अपने वेजिटेबल सलाद या शाम के नाश्ते में हरे धनिया के पत्ते डालें, जो आपके स्वास्थ्य को बेहतर और तरोताज़ा कर देंगे।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment