Create

गोरखमुंडी से होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ - Gorakmundi Se Hone Wale 5 Swasthy Labh

गोरखमुंडी से होने वाले स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिंदी)
गोरखमुंडी से होने वाले स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिंदी)

गोरखमुंडी (Gorakhmundi) एक प्रकार का फल है, यह स्वाद में कड़वा और तीखा होता है लेकिन इसके स्वास्थ्य लाभ अनेक होते हैं। इसके फल और फूल दोनों ही औषधीय गुणों से भरपूर हैं। यह रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है व एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों से भरपूर होता है। आइये इस लेख के माध्यम से गोरखमुंडी के फायदों और स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of Gorakhmundi) को जानें।

गोरखमुंडी से होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ

1. थायराइड में दिलाए लाभ (benefits in thyroid)

थायराइड की समस्या होने पर गोरखमुंडी का उपयोग फायदेमंद होता है। उपयोग के लिए - गोरखमुंडी को पीसकर गले में मौजूद थायराइड ग्लैंड को राहत पहुंचाने के लिए गले पर लेप लगाएं, इससे थायराइड ग्रंथी में होने वाली सूजन में लाभ मिलते हैं।

2. खांसी का इलाज करें (treats dry cough)

गोरखमुंडी की जड़ का इस्तेमाल खांसी की दवा के रूप में भी किया जाता है। उपयोग के लिए - 1 से 2 ग्राम गोरखमुंडी की जड़ के चूर्ण को शहद के साथ मिला लें। इसके सेवन से सूखी खांसी में आराम मिलता है। या फिर इसकी पत्तियों के रस की 5ml मात्रा को दूध में उबालें और चीनी मिलाकर पिएं। यह उपाय भी खांसी की समस्या में लाभ देगा।

3. टीबी रोग के उपचार के लिए फायदेमंद (Beneficial for the treatment of TB disease)

गोरखमुंडी में मौजूद औषधीय गुण टीबी जैसी बीमारी की शुरूआती अवस्था में मददगार है। उपचार के रूप में उपयोग करने के लिए, गोरखमुंडी, मिश्री, कोकली द्रव्यों को दूध में उबालें और छान कर सेवन करें। इसके सेवन से खांसी, बुखार, जलन और टीबी के शुरुवाती लक्षणों में आराम मिलता है।

4. हृदय स्वास्थ्य के लिए (Good for heart health)

गोरखमुंडी के सेवन से हृदय रोग का ख़तरा कम हो सकता है। यह सीने में दर्द और चुभन की समस्या ठीक कर सकता है। उपयोग के लिए - आयुर्वेद के अनुसार, गोरखमुंडी के फलों का रस हृदय व आँखों की रक्षा के लिए अच्छा माना जाता है। प्रतिदिन 15 ml काढ़ा लेने से फायदे होते हैं। इस दौरान गर्म और खट्टी चीजों से बचना चाहिए।

5. जलन और सूजन के इलाज के लिए (To treat irritation and inflammation)

गोरखमुंडी का प्रयोग दवा के रूप में जलन और सूजन की समस्या में आराम दिलाता है। उपयोग के लिए, 10 ग्राम गोरखमुंडी फल और सेंधा नमक को 3 लीटर पानी में मिलाकर काढ़ा बनाएं और सेवन करें। प्रतिदिन सुबह सेवन करने से फायदे होंगे।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment