पीठ दर्द के लिए 5 घरेलू उपचार!

5 Home Remedies For Back Pain!
पीठ दर्द के लिए 5 घरेलू उपचार!

पीठ दर्द में असुविधा से लेकर गंभीर दर्द तक हो सकता है, और यह अक्सर दैनिक गतिविधियों में हस्तक्षेप करता है और जीवन की गुणवत्ता को कम कर देता है। पीठ दर्द के लिए विभिन्न प्राकृतिक उपचार मौजूद है जिन्हें घर पर भी किया जा सकता है।

आज हम पीठ दर्द के लिए ऐसे 5 प्रभावी घरेलू उपचारों पर चर्चा करेंगे जो राहत प्रदान कर सकते हैं, ध्यान दें:-

स्ट्रेचिंग और व्यायाम:

पीठ दर्द में हल्के स्ट्रेचिंग व्यायाम तनाव को दूर करने, रक्त प्रवाह को बढ़ाने और प्रभावित क्षेत्र में गतिशीलता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। हैमस्ट्रिंग, क्वाड्रिसेप्स, हिप फ्लेक्सर्स और पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियों में खिंचाव से रीढ़ की हड्डी पर तनाव कम हो सकता है और पीठ दर्द से राहत मिल सकती है।

गर्म और ठंडी चिकित्सा:

youtube-cover

प्रभावित क्षेत्र पर गर्मी या ठंडक लगाने से पीठ दर्द से अस्थायी राहत मिल सकती है। हीट थेरेपी, जैसे गर्म पानी की बोतल या हीटिंग पैड का उपयोग, रक्त प्रवाह को बढ़ाने, मांसपेशियों को आराम देने और कठोरता को कम करने में मदद करता है। दूसरी ओर, शीत चिकित्सा, क्षेत्र को सुन्न करने और सूजन को कम करने में मदद कर सकती है। दर्द वाली जगह पर आइस पैक को दिन में कई बार लगभग 15-20 मिनट तक लगाने से तीव्र पीठ दर्द को कम करने में मदद मिल सकती है।

हर्बल उपचार:

कई जड़ी-बूटियों में सूजन-रोधी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो पीठ दर्द के प्रबंधन में सहायता कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, हल्दी में करक्यूमिन नामक एक यौगिक होता है, जो दर्द और सूजन को कम करता है। अदरक एक और जड़ी बूटी है जो अपने सूजनरोधी गुणों के लिए जानी जाती है। अदरक की चाय का सेवन करने या ताजा अदरक को अपने आहार में शामिल करने से पीठ दर्द से राहत मिल सकती है।

सही मुद्रा और एर्गोनॉमिक्स:

गलत मुद्रा, जैसे झुकना या झुकना, पीठ की मांसपेशियों पर दबाव डाल सकता है और असुविधा पैदा कर सकता है। बैठते समय, पीठ सीधी, कंधे शिथिल और पैर फर्श पर सपाट रखना महत्वपूर्ण है। उचित काठ समर्थन के साथ एक एर्गोनोमिक कुर्सी का उपयोग करने से रीढ़ की प्राकृतिक वक्रता को बनाए रखने और पीठ दर्द को रोकने में भी मदद मिल सकती है।

तनाव प्रबंधन:

तनाव प्रबंधन!
तनाव प्रबंधन!

तनाव पीठ दर्द के विकास और तीव्रता में योगदान कर सकते हैं। ध्यान, गहरी साँस लेने के व्यायाम, या माइंडफुलनेस का अभ्यास करने जैसी तनाव कम करने वाली गतिविधियों में संलग्न होने से मांसपेशियों के तनाव को कम करने और विश्राम को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है। पीठ दर्द के प्रबंधन के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना भी आवश्यक है, क्योंकि नींद की कमी से दर्द के प्रति संवेदनशीलता बढ़ सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now