पीरियड्स के दौरान होने वाली 5 गलतियाँ जिनसे हर महिला को बचना चाहिए

पीरियड्स के दौरान होने वाली 5 गलतियाँ जिनसे हर महिला को बचना चाहिए (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
पीरियड्स के दौरान होने वाली 5 गलतियाँ जिनसे हर महिला को बचना चाहिए (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

मासिक धर्म एक महिला के जीवन का स्वाभाविक हिस्सा है, लेकिन इस दौरान कुछ आदतें स्वास्थ्य और आराम को प्रभावित कर सकती हैं। इन सामान्य गलतियों से बचने से मासिक धर्म को अधिक आरामदायक और स्वस्थ अनुभव में योगदान दिया जा सकता है।

आराम और स्वास्थ्य सुनिश्चित करने के लिए मासिक धर्म के प्रबंधन पर ध्यान और देखभाल की आवश्यकता होती है। यहां पांच सामान्य गलतियां हैं जिनसे महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान बचने की कोशिश करनी चाहिए:-

पीरियड्स के दौरान होने वाली 5 गलतियाँ जिनसे हर महिला को बचना चाहिए (5 mistakes made during periods which every woman should avoid in hindi)

1. सुगंधित उत्पादों का उपयोग करना: सुगंधित पैड, टैम्पोन या स्त्री स्वच्छता उत्पादों का उपयोग योनि के नाजुक पीएच संतुलन को बाधित कर सकता है। सुगंध से जलन, एलर्जी प्रतिक्रिया या संक्रमण हो सकता है, जैसे बैक्टीरियल वेजिनोसिस या यीस्ट संक्रमण। बिना सुगंध वाले उत्पादों का चयन करने से इन समस्याओं को रोकने में मदद मिल सकती है।

2. स्वच्छता प्रथाओं की अनदेखी: मासिक धर्म के दौरान उचित स्वच्छता की उपेक्षा करने से संक्रमण हो सकता है। बैक्टीरिया की वृद्धि और दुर्गंध को रोकने के लिए पैड या टैम्पोन को नियमित रूप से (हर 4-6 घंटे में) बदलना महत्वपूर्ण है। इसके अतिरिक्त, जननांग क्षेत्र को हल्के, बिना सुगंध वाले साबुन और पानी से धोने से स्वच्छता बनाए रखने में मदद मिलती है और संक्रमण का खतरा कम हो जाता है।

3. एक आकार सभी के लिए उपयुक्त दृष्टिकोण का उपयोग करना: हर महिला को पीरियड्स का अनुभव अलग-अलग तरह से होता है। प्रवाह भिन्नता पर विचार किए बिना पूरे चक्र में एक ही सैनिटरी उत्पादों का उपयोग करने से असुविधा या रिसाव हो सकता है। प्रवाह की तीव्रता (हल्का, नियमित, भारी) के आधार पर उत्पादों का चयन दुर्घटनाओं को रोकने में मदद करता है और आराम सुनिश्चित करता है।

4. आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को नजरअंदाज करना: मासिक धर्म के कारण खून की कमी हो सकती है, जिससे आयरन के स्तर में कमी आ सकती है। इस दौरान आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को नजरअंदाज करने से थकान और एनीमिया हो सकता है। हरी पत्तेदार सब्जियाँ, लाल मांस, बीन्स और फोर्टिफाइड अनाज जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन आयरन के स्तर को फिर से भरने और ऊर्जा बनाए रखने में मदद करता है।

5. स्व-देखभाल की अनदेखी: कई महिलाएं अपने पीरियड्स के दौरान खुद की देखभाल को नजरअंदाज कर देती हैं। आराम, उचित जलयोजन और पोषण को नजरअंदाज करने से ऐंठन और थकान जैसे मासिक धर्म के लक्षण बढ़ सकते हैं। पर्याप्त आराम करके, हाइड्रेटेड रहकर और पौष्टिक भोजन का सेवन करके आत्म-देखभाल को प्राथमिकता देने से मासिक धर्म के दौरान असुविधा कम हो सकती है और समग्र कल्याण को बढ़ावा मिल सकता है।

इन सामान्य गलतियों से बचकर, महिलाएं अपने मासिक धर्म के अनुभव को बढ़ा सकती हैं, आराम सुनिश्चित कर सकती हैं, स्वच्छता बनाए रख सकती हैं और अपने प्रजनन चक्र के इस प्राकृतिक चरण के दौरान समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकती हैं। स्वयं की देखभाल को प्राथमिकता देना और मासिक धर्म के दौरान विकल्पों के प्रति सचेत रहना अधिक आरामदायक और स्वस्थ मासिक धर्म अनुभव में योगदान कर सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment