सर्दियों में तिल के तेल के सेवन से मिलते हैं ये 5 जादुई फायदे

सर्दियों में तिल के तेल के सेवन से मिलते हैं ये 5 जादुई फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
सर्दियों में तिल के तेल के सेवन से मिलते हैं ये 5 जादुई फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

दीये जलाने तथा आध्यात्मिक उद्देश्यों के लिए आमतौर पर तिल के तेल को प्राथमिकता दी जाती है। लेकिन यह आपकी त्वचा के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है। कार्बनिक तिल का तेल (Sesame oil) आवश्यक फैटी एसिड जैसे लिनोलिक एसिड (linoleic acid), पामिटिक एसिड (palmitic acid) और ओलिक एसिड (oleic acid) में उच्च होता है। यह एंटीऑक्सिडेंट में उच्च होता है, जो आपकी त्वचा को लाभ पहुंचाता है। शीर्ष पर लगाने पर तेल आपकी त्वचा को गहराई से फिर से जीवंत करता है। यह आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज़ करता है और इसे एक स्वस्थ चमक देता है।

यह अपनी त्वचा को गोरा करने वाले गुणों के लिए भी जाना जाता है, इसलिए आप इसे अपनी त्वचा और चेहरे की देखभाल की दिनचर्या में शामिल कर सकते हैं। यह उन्हें हटाकर त्वचा की रंगत को बहाल करने में मदद करता है। यह जीवाणुरोधी भी है, इसलिए आप इसका उपयोग त्वचा की विभिन्न समस्याओं के इलाज के लिए कर सकते हैं। नतीजतन, जब त्वचा की बात आती है तो तिल का तेल एक बहुउद्देश्यीय तेल साबित होता है। तिल के तेल के 6 आश्चर्यजनक लाभ इस प्रकार हैं :-

youtube-cover

सर्दियों में तिल के तेल के सेवन से मिलते हैं ये 5 जादुई फायदे (Sesame Oil Benefits During Winter In Hindi)

समय से पहले बुढ़ापा रोकने में मदद करें (Help Prevent Premature Aging)

एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर, तिल के तेल का त्वचा पर उम्र उलटने वाला प्रभाव होता है। यह आपकी त्वचा को युवा दिखाने के साथ-साथ समय से पहले बूढ़ा होने से रोकने में मदद करता है। फैटी एसिड और विटामिन त्वचा पर बढ़े हुए छिद्रों, झुर्रियों और महीन रेखाओं को कम करते हुए क्षतिग्रस्त त्वचा कोशिकाओं की मरम्मत में मदद करते हैं। जब आपकी त्वचा पर नियमित रूप से लगाया जाता है, तो यह स्पष्ट रूप से महीन रेखाओं और झुर्रियों को दिखने से रोक सकता है।

UV विकिरण संरक्षण (UV radiation protection)

तिल का तेल एंटीऑक्सिडेंट में उच्च है, आपकी त्वचा कोशिकाओं पर मुक्त कणों और UV विकिरण के ऑक्सीकरण प्रभाव का प्रतिकार करता है। इसका उपयोग सनबर्न के इलाज के लिए भी किया जा सकता है। वैज्ञानिक अध्ययनों के अनुसार, तिल के तेल में संभावित रेडियोप्रोटेक्टिव एजेंट होते हैं और यह 30% तक UV किरणों का सामना कर सकता है।

मुँहासे का उपचार (Acne treatment)

तिल के तेल के जीवाणुरोधी गुण इसे ब्लैकहेड्स, व्हाइटहेड्स और अन्य प्रकार के जिद्दी मुंहासों को दूर करने के लिए एक उत्कृष्ट घरेलू उपाय बनाते हैं।

रूखी त्वचा को आराम पहुंचाता है (Soothes dry skin)

लिनोलिक एसिड और फैटी एसिड के शक्तिशाली संयोजन के कारण तेल शुष्क त्वचा के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र में से एक है। यह आपकी त्वचा पर एक सुरक्षात्मक परत बनाता है और नमी को अवशोषित करता है। यह आपकी त्वचा की उपस्थिति में भी सुधार करता है और आपकी त्वचा को नरम और चमकदार बनाता है।

त्वचा को बेबी सॉफ्ट और मॉइस्चराइज़ बनाता है (Leaves skin baby soft and moisturized)

जब आपके घर में तिल का तेल है, तो आपको अलग से बॉडी ऑयल खरीदने की जरूरत नहीं है। तिल का तेल आपकी त्वचा को मुलायम, चिकना और चमकदार बना सकता है। तेल में लिनोलिक एसिड और फैटी एसिड का शक्तिशाली संयोजन इसे शुष्क त्वचा के लिए सबसे अच्छा प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र बनाता है। वे नमी को फँसाने के लिए त्वचा पर एक पतली सुरक्षात्मक परत बनाते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar