Thyroid होने पर इन 5 चीज़ों का रखें ध्यान

Thyroid होने पर इन 5 चीज़ों का रखें ध्यान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
Thyroid होने पर इन 5 चीज़ों का रखें ध्यान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

थायरॉयड ग्रंथि (Thyroid gland) गर्दन में स्थित एक तितली के आकार का अंग है जो शरीर के चयापचय को नियंत्रित करने वाले हार्मोन का उत्पादन करता है। जब थायरॉयड ग्रंथि ठीक से काम नहीं कर रही है, तो यह वजन बढ़ने या घटने, थकान, बालों के झड़ने और मूड में बदलाव सहित कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती है। थायराइड की समस्या होने पर कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

youtube-cover

Thyroid होने पर इन 5 चीज़ों का रखें ध्यान (5 Things To Keep In Mind When You Have Thyroid In Hindi)

1. अपनी दवा निर्धारित अनुसार लें (Take your medication as prescribed)

यदि आपको थायराइड की स्थिति का निदान किया गया है, तो निर्धारित अनुसार अपनी दवा लेना आवश्यक है। थायराइड हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी अक्सर अंडरएक्टिव थायराइड वाले लोगों के लिए निर्धारित की जाती है, और हर दिन एक ही समय पर दवा लेना महत्वपूर्ण होता है। अपनी दवा की खुराक को छोड़ने या समायोजित करने से थायराइड हार्मोन का असंतुलन हो सकता है, जो आपके लक्षणों को और खराब कर सकता है।

2. स्वस्थ, संतुलित आहार लें (Eat a healthy, balanced diet)

एक स्वस्थ, संतुलित आहार खाना सभी के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन यह थायराइड की समस्या वाले लोगों के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और दुबले प्रोटीन से भरपूर आहार खाने से आपके थायरॉइड फंक्शन को सपोर्ट करने और आपके समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

3. कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन सीमित करें (Limit your intake of certain foods)

कुछ खाद्य पदार्थ थायरॉइड फ़ंक्शन में हस्तक्षेप कर सकते हैं, खासतौर पर वे जिनमें गोइट्रोजेन होते हैं। Goitrogens क्रूसिफेरस सब्जियों जैसे ब्रोकोली, केल, और फूलगोभी, साथ ही सोया उत्पादों, मूंगफली और स्ट्रॉबेरी में पाए जाने वाले यौगिक हैं। जबकि ये खाद्य पदार्थ आम तौर पर स्वस्थ और खाने के लिए सुरक्षित होते हैं, अगर आपको थायराइड की समस्या है तो इसका सेवन सीमित करने की सलाह दी जाती है।

4. तनाव प्रबंधन (Manage stress)

तनाव थायरॉयड ग्रंथि के कार्य को प्रभावित कर सकता है, इसलिए तनाव को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करना आवश्यक है। योग, ध्यान, या गहरी साँस लेने के व्यायाम जैसी तनाव कम करने वाली गतिविधियों में व्यस्त रहें। नियमित व्यायाम तनाव को प्रबंधित करने और थायरॉइड फ़ंक्शन को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकता है।

5. पर्याप्त नींद लें (Get enough sleep)

पर्याप्त नींद लेना सभी के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन थायराइड की समस्या वाले लोगों के लिए यह विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। नींद की कमी शरीर के हार्मोन संतुलन को बाधित कर सकती है, जिससे थायरॉयड असंतुलन और बिगड़ते लक्षण हो सकते हैं। प्रति रात 7-9 घंटे सोने का लक्ष्य रखें।

6. अपने लक्षणों पर नज़र रखें (Monitor your symptoms)

अपने लक्षणों पर नज़र रखें और किसी भी बदलाव की सूचना अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता को दें। नियमित निगरानी आपके थायरॉइड फ़ंक्शन में किसी भी बदलाव की पहचान करने और उचित उपचार समायोजन की अनुमति देने में मदद कर सकती है।

अंत में, थायरॉयड समस्याओं के प्रबंधन के लिए दवा, जीवनशैली में बदलाव और स्वयं की देखभाल के तरीकों के संयोजन की आवश्यकता होती है। अपनी दवा को निर्धारित अनुसार लेना, स्वस्थ, संतुलित आहार खाना, तनाव का प्रबंधन करना, पर्याप्त नींद लेना और अपने लक्षणों की निगरानी करना, ये सभी थायरॉयड समारोह का समर्थन करने और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए आवश्यक हैं। इन आदतों को अपनी दिनचर्या में शामिल करके आप अपनी थायरॉइड स्थिति को बेहतर ढंग से प्रबंधित कर सकते हैं और अपने जीवन की गुणवत्ता में सुधार कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar