6 संचारी रोग जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए!

6 Communicable Diseases You Should Know Abou!
6 संचारी रोग जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए!

संचारी रोग, जिसे संक्रामक या छूत के रोग के रूप में भी जाना जाता है, सूक्ष्मजीवों के कारण होने वाली बीमारियाँ हैं जो शारीरिक तरल पदार्थ, वायुजनित कणों या दूषित सतहों के संपर्क के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती हैं। ये रोग बैक्टीरिया, वायरस, परजीवी और कवक के कारण हो सकते हैं।

यहां 6 संचारी रोग हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए:

इन्फ्लुएंजा(Influenza):

इन्फ्लुएंजा, जिसे आमतौर पर फ्लू के रूप में जाना जाता है, एक वायरल श्वसन बीमारी है जो हर साल लाखों लोगों को प्रभावित करती है। यह इन्फ्लूएंजा वायरस के कारण होता है और श्वसन बूंदों या दूषित सतहों के संपर्क के माध्यम से प्रेषित किया जा सकता है। लक्षणों में बुखार, खांसी, गले में खराश, शरीर में दर्द और थकान शामिल हैं। हर साल टीका लगवाकर, हाथों की अच्छी स्वच्छता का अभ्यास करके और बीमार व्यक्तियों के साथ निकट संपर्क से बचकर फ्लू को रोका जा सकता है।

खसरा(Measles):

खसरा एक अत्यधिक संक्रामक वायरल बीमारी है जो सांस की बूंदों से फैलती है। लक्षणों में तेज बुखार, खांसी, नाक बहना और दाने शामिल हैं जो आम तौर पर चेहरे पर शुरू होते हैं और शरीर के बाकी हिस्सों में फैल जाते हैं। जटिलताओं में निमोनिया, एन्सेफलाइटिस और मृत्यु शामिल हो सकती है। खसरा, कण्ठमाला और रूबेला (MMR) के टीके लगवाकर खसरे को रोका जा सकता है।

youtube-cover

क्षय रोग (Tuberculosis):

क्षय रोग (टीबी) एक जीवाणु संक्रमण है जो मुख्य रूप से फेफड़ों को प्रभावित करता है। यह सांस की बूंदों से फैलता है और शरीर के अन्य हिस्सों, जैसे मस्तिष्क, रीढ़ और गुर्दे को भी प्रभावित कर सकता है। लक्षणों में खांसी, सीने में दर्द, बुखार और रात को पसीना आना शामिल हैं। बेसिल कैलमेट-गुएरिन (बीसीजी) वैक्सीन के साथ टीका लगवाकर और सक्रिय टीबी वाले लोगों के साथ निकट संपर्क से बचकर टीबी को रोका जा सकता है।

हेपेटाइटिस बी (Hepatitis B):

हेपेटाइटिस बी एक वायरल संक्रमण है जो लिवर को प्रभावित करता है। यह संक्रमित शारीरिक द्रव्यों, जैसे रक्त, वीर्य, या योनि स्राव के संपर्क में आने से फैलता है। लक्षणों में बुखार, थकान, भूख न लगना, मतली, उल्टी और पीलिया शामिल हो सकते हैं। क्रोनिक हेपेटाइटिस बी संक्रमण से लीवर फेलियर, सिरोसिस और लीवर कैंसर हो सकता है। हेपेटाइटिस बी का टीका लगवाने से हेपेटाइटिस बी को रोका जा सकता है।

 मलेरिया (Malaria)
मलेरिया (Malaria)

मलेरिया (Malaria):

मलेरिया एक परजीवी संक्रमण है जो संक्रमित मच्छर के काटने से फैलता है। लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, ठंड लगना और मांसपेशियों में दर्द शामिल हैं। गंभीर मामलों में, मलेरिया अंग विफलता, दौरे और कोमा का कारण बन सकता है। उप-सहारा अफ्रीका और दक्षिण एशिया जैसे उन क्षेत्रों की यात्रा से पहले और यात्रा के दौरान मलेरिया को रोका जा सकता है जहां मलेरिया आम है।

एचआईवी/एड्स (HIV/AIDS):

एचआईवी (ह्यूमन इम्युनोडेफिशिएंसी वायरस) एक वायरल संक्रमण है जो प्रतिरक्षा प्रणाली पर हमला करता है, जिससे शरीर के लिए अन्य संक्रमणों से लड़ना मुश्किल हो जाता है। यह संक्रमित शारीरिक तरल पदार्थ, जैसे रक्त, वीर्य, योनि स्राव, या स्तन के दूध के संपर्क में आने से फैलता है। एचआईवी अधिग्रहीत इम्यूनोडिफीसिअन्सी सिंड्रोम (एड्स) को जन्म दे सकता है, जो गंभीर संक्रमण, कैंसर और अन्य जटिलताओं की विशेषता है। यौन गतिविधि के दौरान कंडोम का उपयोग करके और संक्रमित शारीरिक तरल पदार्थों के संपर्क से बचने से एचआईवी को रोका जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now