Create

गले में छाले की समस्या से हैं परेशान, तो अपनाएं ये 6 घरेलू इलाज- Home Remedies For Throat Ulcers

गले में छाले की समस्या से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
गले में छाले की समस्या से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

गले में छाले (Throat Ulcer) की शिकायत होने पर काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। गले में छाले की शिकायत होने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे फंगल या वायरल इनफेक्शन, पेट से होने वाला एसिड रिफ्लक्स, पेट की खराबी आदि, गले में छाले होने की वजह से खाने-पीने, बोलने में भी काफी परेशानी होती है। बता दें कि छाले गले के पीछे वाले हिस्से में होते है। इनका आकार छोटा होता है। यह दिखने में लाल रंग के होते हैं और इनपर सफेद रंग के धब्बे भी होते है। लेकिन अगर गले में छाले की शिकायत ज्यादा दिन तक बनी रहे, तो आपको लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए और डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिए। वहीं शुरुआत में ही लक्षण दिखने पर आप इन घरेलू नुस्खों को अपना सकते हैं, तो आइए जानते हैं गले में छाले की शिकायत होने पर कौन-कौन से घरेलू इलाजों को अपनाना चाहिए।

गले में छाले की समस्या से हैं परेशान, तो अपनाएं ये 6 घरेलू इलाज- Home Remedies For Throat Ulcers In Hindi

फिटकरी

फिटकरी (Alum) का इस्तेमाल दांत दर्द होने पर किया जाता है, लेकिन अगर आप गले में छाले की शिकायत है, तो भी आप फिटकरी का उपयोग कर सकते हैं। क्योंकि फिटकरी एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है, इसलिए अगर आप फिटकरी के पानी से गरारा करते हैं, तो इससे छाले की समस्या दूर होती है।

तुलसी के पत्ते

तुलसी के पत्ते (Tulsi Leaves) औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं, तुलसी के पत्ते में एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, इसलिए गले में छाले की समस्या होने पर अगर आप 4-5 तुलसी के पत्ते को चबाकर खाते हैं, तो इससे छाले की समस्या में आराम मिलता है।

शहद

शहद (Honey) का सेवन सेहत को कई लाभ पहुंचाता है। क्योंकि शहद औषधीय गुणों से भरपूर होता है। शहद में एंटी बैक्टीरियल गुण भी पाए जाते हैं, इसलिए अगर आप शहद के पानी से गरारे करते हैं, तो इससे छाले की समस्या दूर होती है।

अदरक और शहद

गले में छाले की शिकायत होने पर अदरक (Ginger) और शहद (Honey) का सेवन फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अदरक और शहद गले में होने वाले संक्रमण से निजात दिलाते हैं, साथ ही छालों को भी दूर करने में भी मदद करते हैं।

ग्रीन टी

गले में छाले की समस्या होने पर ग्रीन टी (Green Tea) का सेवन फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि ग्रीन टी एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है, जो इन्फेक्शन को कम करने में मदद करते हैं। जिससे छाले की शिकायत भी दूर होती है।

मुलेठी

गले में छाले की शिकायत होने पर मुलेठी (Mulethi) का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि मुलेठी में एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो छाल में होने वाले दर्द और जलन को दूर करने में मददगार साबित होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...