गला खराब होने पर ज़रूर करें ये 6 घरेलू इलाज

गला खराब होने पर ज़रूर करें ये घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गला खराब होने पर ज़रूर करें ये घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

गले में खराश एक आम बीमारी है जो वायरल या जीवाणु संक्रमण, एलर्जी, और सिगरेट के धुएं या प्रदूषण जैसे परेशानियों के संपर्क में आने सहित कई कारकों के कारण हो सकती है। जहां गले में खराश के इलाज के लिए कई ओवर-द-काउंटर दवाएं उपलब्ध हैं, वहीं कई घरेलू उपचार भी हैं जो बेचैनी को कम करने में मदद कर सकते हैं।

youtube-cover

गला खराब होने पर ज़रूर करें ये 6 घरेलू इलाज - 6 Home Remedy For Sore Throat In Hindi

नमक के पानी से गरारे करना (Gargling with salt water): गले में खराश के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक नमक के पानी से गरारे करना है। एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिलाकर कुछ मिनटों तक गरारे करने से सूजन को कम करने और बैक्टीरिया या वायरस को मारने में मदद मिल सकती है जो दर्द का कारण हो सकता है। यह लिम्फ नोड्स की सूजन को कम करने में भी मदद करता है।

शहद और नींबू (Honey and lemon): गले की खराश के लिए एक और लोकप्रिय घरेलू उपाय शहद और नींबू का मिश्रण है। नींबू में पाए जाने वाले विटामिन सी के साथ शहद के जीवाणुरोधी गुण गले की खराश को शांत करने और प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। मिश्रण बनाने के लिए एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच शहद और आधे नींबू का रस मिलाकर धीरे-धीरे घूंट-घूंट कर पीएं।

स्टीम इनहेलेशन (Steam inhalation): गले में खराश के इलाज में भाप लेना भी मददगार हो सकता है। भाप बलगम को ढीला करने और गले में सूजन को कम करने में मदद करती है। आप एक कटोरी में गर्म पानी भरकर और नीलगिरी के तेल या पेपरमिंट के तेल की कुछ बूंदों को मिलाकर अपना खुद का स्टीम इनहेलेशन बना सकते हैं। अपने सिर को तौलिये से ढक लें और कुछ मिनटों के लिए भाप में सांस लें। यदि आपके पास ह्यूमिडिफायर या स्टीम वेपोराइज़र है तो आप उसका उपयोग भी कर सकते हैं।

अदरक (Ginger): गले की खराश के लिए एक और प्राकृतिक उपाय है अदरक। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीवायरल गुण होते हैं जो सूजन और दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं। आप अदरक के एक टुकड़े को कद्दूकस करके पानी में कुछ मिनट तक उबाल कर अदरक की चाय बना सकते हैं, या आप अदरक के टुकड़े को चबा सकते हैं।

हल्दी (Turmeric): हल्दी एक ऐसा मसाला है जो अपने जलनरोधी गुणों के लिए जाना जाता है। गर्म दूध में हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से गले की खराश और सूजन कम होती है। हल्दी लेने का दूसरा तरीका यह है कि इसे शहद में मिलाकर पेस्ट बना लें और इसका सेवन करें।

जलन पैदा करने वाली चीजों से बचें (Avoid irritants): गले की खराश को बदतर बनाने से बचने के लिए, उन चीजों से बचना जरूरी है जो गले को परेशान कर सकती हैं, जैसे कि सिगरेट का धुआं, प्रदूषण और शुष्क हवा। यदि आप इन अड़चनों के संपर्क में हैं, तो जितना हो सके अपने जोखिम को सीमित करने का प्रयास करें।

इन घरेलू उपचारों के अलावा, गले में खराश होने पर हाइड्रेटेड रहना और भरपूर आराम करना महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, यदि आपके गले में खराश के साथ बुखार, निगलने में कठिनाई या गंभीर दर्द है, तो अधिक गंभीर अंतर्निहित स्थिति का पता लगाने के लिए डॉक्टर को दिखाना एक अच्छा विचार है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now